Politics

कालीचरण के बाद अब तरुण मुरारी ने महात्मा गांधी पर की विवादित टिप्पणी, केस दर्ज

tarun-morari-bapu-controversial-remarks-called-mahatma-gandhi-deshdrohi-after-kalicharan
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Tarun Morari On Mahatma Gandhi : राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को लेकर कालीचरण महाराज (Kalicharan Maharaj) के बाद अब मध्य प्रदेश के संत तरुण मुरारी बापू (Tarun Morari Bapu) ने विवादित टिप्पणी की है. नरसिंहपुर में कथा वाचक तरुण मुरारी बापू के खिलाफ केस दर्ज किया गया है. आरोप है कि तरुण मुरारी बापू ने कहा कि जो राष्ट्र के टुकड़े कर दें, वह राष्ट्रपिता कैसे हो सकता है? मैं उनका विरोध करता हूं. वह देशद्रोही हैं.

जानकारी के मुताबिक, नरसिंहपुर पुलिस ने तरुण मुरारी बापू के खिलाफ कई धाराओं में मामला दर्ज किया है. सोमवार को छिंदवाड़ा रोड स्थित एक कथा के दौरान तरुण मुरारी बापू ने बापू पर विवादित बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि महात्मा गांधी न तो महात्मा हैं और न ही राष्ट्रपिता हो सकते हैं. उन्होंने देश के टुकड़े कर दिए. इस वजह से उन्हें देशद्रोही कहा जाना चाहिए. तरुण मुरारी बापू के बयान पर कांग्रेस ने आपत्ति जताई थी और पुलिस से मामले की शिकायत की थी. शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज किया है.

यह भी पढ़ें -: ‘बुली बाई’ ऐप मामले में मुंबई पुलिस ने बेंगलुरु से एक शख़्स को हिरासत में लिया, जानें पूरा मामला…

रायपुर में कालीचरण महाराज ने दिया था विवादित बयान इससे पहले छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में आयोजित धर्म संसद के दौरान संत कालीचरण महाराज (Kalicharan Maharaj) ने महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) को लेकर विवादित बयान दिया था. उन्होंने बापू के खिलाफ अपशब्दों का प्रयोग किया था और उनके हत्यारे नाथूराम गोडसे को प्रणाम किया था. शिकायत के बाद इस मामले में छत्तीसगढ़ पुलिस ने कालीचरण महाराज को मध्य प्रदेश के खजुराहो के पास से गिरफ्तार किया था.

फिलहाल जेल में बंद कालीचरण महाराज की जमानत याचिका खारिज कर दी गई है. जमानत याचिका अब हाई कोर्ट में लगाई जाएगी. बीते 26 जनवरी को की गई टिप्पणी के बाद कालीचरण के खिलाफ रायपुर के पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज की गई थी, जिसके बाद उन्हें मध्य प्रदेश के खजुराहो से गिरफ्तार किया गया.

यह भी पढ़ें -: गांधीजी को गाली देने के केस में कालीचरण की बेल याचिका जिला कोर्ट ने की खारिज

रायपुर कोर्ट में जमानत याचिका पर टिप्पणी करते हुए कहा कि पुलिस ने कानून के तहत ही कालीचरण की गिरफ्तारी की है. जानकारी के मुताबिक, कालीचरण ने महात्मा गांधी पर अभद्र टिप्पणी करते हुए उनके हत्यारे नाथूराम गोडसे को नमस्कार किया था, जिसके बाद सियासी बवाल मच गया. कालीचरण के खिलाफ राजद्रोह के मामले में केस दर्ज किया गया. इसके बाद उनकी गिरफ्तारी की गई.

यह भी पढ़ें -: PM नरेंद्र मोदी पर दिए गए बयान से पलटे सत्यपाल मलिक, अब कहीं ये बात…

यह भी पढ़ें -: समीर वानखेड़े की मुंबई NCB से विदाई, नही बढ़ाया गया कार्यकाल आगे…

यह भी पढ़ें -: वृंदावन के बांकेबिहारी मंदिर में भिड़े सेवायत, जमकर हुई मारपीट, श्रद्धालुओं में भगदड़

सोर्स – hindi.news18.com.  Tarun Morari On Mahatma Gandhi


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-