Politics

स्वतंत्र देव सिंह बोले- UP में किसान 2 की बजाय 10 रोटी खाता है, बीवी का चेहरा देख पाता है

Swatantra Dev Singh BJP President
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Swatantra Dev Singh BJP President: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव का औपचारिक ऐलान हो चुका है. यूपी में 7 चरणों में चुनाव होंगे जबकि नतीजे 10 मार्च को आएंगे. ऐसे में सूबे के चुनावी नब्ज की थाह लेने के लिए आजतक की ओर से आयोजित देश की सबसे बड़ी बहस Panchayat Aaj Tak Lucknow में बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर तंज कसा. वह बोले कि सपा सरकार में बिजली की यह हालत थी कि किसान थककर आता तो पंखा खुद हांकता था, लेकिन आज यूपी में 24 घंटे लाइट मिल रही है और किसान दो रोटी की जगह 10 रोटी खा रहा है.

स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि सपा, बसपा ने यूपी को गर्त में ले जाने का काम किया है, लेकिन योगी सरकार के पांच साल में प्रदेश को विकास की राह पर लौटाया है. सपा सरकार में गरीबों के हिस्से की नौकरियां तक बेच दीं. सपा में केवल लूट खसोट और भ्रष्टाचार होता है, लेकिन योगी सरकार में पांच लाख नौकरी बिना भ्रष्टाचार की दी गई हैं. यूपी में आज 24 घंटे बिजली मिल रही है जबकि सपा व बसपा सरकार में बिजली की हालत खराब थी.

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि बिजली भी नहीं मिलती थी, जिससे ताऊ लोग शाम को और दिन भर सिर्फ पंखा अपने हाथों से चलाया करते थे. पीएम मोदी के आने के बाद 24 घंटे बिजली मिल रही है. पहले थका हार किसान जब घर जाता था तो बिना बीबी के शक्ल देखे खाना खाता था तो 10 के बजाय 2 रोटी खाता था. 24 घंटे बिजली मिल रही है तब किसान थका हारा घर जाता है तो बीबी की शक्ल देखकर 2 के बजाय 10 रोटी खाता है. आज वो खुशहाल है और उसे पंखा नहीं चलाना पड़ता है.

स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि बीजेपी सुविधर्म के नाम पर चुनाव लड़ रही है. सु का मतलब सुरक्षा और वि का मतलब विकास के नाम पर हम चुनाव लड़ रहे हैं. धर्म का मतलब धर्म का सम्मान, अस्था का सम्मान, दलितों को सम्मान होना चाहिए और पिछड़ों का सम्मान होना चाहिए. गांव-गरीब, किसान का सम्मान होना चाहिए. दलित, शोषित, वंचित का सम्मान होना चाहिए. राष्ट्रधर्म का मतलब पूरी दुनिया में शांति और खुशहाली के मार्ग पर आगे बढ़े. न आंतकवाद, न गुंडागर्दी, न भ्रष्टाचार बल्कि शांति मार्ग पर दुनिया बढ़े.

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी एक कार्यकर्ता आधारित पार्टी है. यहां बूथ का कार्यकर्ता राष्ट्रीय अध्यक्ष बनता है और प्रदेश का मुख्यमंत्री बनता है. बीजेपी का नेता जब कुर्सी पर बैठता है तो न जाति देखता है, न क्षेत्र देखता है और न धर्म देखता है. यादि प्रधानमंत्री आवास देगा तो मुस्लिम बेटी को भी देगा और दलित की बेटी को भी देगा. वो स्वच्छ पानी भी पहुंचाएगा तो भी इसी बात का ख्याल रखेगा. उसे भी मंत्री बनाया जाता हैं और संगठन में भी पद दिया जाता है. टिकट केवल कार्यकर्ता के आधार पर देते हैं. टिकट का आधार हमेंशा यह रहता है कि जो जनता के बीच रहता है और काम करता है तो पार्टी उसे जरूर टिकट देती है. विकास की योजना में कोई भेदभाव नहीं है.

यह भी पढ़ें -: आईपी सिंह ने बुक कराया योगी का गोरखपुर का टिकट, कहा- हार के बाद BJP भी नहीं पूछेगी

उन्होंने कहा कि राष्ट्र की एकता और अंखडता भी जरूरी है, जिसके लिए 370 को समाप्त किया. यूपी में आज कानून का राज है और लोग शांति से रह रहे हैं. बिना भ्रष्टाचार के नौकरी मिल रही है. साथ ही उन्होंने कहा कि एक समय था कि पांच बजे लोग दरवाजा बंद कर लिया करते थे. बेटे भी सुरक्षित नहीं रहते थे और बेटियां भी सुरक्षित नहीं रहती थी. भैंस तक चोरी हो जाती थीं. लेकिन, आज काूनन व्यवस्था कायम है. योजनाएं गरीब के घर तक पहुंच रही है.

स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि बीजेपी डिजिटल तौर पर पूरी तरह से तैयार है. उन्होंने कहा कि हमारा एक एक कार्यकर्ता, बूथ लेवल तक की बात करें तो वर्चुअल तौर पर जुड़े हुए हैं. चुनाव आयोग के निर्देशों के अनुसार ही प्रचार प्रसार किया जाएगा और लोगों तक बीजेपी के द्वारा किए गए कार्यों का लेखा जोखा पहुंचाया जाएगा. उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते किसी को भी खतरे में नहीं डाला जाएगा और जो भी नियम हैं उनका पूर्ण तौर पर पालन किया जाएगा. हालांकि, पीएम मोदी, सीएम योगी और अमित शाह की रैली होती तो निश्चित एक माहौल बनता.

यह भी पढ़ें -: असीम कुमार अरुण आचार संहिता लागू होते ही VRS लेकर बन गए BJP के मेंबर…

यह भी पढ़ें -: एक वोट से मेयर का चुनाव जीती BJP, कांग्रेस के सात पार्षद रहे अनुपस्थित, AAP ने लगाया मिलीभगत का आरोप

सोर्स – aajtak.in. Swatantra Dev Singh BJP President


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-