India

UIDAI के नए नियम- आधार अपडेट हर 10 साल में, पहचान और पते का सबूत देना होगा

20221111 161723 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

भारत सरकार ने आधार में एनरोलमेंट और अपडेट के नियम बदले हैं। जिन लोगों ने 10 साल पहले आधार नंबर के लिए एनरोल कराया था, उन्‍हें पहचान और पते का सबूत जमा करने को कहा गया है। फिलहाल सरकार इस पूरी कवायद को आपकी मर्जी पर छोड़ रही है। मतलब नए दस्‍तावेज देना या ना देना आपके ऊपर है। यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) ने कुछ महीने पहले 40 जिलों में पायलट शुरू किया था। अब इसे देशभर में लॉन्‍च किया जा रहा है। आधार सेवा केंद्रों या कैम्‍पों में जाकर आधार में अपडेट करा सकते हैं। आधार को ऑनलाइन अपडेट करने की भी सुविधा है। सरकार अब आधार अपडेट क्‍यों करा रही है? आप कैसे करा सकते हैं? आधार अपडेट कराने के लिए कितना चार्ज देना होगा? नए नियमों से जुड़ी हर बात जानिए।

सरकार के अनुसार, अबतक 134 करोड़ आधार जारी किए जा चुके हैं। इनमें से बहुतों के पते व अन्‍य जानकारियां, मोबाइल नंबर इत्‍यादि बदल चुके हैं। अगर 10 साल पहले आधार बनवाते समय कोई 14-15 साल का रहा हो तो उसके हुलिए में काफी बदलाव आ चुका होगा। सरकार के अनुसार, आधार जैसे जरूरी दस्‍तावेज में अपडेटेड जानकारियां होनी चाहिए। लब्‍बोलुआब यह है कि अगर आपके आधार में जानकारी अपडेट नहीं हैं तो करवा लें। फिर चाहे वह पता हो या फोन नंबर या फिर सूरत।

आधार में अपडेट कराने के दो तरीके हैं- ऑनलाइन और ऑफलाइन। इस कवायद के लिए UIDAI की तरफ से जगह-जगह कैंप लगाए जाएंगे। इसके अलावा आधार सेवा केंद्रों पर भी जा सकते हैं। अगर ऑनलाइन प्रोसेस फॉलो करना चाहें तो myAadhaar पोर्टल और ऐप पर जा सकते हैं। आधार में किसी तरह का अपडेट कराने पर चार्ज लगता है। अगर ऑफलाइन अपडेट करा रहे हैं तो 50 रुपये का शुल्‍क देना होता है। आधार में ऑनलाइन अपडेट कर आप 25 रुपये बचा सकते हैं। ऑनलाइन अपडेट रिक्‍वेस्‍ट का चार्ज 25 रुपये है।

ये भी पढ़ें -: लालू यादव को किडनी डोनेट करेंगी बेटी रोहिणी, सिंगापुर जाएंगे RJD सुप्रीमो

अगर आपको बायोमीट्रिक डेटा में चेंज कराना है तो आधार सेवा केंद्र ही जाना होगा। इसके अलावा मोबाइल नंबर में बदलाव के लिए भी आधार सेंटर जाना पड़ेगा। आधार कार्ड एक जरूरी दस्तावेज है। मौजूदा वक्त में हर किसी के पास आधार कार्ड होगा। लेकिन आधार कार्ड से फ्रॉड की घटनाओं में लगातार इजाफा दर्ज किया जा रहा है। आधार सरकारी योजनाओं के साथ ही बैंकिंग सुविधाओं से जुड़ा होता है। ऐसे में आधार कार्ड के इस्तेमाल को लेकर सतर्कता बरतना जरूरी होता है। ऐसे में UIDAI की तरफ से आधार को सुरक्षित बनाने के कुछ टिप्स जारी किए हैं।

UIDAI ने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल एक ट्वीट करके UIDAI हेल्पलाइन नंबर 1947 जारी किया है। अगर आप आधार कार्ड होल्डर हैं, तो आपको फोन में 1947 नंबर जरूर सेव कर लेना चाहिए। इस नंबर पर आधार कार्ड होल्कर कभी भी कॉल करके जानकारी हासिल कर सकते हैं। इन नंबर पर कॉल करके घर बैठे आधार से जुड़ी सारी डिटेल हासिल कर सकते हैं। इसके अलावा यूजर्स help@uidai.gov.in पर ई-मेल कर सकते हैं।

UIDAI ने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल आधार कार्ड से जुड़ी डिटेल साझा की, जिसके मुताबिक अगर कोई आपको फोन कॉल, सोशल मीडिया, ई-मेल, वॉट्सऐप से आधार अपडेट की बात कहें, तो आपको सतर्क हो जाना चाहिए। साथ ही किसी के साथ आधार के नाम पर पर्सनल डिटेल्स या डॉक्यूमेंट्स नहीं साझा करना चाहिए।

आधार कार्ड के नाम पर होने वाले फ्रॉड से बचने के लिए यूजर्स को ध्यान रखना चाहिए कि आधार अपडेट के दो ही तरीके हैं। पहला तरीका ऑनलाइन और दूसरा तरीका ऑफलाइन है। ऑनलाइन अपडेट यूजर्स खुद करते हैं। इसके लिए आपको UIDAI की ऑफिशियल वेबसाइट या फिर m-Aadhaar पर विजिट करना होता है। वही अगर आप आधार कार्ड को ऑफलाइन अपडेट करना चाहते हो, तो आपको आधार सेंटर पर विजिट करना होगा। बता दें कि इन दोनों के अलावा कोई आधार कार्ड अपडेट का कोई तीसरा तरीका नहीं है।

ये भी पढ़ें -: ‘द कश्मीर फाइल्स’ वाले विवेक अग्निहोत्री अब लाए हैं ‘द वैक्सीन वॉर’, लोग कर रहे है तरह-तरह की बातें…

ये भी पढ़ें -: रविंद्र जडेजा की पत्नी रिवाबा को BJP ने जामनगर नॉर्थ से दिया टिकट


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-