ज्ञानवापी मामले में तसलीमा नसरीन ने दी ऐसी सलाह कि होने लगी ट्रोल

ज्ञानवापी मामले में तसलीमा नसरीन ने दी ऐसी सलाह कि होने लगी ट्रोल
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Taslima Nasreen tweet on Gyanvapi Masjid: वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे का काम पूरा हो गया है और आज (17 मई) वाराणसी कोर्ट में इसकी फाइनल रिपोर्ट पेश की जाएगी. इस बीच बांग्लादेश की जानी-मानी लेखिका तसलीमा नसरीन ने ट्वीट कर ज्ञानवापी मस्जिद के मामले में सलाह दी है, जिसके बाद ट्विटर यूजर्स ने उनकी क्लास लगा दी.

तसलीमा नसरीन (Taslima Nasreen) ने ट्वीट कर कहा, ‘सभी के लिए एक बड़ा सा प्रार्थना स्थल होना बेहतर है. इसमें 10 कमरे हों. एक कमरा हिंदुओं (सभी जातियों) के लिए, एक कमरा मुस्लिमों (सभी संप्रदायों) के लिए, एक कमरा ईसाइयों (सभी संप्रदायों) के लिए, एक बौद्ध के लिए, एक सिख के लिए और एक यहूदी के लिए, एक कमरा जैन के लिए और एक पारसी के लिए. एक लाइब्रेरी, आंगन, बालकनी और टॉयलेट और प्लेरूम हो.

ये भी पढ़ें -: पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम के दिल्ली, मुंबई, चेन्नई आवास पर CBI के छापे, कार्ति ने कही ये बात

सभी के लिए एक प्रार्थना हॉल बनाने की सलाह देने के बाद तसलीमा नसरीन (Taslima Nasreen) को ट्रोल का सामना करना पड़ा और लोगों ने जमकर उनकी क्लास लगा दी. एक यूजर ने कहा, ‘एक हिंदू मंदिर एक भगवान का निवास है, जहां उनकी प्राण प्रतिष्ठा होती है. यह अन्य धर्मों के प्रार्थना हॉल की अवधारणा से अलग है.’ वहीं एक अन्य यूजर ने कहा, ‘अंदर से बहुत दुखी लग रही हो, जय हो ज्ञानवापी मंदिर.

एक अन्य यूजर ने तसलीमा नसरीन के पोस्ट पर कहा, ‘नहीं धन्यवाद. इसे पाकिस्तान और बांग्लादेश में लागू किया जाना चाहिए. आपके फॉर्मूले के बिना भारतीय ठीक हैं. भारत में बैठकर आप इस प्रकार की मुफ्त सलाह दे सकती हैं, कृपया बांग्लादेश या पाकिस्तान में भी यही सलाह देने का प्रयास करें. वोट बैंक और राजनीति के लिए नेहरू ने हिंदुस्तान को धर्मनिरपेक्ष बनाया.

ये भी पढ़ें -: ज्ञानवापी मस्जिद शिवलिंग होने के दावों के बीच तस्वीरें आईं सामने, देखें…

वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद (Gyanvapi Masjid) में तीन दिनों तक चले सर्वे के बाद हिंदू पक्ष ने सोमवार को शिवलिंग मिलने का दावा किया है, जिसके बाद कोर्ट ने आदेश जारी कर शिवलिंग के आसपास जाने पर रोक लगा दी. इसके साथ ही कोर्ट ने शिवलिंग को संरक्षित करने और प्रांगण को सुरक्षा देने का आदेश दिया. हिंदू पक्ष ने बताया कि नंदी की मूर्ती के पास सर्वे में 12 फीट का शिवलिंग मिला.

ये भी पढ़ें -: उद्योग को बढ़ावा देने के लिए बिहार सरकार का बड़ा फ़ैसला, अब जमीन रजिस्ट्री कराने पर नहीं लगेगा पैसा

ये भी पढ़ें -: ज्ञानवापी मुद्दे पर फैसला देने वाले जज पर भड़के मुनव्वर राना, मुस्लिम पक्ष के लिए भी कहे अपशब्द

ये भी पढ़ें -: ज्ञानवापी मामले में कोर्ट में दाखिल हुई नई याचिका- नंदी के सामने की दीवार हटाकर शिवलिंग की नपाइश की जाए

सोर्स – zeenews.india.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-