Politics

नुपुर शर्मा मामले में ऋचा चड्ढा का तंज- जब-जब जान बचानी थी, माफी ही काम आई

richa-chadha-on-nupur-sharma
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

भारतीय जनता पार्टी ने रविवार को नुपुर शर्मा और नवीन जिंदल पर बीजेपी ने कार्रवाई की। दोनों पर पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने का आरोप है। अरब मुल्कों में भी तीखी प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। पार्टी से निकाले जाने के बाद नुपूर शर्मा ने अपने बयान पर माफी भी मांग ली है। इस मामले पर सोशम मीडिया पर घमासान मचा हुआ हैं।

इसी बीच बॉलीवुड एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा ने नुपुर शर्मा की माफी पर तंज कसा है। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, ”अपने कहे हुए शब्दों को वापस लेना माफी नहीं है। अगर दबाव में आकर बोला हैं तो भी यह माफी नहीं मानी जाएगी हैं। इतिहास इस बात का गवाह है कि जब जब जान बचानी थी, माफी ही काम आनी थी। अपने हीरो का सम्मान करो ठीक है?

ये भी पढ़ें -: नूपुर शर्मा की बढ़ी मुश्किलें, मुंबई पुलिस जारी करने वाली है समन, क्या होंगी गिरफ़्तार?

इसी के साथ ऋचा चड्ढा ने एक तस्वीर भी शेयर की जिसमें एक लड़की हाथ में एक पोस्टर लेकर खड़ी है जिस पर लिखा है, ”अब्बा जो थे वालिद इनसे माफी मांगा करते थे। उनके इस ट्वीट पर तमाम यूजर्स भी अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

शाहरुख शाद लिखते हैं, ‘कभी कभी भोली पंजाबन तगड़ा खेल जाती है’ इस पर ऋचा चड्ढा प्रतिक्रिया देते हुए लिखती हैं ‘मुझे समझने के लिए धन्यवाद भाई।’ प्रभुल्ल लिखते हैं, ‘भोली पंजाबन ऑन फायर।’ विशाल डालानी ने भी हंसने की प्रतिक्रिया दी। निलेश लिखते हैं, ‘और यह लगा सिंक्सर।’ इस पर एक्ट्रेस कहती हैं, ‘यश।

ये भी पढ़ें -: नूपुर शर्मा के बयान पर कतर के बाद अब मालदीव, जॉर्डन और इंडोनेशिया ने जारी किया बयान, कही ये बात…

बिजयसिं लिखते हैं, ‘मुस्कुराते मुस्कुराते कही गई बात अपराध नहीं होता ! याद नहीं किसने कहा था।’ सहीद लिखते हैं, ‘सब जानते हैं यह किस तरह की माफी है। इसका मतलब है कि वह अभी भी अपनी बात पर है।’ ऐके लिखते हैं, ‘यदि आप इसे उचित माफी नहीं मानते हैं, तो आप किस बारे में जश्न मना रहे हैं? तथ्य यह है कि इस विषय पर अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चर्चा होने जा रही है।

बता दें नुपुर के इस बयान पर मुस्लिम देशों ने भी कड़ी प्रतिक्रिया दी है। इसमें इंडोनेशिया, सऊदी अरब, यूएई, बहरीन और अफगानिस्तान भी अब उन मुस्लिम देशों में शामिल हो गए हैं, जिन्होंने पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ विवादित टिप्पणियों की निंदा की है। इसी के साथ इन देशों ने सभी धार्मिक आस्थाओं का सम्मान किए जाने की अहमियत पर जोर दिया है।

ये भी पढ़ें -: सीटेट पास नौजवान रिक्शा चलाने को मजबूर है- बेरोजगारी पर वरुण गांधी का तंज

ये भी पढ़ें -: क्रिकेटर नमन ओझा के पिता हुवे गिरफ्तार, लगा है बड़ा आरोप, जानें विस्तार से…

सोर्स – jansatta.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-