Politics

UP सरकार में मंत्री राकेश सचान गिट्टी चोरी के मामले में दोषी करार, फैसला आने से पहले हुए गायब

20220806 183414 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Minister Rakesh Sachan convicted in ballast theft case: उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री राकेश सचान को कानपुर की एसीएमएम-III कोर्ट ने गिट्टी चोरी के एक मामले में दोषी करार देते हुए फैसला सुरक्षित रख लिया है। हालांकि, फैसला आने से पहले ही मंत्री राकेश सचान कोर्ट से गायब हो गए। गिट्टी चोरी के मामला कई सालों से कोर्ट में विचाराधीन था।

मिली जानकारी के मुताबिक, सालों पुराने इस मामले में योगी सरकार के मंत्री राकेश सचान ने शनिवार को कोर्ट में बहस से पहले ही आत्मसमर्पण किया था। इस केस में सुनवाई तो हुई लेकिन फैसला आने से पहले ही मंत्री राकेश सचान कोर्ट से गायब हो गए। जिसके बाद कोर्ट में हड़कंप मच गया। इसी मामले में मंत्री राकेश सचान के वकील पर भी कथित तौर पर गंभीर आरोप है कि वह भी आदेश की कॉपी छीनकर कोर्ट से भाग निकले।

ये भी पढ़ें -: ‘हर हर शंभू’ गाने वाली फरमानी नाज ने अब रिलीज की नज़्म- कोई नबी नहीं मेरे सरकार की तरह…

दरअसल, यह मामला तब का है जब राकेश सचान रेलवे में ठेकेदारी किया करते थे। 35 साल पुराने गिट्टी चोरी के इस मामले में राकेश सचान के खिलाफ आइपीसी की धारा 389 और 411 में मुकदमा दर्ज किया गया था। इस मामले में बाद में चोरी हुई गिट्टी की बरामदगी भी हो गई थी। इसी मामले में आज कोर्ट ने योगी सरकार में मंत्री राकेश सचान को दोषी करार दिया गया है।

कानपुर के किदवई नगर इलाके के रहने वाले राकेश सचान ने अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत समाजवादी पार्टी से की थी। इसके बाद साल 2019 लोकसभा चुनाव में वे सपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो गए थे। इस पार्टी परिवर्तन की वजह के पीछे बताया गया था कि लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान सपा-बसपा गठबंधन के समय फतेहपुर सीट पर बसपा का प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतरा था, जिससे वह नाराज हो गए थे।

ये भी पढ़ें -: होटल बुक करने पर GST दी? अब बुकिंग कैंसिल पर भी GST दो जितना बुकिंग के टाइम दिया था

इस नाराजगी के बीच उन्होंने अपने समस्या अखिलेश यादव के सामने भी रखी थी लेकिन गठबंधन के चलते उनकी नहीं चली। ऐसे में उन्होंने सपा की साइकिल से उतरकर कांग्रेस पार्टी में चले गए थे। करीब 2 सालों तक कांग्रेस के साथ रहने वाले राकेश सचान साल 2022 में बीजेपी में शामिल हो गए थे। जिसके बाद राकेश सचान ने कानपुर देहात के भोगनीपुर चुनाव जीते थे और योगी सरकार में उन्हें कैबिनेट मंत्री बनाया गया था।

ये भी पढ़ें -: पति के पैरों की पूजा करने पर ट्रोल हुई थीं एक्ट्रेस, अब दिया ये जवाब…

ये भी पढ़ें -: श्रीकांत त्यागी वीडयो वायरल होने के बाद हुवा फ़रार, CM योगी ने कही ये बात…

ये भी पढ़ें -: 35 घंटे बाद पेड़ से उतारा गया साधु का शव, BJP MLA पर FIR के बाद राजी हुए समर्थक


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-