Politics

बंगाल में प्रदर्शन के दौरान सुवेंदु अधिकारी घायल, पैरों पर गिरा बैरिकेड

suvendu-adhikari-injured-during-protest-in-birbhum-against-tmc-mamta-banerjee
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और विधानसभा में नेता विपक्ष सुवेंदु अधिकारी चोटिल हो गए हैं. बुधवार को बीरभूम जिले में एक विरोध प्रदर्शन के दौरान लोहे का बैरिकेड उनके पैरों पर गिर गया. हालांकि सुवेंदु को ज्यादा चोट नहीं आई है. कुछ देर बाद अस्पताल से उन्हें छुट्टी दे दी गई. बीरभूम के बोगतुई में पिछले महीने हुए अग्निकांड में 9 लोगों की मौत से गरमाए माहौल के बीच बीजेपी ने महिलाओं के खिलाफ अत्याचारों का आरोप लगाते हुए ये प्रदर्शन आयोजित किया था. इसी दौरान सुवेंदु के साथ ये घटना हुई. उन्होंने इसके लिए टीएमसी को इशारों में जिम्मेदार ठहराया है.

सुवेंदु अधिकारी सूरी के बीडीओ कार्यालय के बाहर बुधवार को प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे थे. बीजेपी नेता और कार्यकर्ता हाथों में पोस्टर और तख्तियां लिए हुए थे. तृणमूल कांग्रेस के खिलाफ नारे लगाते हुए बलात्कार के मामले में आरोपी लोगों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे.

ये भी पढ़ें -: चीफ जस्टिस बोले- जजों को बदनाम करने लगी है सरकार, ये नया चलन दुर्भाग्यपूर्ण

पश्चिम बंगाल में इन दिनों नादिया में 14 साल की लड़की के साथ कथित गैंगरेप के बाद मौत को लेकर सियासी बवाल छिड़ा हुआ है. इस मामले में लड़की के परिवार की शिकायत पर पुलिस ने तृणमूल कांग्रेस के एक पंचायत सदस्य के बेटे को गिरफ्तार किया है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बयान देते हुए संदेह जताया था कि कहीं पीड़िता रेप से पहले ही प्रेग्नेंट तो नहीं थी. इसे लेकर विपक्षी दल ममता पर आक्रामक हैं.

सूरी में बीजेपी के प्रदर्शन में काफी तादाद में लोग शामिल थे. पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए बीडीओ कार्यालय के बाहर लोहे के बैरिकेड्स लगा रखे थे. बीजेपी कार्यकर्ता अंदर घुसने का प्रयास कर रहे थे, जबकि पुलिस उन्हें रोक रही थी. इसी दौरान खींचतान में एक बैरिकेड बीजेपी नेता सुवेंदु अधिकारी के पैरों पर गिर गया, जिससे वह घायल हो गए. सुवेंदु को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, यहां के उपचार के बाद उन्हें छुट्टी दे दी गई.

ये भी पढ़ें -: विश्व हिंदू परिषद के नेता का दावा- कुतुब मीनार विष्णु मंदिर का गरुड़ स्तंभ है

अस्पताल से लौटते समय सुवेंदु अधिकारी ने बताया कि कोई फ्रैक्चर नहीं निकला है. थोड़ी-सी दरार है. डॉक्टरों ने मुझे पेनकिलर दिया है. सबने देखा है कि ये किसने किया है. मैं किसी को दोष या नाम नहीं देना चाहता. चूंकि वे (टीएमसी प्रशासन) मुझे रोक नहीं सकते, इसलिए उन्होंने इस तरह के हथकंडे अपनाए. सत्ताधारी टीएमसी ने आरोप लगाया कि सुवेंदु अधिकारी बीरभूम में अशांति पैदा करने के मकसद से गए थे.

ये भी पढ़ें -: भूपेश बघेल का BJP पर वार, बोले- झंडे में शांति का सफेद रंग गायब, इसलिए अशांति फैलाती है BJP

ये भी पढ़ें -: तेलंगाना में BJP के मुस्लिम नेता ने मस्जिद में दान किया कूलर, लोगों ने उठाकर फेंका बाहर

सोर्स – hindi.news18.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-