World

राष्‍ट्रपति रहते हुए सरकारी दस्‍तावेजों को फाड़कर टॉयलेट में फ्लश कर देते थे ट्रंप, किताब में खुलासा

white-house-staffers-think-trump-blocked-a-toilet-by-flushing-wads-of-printed-paper
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

अमेरिका के पूर्व राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप का पूरा कार्यकाल विवादों से भरा रहा है। अब वह राष्‍ट्रपति नहीं हैं, लेकिन विवादों से उनका नाता अब भी जुड़ा हुआ है। ताजा है विवाद न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स की पत्रकार मैगी हैबरमैन की किताब ‘कॉन्फिडेंस मैन’ (Confidence Man) में हुए खुलासे के बाद खड़ा हुआ है। पत्रकार मैगी का दावा है कि राष्‍ट्रपति पद पर रहते हुए डोनाल्‍ड ट्रंप ने सरकारी दस्‍तावेजों को फाड़कर व्‍हाइट हाउस के टॉयलेट में फ्लश कर दिया था। खबर के मुताबिक, ट्रंप ने इतने दस्‍तावेज फाड़कर डाले थे कि टॉयलेट जाम हो गया था। इस खुलासे पर अब डोनाल्‍ड ट्रंप की प्रतिक्रिया आई हैं।

ट्रंप ने कहा, “ये एक और फेक स्‍टोरी है कि मैंने व्‍हाइट हाउस के टॉयलेट में पेपर और दस्‍तावेजों को फाड़कर फ्लश किया। निश्चित रूप से यह झूठ है और रिपोर्टर ने अपनी बेहद काल्‍पनिक किताब की पब्लिसिटी के लिए यह सब किया है।” ट्रंप ने आगे कहा, “बाइडेन एडमिनिस्‍ट्रेशन में हमारा देश कितने बुरे तरीके से काम कर रहा है।

यह भी पढ़ें -: लखीमपुर हिंसा केस मैं केंद्रीय मंत्री पुत्र आशीष को मिली हाई कोर्ट ने जमानत

अब किताब के दावे पर चलते हैं। मैगी ने किताब में दावा किया है कि व्‍हाइट हाउस के स्‍टाफ को ट्रंप का टॉयलेट अकसर जाम मिलता था। ऐसा कई बार हुआ। व्‍हाइट हाउस का मानना था कि ट्रंप पेपर फाड़कर टॉयलेट में डाल देते हैं। ब्‍लूमबर्ग की पत्रकार जेनिफर जेकब्‍स ने भी इस मुद्दे पर ट्वीट किया है। उन्‍होंने लिखा कि ट्रंप भले ही इस खबर को गलत बता रहे हैं, लेकिन मैगी की रिर्पोटिंग 100 प्रतिशत सही है।

उन्‍होंने लिखा, “उस समय स्‍टाफ को टॉयलेट जाम मिलता था, उसमें पेपर्स भी मिलते थे, स्‍टाफ से मुझे भी इस बारे में जानकारी मिली थी। सबको पूरा यकीन था कि वो ट्रंप ही थे जो टॉयलेट में पेपर फाड़ते थे। बिजनेस इनसाइडर की रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका के किसी भी राष्‍ट्रपति के कार्यकाल के समय के डॉक्‍यूमेंट्स यूएस नेशनल आर्काइव्‍स के पास सुरक्षित रखे जाते हैं। लेकिन ट्रंप के कार्यकाल के अंतिम दौर काफी दस्‍तावेज मिसिंग हैं।

यह भी पढ़ें -: रिश्वत लेते पकड़े जाने पर बोली महिला अधिकारी- मंदिर में कोई प्रसाद चढ़ाने आता है तो उसे मना नहीं कर सकते

ट्रंप से एक कमेटी ने दस्‍तावेजों को हैंडओवर करने के लिए कहा है। इनमें से कुछ रिकॉर्ड को कमेटी ने हासिल किया है, जो कि फटे हुए थे, इन्‍हें जब जोड़ा गया है।

नेशनल अर्काइव्‍स ने बताया कि हाल ही में ट्रंप से वो लेटर्स भी प्राप्‍त किए गए हैं, जो उनके और नॉर्थ कोरियन लीडर किम जोंग उन को भेजे गए थे। ट्रंप जब जनवरी 2021 को गए थे तब इन लेटर्स को साथ ले गए थे। नेशनल आर्काइव्‍स ने जस्टिस डिपार्टमेंट से इस मामले की जांच करने की भी मांग की है, क्‍योंकि कानूनी तौर पर वह ऐसा नहीं कर सकते हैं, अगर उन्‍होंने ऐसा किया है तो इसका मतलब उन्‍होंने कानून को तोड़ा है।

यह भी पढ़ें -: बुलेट से आ रही थी पटाखें फ़ूटने की आवाज, पुलिस ने काट दिया 22 हजार का चालान

यह भी पढ़ें -: राणा अयूब पर मनी लॉन्ड्रिंग के तहत केस दर्ज, ED ने जब्त किए 1.77 करोड़ रुपए

सोर्स – jansatta.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-