Politics

ताजमहल मुद्दे पर कूदे जयंत चौधरी, बोले- जी हां, ताजमहल हमारा है!

taj-mahal-controversy-national-president-of-rld-jayant-chaudhry-tweet-on-taj-mahal
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

ताजमहल के बंद तहखाने खुलवाने को दायर याचिका को रद कर इलाहबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच इस विवाद पर विराम भले ही लगा चुकी हो, लेकिन ताजमहल चर्चाओं में है। रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी के ताजमहल पर किए ट्वीट के बाद इंटरनेट मीडिया में यूजर्स के बीच संग्राम छिड़ गया है। जयंत के समर्थक उनके पक्ष में हैं तो बहुत से यूजर्स सवाल खड़े कर रहे हैं। ज्ञानवापी को लेकर भी सवाल दागे जा रहे हैं।

रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी का ट्विटर एकाउंट जयंत सिंह के नाम से है। उन्होंने शुक्रवार रात 9:54 बजे ट्वीट किया जी हां, ताजमहल हमारा है! उनके इस ट्वीट को दोपहर 2:20 बजे तक 14 लाख लाइक मिल चुके थे। 1352 यूजर्स ने इसे रीट्वीट किया। 189 लोगों ने इस ट्वीट को क्योट किया है। जयंती चौधरी के इस ट्वीट के बाद यूजर्स के बीच इंंटरनेट मीडिया में वार छिड़ गया है।

ये भी पढ़ें -: त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देव ने गवर्नर को सौंपा इस्तीफ़ा

जयंत के ट्वीट पर रिप्लाई करते हुए जाकिर अली त्यागी ने लिखा सुनिए जयंत साहब! ताजमहल ना तुम्हारा है ना उनका है, ना इनका है, ना उसका है, ना उस पार का है। ताजमहल हमारा है, जिसको भारत सरकार को देखभाल के लिए सौंपा हुआ है। अब चाहे सरकार उसे संवार ले या ताजमहल को ध्वस्त कर मूर्तियां रख ले। अभिषेक अग्रवाल ने ट्वीट किया ताजमहल कोई पंचर की दुकान नहीं है।

हंसराज मीना ने ट्वीट किया ताजमहल हम सबका है। ताजमहल हमारा है…। नैतिक ने एक चैनल पर चली खबर का स्क्रीन शाट शेयर किया। इसमें ताजमहल में जाटों द्वारा भूसा भरने का जिक्र है। संतोष कुमार ने ट्वीट किया तो किसने कहा राकेश टिकैत का है। सब हमारा है पर आतंकी…. ने हिंदू मंदिर या तोड़कर बनाए हैं। शादाब ने ट्वीट किया है सुनिए जयंत चौधरी साहब। ताजमहल पर किसी का हक नहीं, उस पर सिर्फ मुहब्बत करने वालों का हक है। चाहे वो हिंदू हो, मुस्लिम हो, जाट हो, सिख हो, ईसाई हो, पारसी हो, बौद्ध हो, नास्तिक हो, आंबेडकरवादी हो।

ये भी पढ़ें -: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने जेलों में VIP कल्चर को लेकर लिया बड़ा फैसला

इंद्रजीत बराक ने ट्वीट किया ताजमहल हमारा है और हम भारत हैं। हम देश हैं, जिसमें सभी जाति-धर्माें, सभी सभ्यताओं, कल्चरों के लोग शामिल हैं। ये ताजमहल हमारा है। इस ताजमहल का निर्माण कलाप्रेमी शाहजहां ने कराया था और ये इस मुल्क के हर बाशिंदे की मल्कियत है।

मासू खान ने ट्वीट करते हुए लिखा कि ताजमहल हमारे जाट समाज का था। उस समय जाटों के दरबार में कोई अंग्रेजी का जानकार नहीं था, किसी को को टूटी-फूटी अंग्रेजी आती थी तो उसने गलती से JAT को TAJ लिख दिया। मुकेश चौधरी ने ट्वीट किया माना ताजमहल आपका है, लेकिन ज्ञानवापी किसका है।

ये भी पढ़ें -: ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे के बाद बोले विश्व वैदिक सनातन संघ के प्रमुख- कल्पना से बहुत कुछ ज्यादा है..

ये भी पढ़ें -: रजत पाटिदार के 102 मीटर लंबे छक्के से बुजुर्ग चोटिल, सिर पर लगी बॉल, देखें VIDEO

ये भी पढ़ें -: चारधाम यात्रा में 34 श्रद्धालुओं की मौ’त पर BJP प्रवक्ता बोले- मोक्ष प्राप्ति की वजह से मर रहे

सोर्स – jagran.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-