India

UP मैं पुलिस चौकी में घुसकर भीड़ ने दारोगा को पीटा, बुलानी पड़ी पीएसी, जानें पूरा मामला…

police-chowki-attack-thief-detain-police-inquiry
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

लखनऊ (Lucknow) में चोरी के आरोप में हिरासत (Thief Detain) में लिए गए शख्स से पूछताछ पुलिस (Police Inquiry) को महंगी पड़ गई. आरोपी के परिजनों और मोहल्ले के लोगों ने पुलिस चौकी (Police Chowki) पर हमला बोल दिया और दारोगा के साथ मारपीट की. दारोगा ने अपने आपको चौकी में बंद कर लिया था.

दरअसल, लखनऊ के थाना महानगर के पेपर मिल कॉलोनी की मेट्रो चौकी पर तैनात चौकी इंचार्ज सुधाकर पांडेय ने एक रिटायर्ड अधिकारी के घर कुछ दिन पहले चोरी हुई चोरी के मामले में उनके ड्राइवर को पूछताछ के लिए बुलाया. आरोप है कि पूछताछ के दौरान चौकी इंचार्ज की पिटाई से ड्राइवर बेहोश हो गया.

ये भी पढ़ें -: JDU नेता केसी त्यागी बोले- जनसंख्‍या नियंत्रण के लिए सरकार को कानून बनाकर आगे नहीं बढ़ना चाहिए

इस घटना से पीड़ित के परिजन सहित सभी मोहल्ले के लोग नाराज हो गए और दारोगा पर पिटाई का आरोप लगाकर बवाल शुरू कर दिया. जब बवाल हो रहा था, तब दारोगा सुधाकर पांडेय अपने मोबाइल से रिकार्डिंग करने लगे. इस पर सभी लोग चौकी के अंदर घुस गए और दारोगा का मोबाइल छीन कर उनको भी पीट दिया.

इसके बाद दारोगा सुधाकर पांडेय ने किसी तरह चौकी का गेट बंद कर लिया और अपने आप को चौकी के अंदर बंद कर लिया. नाराज परिजनों सहित मोहल्ले वालों ने चौकी पर ईट पत्थर से तोड़फोड़ भी की. बवाल बढ़ता देख दारोगा ने पीएसी बुला ली. इसके बाद मौके पर पहुंची पीएसी ने लोगों को शांत करवाया. ब जाकर चौकी इंचार्ज को चौकी से निकाला जा सका.

ये भी पढ़ें -: कांवड़ यात्रा की इजाजत देने पर SC ने लिया स्वतः संज्ञान लेते हुवे योगी सरकार से जवाब माँग

डीसीपी देवेश पांडे के मुताबिक, चौकी इंचार्ज पर हमला किया गया, हाथों में चप्पल लेकर भीड़ उग्र हो गई, जिसने भी वर्दी पहने पुलिसकर्मी के साथ मारपीट और अभद्रता करने की कोशिश की, उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जायेगी.

ये भी पढ़ें -: कांवड़ यात्रा पर केंद्र को नोटिस जारी करते हुवे SC बोला- PM तो बोले थे जरा भी लापरवाही नहीं कर सकते

ये भी पढ़ें -: राजद्रोह कानून अभिव्यक्ति पर रोक लगाता है…गैर संवैधानिक घोषित करने के लिए SC से गुहार

सोर्स – aajtak.in


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-