Politics

एक साल मैं ही उत्तराखंड के CM तीरथ सिंह रावत देंगे इस्तीफा, राज्यपाल से मुलाकात के लिए किया आग्रह

uttarakhand-chief-minister-tirath-rawat-set-to-resign
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री तीरथ सिंह रावत इस्तीफा दे सकते हैं. जानकारी के अनुसार, उन्‍होंने राज्यपाल से मुलाकात के लिए समय मांगा है. ऐसी चर्चाएं है कि वे सीएम पद से इस्‍तीफा देंगे. गौरतलब है कि दिल्ली में डेरा जमाए बैठे उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के इस्‍तीफे की अटकलें उस समय जोर पकड़ने लगी थी जब उन्‍होंने शुक्रवार को बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के घर जाकर मुलाक़ात की थी.

बीते तीन दिनों में दोनों नेताओं की यह दूसरी मुलाक़ात है, इस मुलाकात के बाद यह चर्चाएं उठने लगी थीं कि कहीं ये उत्‍तराखंड में फिर से सत्ता परिवर्तन की आहट तो नहीं है?

ये भी पढ़ें -: बिहार सरकार का एक औऱ कारनामा, मौत के दो महीने बाद अधिकारी का किया ट्रांसफर

तीरथ सिंह तीन दिन से दिल्ली में हैं. हालांकि जिस दिन वह आए उसी रात केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से उनकी मुलाक़ात हो गई थी और अगले दिन उन्हें देहरादून वापस जाना था.लेकिन अचानक वापसी का कार्यक्रम टल गया जिसके बाद से उनको बदले जाने की चर्चाओं ने तेजी पकड़ ली थी.

गौरतलब है कि रावत ने इसी साल मार्च में उत्‍तराखंड का मुख्‍यमंत्री पद संभाला था. तीरथ सिंह को सीएम पद से इसलिए हटना पड़ रहा है क्‍योंकि मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालने के छह महीने के अंदर यानी 10 सितंबर तक उनका विधायक बनना ज़रूरी है. उत्तराखंड की दो सीटों पर उपचुनाव भी होने हैं लेकिन कोरोना महामारी को लेकर फ़िलहाल उपचुनाव पर चुनाव आयोग की रोक है.

ये भी पढ़ें -: इलाहाबाद हाईकोर्ट मैं गंगा जल से तैयार कोरोना वैक्सीन के क्लिनिकल ट्रायल की अनुमति के लिए याचिका दायर

ऐसे में यह उपचुनाव को लेकर स्थिति स्‍पष्‍ट नहीं है.बीजेपी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात के बाद उत्‍तराखंड में उपचुनाव को लेकर सवाल पर तीरथ सिंह रावत ने कहा था कि उप चुनाव का विषय चुनाव आयोग का है. चुनाव आयोग जब भी निर्णय लेगा, उपचुनाव होंगे. चुनाव आयोग जो भी फैसला करेगा, वह स्वीकार होगा.

ये भी पढ़ें -: सुखबीर ने सिद्धू को कहा- दिशाहीन मिसाइल, तो सिद्धू बोले- आपका भ्रष्ट कारोबार खत्म करना है

ये भी पढ़ें -: बेलगाम महँगाई पर लोग बोले- ऐसा शेर पाल लिया कि अब बच्चे पालना हुआ मुश्किल

सोर्स – ndtv.in


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-