India

रिश्वत लेते पकड़े जाने पर बोली महिला अधिकारी- मंदिर में कोई प्रसाद चढ़ाने आता है तो उसे मना नहीं कर सकते

Rajasthan ACB Arrest Officer For Taking Bribe
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Rajasthan ACB Arrest Officer For Taking Bribe: राजस्थान सरकार ने प्रदेश में भ्रष्टाचारियों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. इसी क्रम में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) की टीम लगातार शिकायत पर कार्रवाई कर रही है. इस बीच जयपुर विकास प्राधिकरण (Jaipur Development Authority) में चल रहे रिश्वतखोरी के खुले खेल को एसीबी ने कार्रवाई करते हुए पकड़ा है. यहां उपायुक्त के पद पर तैनात राजस्थान प्रशासनिक सेवा की बड़ी अधिकारी ममता यादव जब रिश्वत लेते हुए पकड़ी गईं तो बेशर्मी की हद पार कर, हंसते हुए बोलीं कि मंदिर में कोई प्रसाद चढ़ाने आता है तो उसे मना नहीं कर सकते.

दरअसल, एसीबी की टीम ने प्राधिकरण के जोन-चार में तैनात यादव को रिश्वत मांगने के आरोप में सोमवार को गिरफ्तार किया था. उनके साथ चार अन्य कर्मचारियों को भी गिरफ्तार किया गया है. मंगलवार को इन सभी से पूछताछ की गई.

यह भी पढ़ें -: हिजाब बैन करने के बयान पर MP के स्कूल शिक्षा मंत्री ने लिया यू-टर्न, बोले मेरे बयान का गलत अर्थ निकाला

एसीबी के महानिदेशक बीएल सोनी ने बताया कि शहर के सिद्धार्थ नगर निवासी एक व्यक्ति ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उसके और मित्र के चार प्लाट हैं. इनके पट्टे देने के बदले में ममता साढ़े छह लाख रुपये व इंजीनियर श्याम मालू साढ़े तीन लाख रुपये मांग रहे हैं. इस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बजरंग सिंह ने अधिकारियों पर निगरानी रखनी शुरू की.

सोमवार को पैसे लेकर पट्टे देने की बात तय हुई. दोपहर बाद शिकायतकर्ता पैसे लेकर प्राधिकरण के दफ्तर पहुंचा. यहां पार्किंग में मालू पैसे लेने पहुंचा तो एसीबी ने उसे गिरफ्तार कर लिया. मालू से पूछताछ के बाद ममता के दफ्तर में काम कर रहे सहायक लेखाधिकारी राम तूफान और कंप्यूटर आपरेटर अखिलेश व विजय मीणा को भी गिरफ्तार कर लिया गया. इनसे पूछताछ के बाद ममता को गिरफ्तार किया गया.

यह भी पढ़ें -: अन्ना हजारे ने महाराष्ट्र सरकार के ख़िलाफ़ अनशन का किया ऐलान, 14 फरवरी से करेंगे…

एसीबी इन सभी के घरों पर भी छापे मारे. ममता के घर से एक लाख 45 हजार नकद, जमीनों के कागजात और लाकर मिला. मालू के घर से 50 हजार नकद व जमीनों के दस्तावेज मिले हैं. तूफान के घर से तीन लाख 45 हजार रुपये नकद मिले हैं. अखिलेश के घर से एसीबी को दो लाख रुपए कैश मिले हैं.

एसीबी महानिदेशक, भगवान लाल सोनी ने समस्त प्रदेशवासियों से अपील की है कि भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर 1064 व Whatsapp हेल्पलाइन नंबर 9413502834 पर 24X7 सम्पर्क कर भ्रष्टाचार के विरूद्ध अभियान में अपना महत्वपूर्ण योगदान दें. एसीबी आपके वैध कार्य को करवाने में पूरी मदद करेगी. विदित रहे कि एसीबी राजस्थान राज्य में राज्य कर्मियों के साथ-साथ केन्द्र सरकार के कार्मिकों के विरूद्ध भी कार्रवाई करने को अधिकृत हैं.

यह भी पढ़ें -: अखिलेश-जंयत की जोड़ी पर बोले मोदी- उन्होंने कहा था गुजरात के दो गधे…

यह भी पढ़ें -: हिजाब मामले पर रूबिका लियाकत औऱ AIMIM के प्रवक्ता के बीच ज़ोरदार बहस…

सोर्स – abplive.com. Rajasthan ACB Arrest Officer For Taking Bribe


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-