Politics

राकेश टिकैत बोले- पश्चिमी यूपी में हिंदुओं और मुसलमानों के बंटवारे से जिन्हें फायदा होता था, अब नहीं होगा

man-abused-and-threatened-farmer-leader-rakesh-tikait-on-phone-arrested-from-uttarakhand
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

उत्तर प्रदेश के कैराना में भारतीय किसान यूनियन (BKU) ने रविवार को किसान महापंचायत बुलाई. इसमें यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि पश्चिमी यूपी में हिंदुओं और मुसलमानों के बीच जो विभाजन था, वह किसान आंदोलन के चलते अब खत्म हो गया है. यह एक तरह से पैदा किया गया विभाजन था. BKU ने दोनों समुदायों के बीच एकता के लिए एक मंच प्रदान किया है. अपने बयान में टिकैत ने किसी दल या संगठन का नाम लिए बगैर कहा कि बंटवारे से जिन्हें फायदा होता था, अब इस बार नहीं होगा.

वहीं, राजनीतिक गलियारों में लगाए जा रहे कयासों को लेकर किसान नेता ने अपनी सफाई दी. टिकैत ने स्पष्ट किया कि BKU राजनीतिक पार्टी में तब्दील नहीं होगी और न ही किसी दल विशेष का समर्थन करेगी.

यह भी पढ़ें -: मनोहर लाल खट्टर के खुले में नमाज वाले बयान पर उमर अब्दुल्ला का पलटवार, कही ये बात…

यूपी सरकार भी अपना काम करे इससे पहले, यूपी विधानसभा चुनाव में योगी सरकार के विरोध के सवाल पर राकेश टिकैत ने कहा कि अभी चुनाव अचार संहिता लगने दो, किसानों को घर पहुंच जाने दो, उसके बाद तय करेंगे कि क्या करना है. जब उनसे यह पूछा गया कि आपकी नाराजगी तो कृषि कानून को लेकर सरकार से थी, वो तो सरकार ने वापस ले लिया, इसके जवाब में टिकैत ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार भी अपना काम करे.

किसानों का घर लौटना शुरू नवंबर में तीन कृषि कानूनों की वापसी और केंद्र सरकार की तरफ से मिले प्रस्ताव पर बनी सहमति के बाद किसान संगठनों की तरफ से गुरुवार को आंदोलन स्थगित कर दिया था. पिछले एक साल से ज्यादा समय से दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर किसान आंदोलन चल रहा था. शनिवार से किसानों का घर लौटना शुरू हो गया.

यह भी पढ़ें -: BJP सांसद वरुण गांधी लाए MSP को कानूनी गारंटी देने वाला निजी विधेयक,पढ़ें विस्तार से

आगामी रणनीति तैयार माना जा रहा है कि किसान संगठनों की इसी जीत के बाद कैराना में धन्यवाद सभा बुलाई गई और इसमें आगामी रणनीति तैयार की गई. मालूम हो कि किसान आंदोलन का मुख्य चेहरा रहे राकेश टिकैत कह चुके हैं कि यूपी विधानसभा चुनाव के संबंध में अपने निर्णय के बारे में अपने समर्थकों को सूचित करूंगा और अगर सरकार ने वादे पूरे नहीं किए तो दोबारा आंदोलन करेंगे.

यह भी पढ़ें -: BJP नेता नरेश अग्रवाल बोले- हम लोग छांटेंगे कि हिंदुस्तान में किसको रहना है और किसे नहीं

यह भी पढ़ें -: पंजाब हाईकोर्ट बोला- पत्नी के फोन की बातचीत रिकार्ड करना निजता के अधिकार का उल्लंघन

सोर्स – aajtak.in


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-