Politics

बंगाल BJP MLA शुभेंदु अधिकारी के घर पहुंची CID की टीम, लटकी गिरफ्तारी की तलवार

case-registered-against-bjps-suvendu-suvendu-adhikari
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

बीजेपी विधायक शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) के बॉडीगार्ड की तीन साल पहले मौत हो गई थी. अब उस मामले में सीआईडी (CID) बुधवार को शुभेंदु अधिराकी के घर पहुंच गई. जिस समय सीआईडी वहां पहुंची, तब शुभेंदु मौजूद नहीं थे, लेकिन जांच टीम द्वारा घर के सामने बने बैरक में छानबीन की गई. इसी दौरान उनकी मुलाकात शुभेंदु अधिकारी के भाई और सांसद दिब्येंदु अधिकारी से हुई. दिब्येंदु अधिकारी के साथ भी सीआईडी की टीम ने बातचीत की.

कुछ ही दिन पहले शुभाब्रत ( बॉडीगार्ड) की पत्नी की शिकायत पर पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू की है. शुभेंदु के बॉडीगार्ड की लगभग तीन साल पहले संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी. शुभाब्रत की पत्नी सुपर्णा चक्रवर्ती ने हाल ही में पति की संदिग्ध मौत मामले में सवाल उठाते हुए फिर से जांच की मांग करते हुए IPC की धारा 302 और 120 के तहत शिकायत दर्ज करवाई थी.

ये भी पढ़ें -: JDU नेता केसी त्यागी बोले- जनसंख्‍या नियंत्रण के लिए सरकार को कानून बनाकर आगे नहीं बढ़ना चाहिए

बता दें कि शुभब्रत ने 13 अक्टूबर 2018 को पूर्व मेदिनीपुर जिले में अपने किराए के घर पर कथित रूप से खुद को गोली मार ली थी. घटना के बाद उन्हें गंभीर हालत में कोलकाता के एक निजी अस्पताल ले जाया गया था. जहां अगले दिन उनकी मौत हो गई थी. शुभेंदु अधिकारी उस समय राज्य के परिवहन मंत्री थे.

घटना के इतने दिनों बाद अब बॉडीगार्ड की पत्नी ने पति की मौत के लिए शुभेंदु अधिकारी को जिम्मेदार ठहराते हुए फिर से जांच की मांग की है. शुभेंदु अधिकारी ने पहले ही इस मामले पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है ये केस राजनीति से प्रेरित है. उनके मुताबिक इस केस का निपटारा दो साल पहले ही हो चुका है. ऐसे में अब फिर इस केस में जांच करवा उन्हें डराने की कोशिश की जा रही है.

ये भी पढ़ें -: कांवड़ यात्रा की इजाजत देने पर SC ने लिया स्वतः संज्ञान लेते हुवे योगी सरकार से जवाब माँग

अभी के लिए पत्नी की शिकायत के बाद इस केस पर फिर जांच शुरू हो गई है और सीआईडी की एक टीम ने शुभेंदु अधिकारी के घर पर दस्तक भी दी है. उनके भाई दिब्येंदु अधिकारी से जांच टीम द्वारा विस्तार से बातचीत की गई है. कहा जा रहा है कि कुछ दिन में शुभेंदु से भी सवाल-जवाब हो सकते हैं.

ये भी पढ़ें -: कांवड़ यात्रा पर केंद्र को नोटिस जारी करते हुवे SC बोला- PM तो बोले थे जरा भी लापरवाही नहीं कर सकते

ये भी पढ़ें -: राजद्रोह कानून अभिव्यक्ति पर रोक लगाता है…गैर संवैधानिक घोषित करने के लिए SC से गुहार

सोर्स – aajtak.in


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-