India

बेरोजगार लड़के ने सेना में लेफ्टिनेंट बताकर की सगाई, पोल खुली तो लड़की को…

unemployed-boy-engaged-as-lieutenant-in-army-in-gwalior-when-pole-opened-ran-away-with-girl
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

मुरैना के एक शख्स ने खुद को सेना का लेफ्टिनेंट बताकर ग्वालियर में रहने वाली एक लड़की (fake army lieutenant engaged with girl) से सगाई कर ली। इसके बाद जब लड़की वालों को पता लगा कि जिसे वह अपना दामाद बनाने वाले हैं, वह सेना में लेफ्टिनेंट ही नहीं है। लड़की वालों ने लड़के से सगाई (lieutenant ran with girl) तोड़ दी लेकिन फर्जी लेफ्टिनेंट लड़की को बहला-फुसलाकर अपने साथ भगा ले गया।

आरोपी के खिलाफ बहोड़ापुर थाने में एफआइआर भी दर्ज की गई है। आर्मी की वर्दी पहने लड़के की तस्वीर भी सामने आई है। पुलिस आरोपी की तलाश शुरू कर दी है। दरअसल, मुरैना निवासी गुड्डू राठौर ने ग्वालियर के कोटेश्वर मोहल्ले में रहने वाले सुरेंद्र सिंह राठौर को बताया था कि उनका बेटा सुनील राठौर सेना में लेफ्टिनेंट है। यह जानकर सुरेंद्र सिंह ने अपनी बेटी की सगाई सुनील के साथ तय कर दी।

ये भी पढ़ें -: ताजमहल मामले मैं हाईकोर्ट की याचिकाकर्ता को फ़टकार, कहा- पहले यूनिवर्सिटी जाओ, पढ़ाई करो तब आना

रीति रिवाज के साथ सभी रस्म भी अदा कर दी गई। अंगूठी भी बदल दी गई। इसके साथ ही होने वाले दामाद को सुरेंद्र सिंह ने अंगूठी और सोने की चेन भी भेंट कर दी। इसके बाद लड़का-लड़की के बीच फोन पर बातचीत भी शुरू हो गई। इतना ही नहीं होने वाला दामाद ससुराल भी आने जाने लगा। कुछ दिनों बाद लड़की के पिता सुरेंद्र को यह शक हुआ कि उसे जो बताया गया है, वह सही बात नहीं है। सुनील के लेफ्टिनेंट होने की जानकारी के लिए सुरेंद्र सिंह ने सेना में संपर्क किया तो उनके होश उड़ गए।

उन्हें मालूम हुआ कि जिस सुनील को सेना में लेफ्टिनेंट समझकर अपनी बेटी की सगाई की है, वह सुनील तो बेरोजगार है। यह सुनकर सुरेंद्र ने सगाई तोड़ दी। वहीं, सुनील अपनी मीठी-मीठी बातों में लड़की को फंसा चुका था। यही वजह रही कि लड़की सुनील के झांसे में आ गई और सुनील लड़की को लेकर भाग गया।

ये भी पढ़ें -: BJP सांसद बोले- अयोध्या छोड़ दीजिए UP की धरती को छू नहीं पाएगा राज ठाकरे

लड़की के पिता सुरेंद्र सिंह ने इस बात की शिकायत बहोड़ापुर थाने में की है। पुलिस ने सुनील के खिलाफ प्रकरण पंजीबद्ध करते हुए उसकी तलाश शुरू कर दी है।

ग्वालियर एडिशनल एसपी अभिनव चौकसे ने बताया कि पहले युवती को झांसा दिया कि लड़का फौज में अधिकारी है। बाद में उसके माता-पिता को पता चला कि उनके साथ धोखा हुआ है। इसके बाद उन्होंने थाने में आकर रिपोर्ट दर्ज करवाई है। युवक के खिलाफ अपराध दर्ज किया गया है। हमलोग मामले की जांच कर रहे हैं। साथ ही आरोपी की तलाश की जा रही है।

ये भी पढ़ें -: कोटा के सरकारी अस्पताल में पहला किडनी ट्रांसप्लांट हुवा सफल, मां ने बेटे को दान की किडनी

ये भी पढ़ें -: मथुरा श्रीकृष्ण जन्मभूमि विवाद पर इलाहाबाद HC ने दिए निर्देश, पढ़ें विस्तार से…

ये भी पढ़ें -: अदालत से आए 4 धार्मिक विवादों से जुड़े फैसले- कहीं मुस्लिम पक्ष को झटका, कहीं हिंदू पक्ष को फटकार

सोर्स – navbharattimes.indiatimes.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-