Politics

PM मोदी बोले- देश की तरक्की में सभी सरकारों का योगदान, लोग करने लगे पुराने बयान वायरल

20221109 135449 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत की जी-20 की अध्यक्षता के लोगो, थीम और वेबसाइट का अनावरण किया। भारत एक दिसंबर से इंडोनेशिया से जी20 की अध्यक्षता करेगा। G20 शिखर सम्मेलन का आयोजन 15-16 नवंबर को इंडोनेशिया के बाली में किया जा रहा है। पीएम मोदी समेत विश्व के तमाम शीर्ष नेता शामिल होने वाले हैं। जी20 का लोगो और वेबसाइट लांच करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि भारत अब जी-20 का नेतृत्व संभालने वाला है। पीएम ने कहा कि आजादी के 75वें वर्ष में भारत के लिए यह एक महान अवसर की बात है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हर भारतवासी के लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता के बाद की सभी सरकारों और देश के लोगों ने भारत को आगे ले जाने में अपने-अपने तरीके से योगदान दिया। हमें दुनिया को अपने साथ लेकर नयी ऊर्जा के साथ आगे बढ़ना है। सोशल मीडिया पर लोग पीएम मोदी के इस बयान पर टिप्पणी कर रहे हैं।

@Shantanu_katre यूजर ने लिखा कि अरे अचानक इन्हें क्या हो गया? 70 साल पर कोई बात नहीं, कोई आरोप नहीं। मेरी आंखों पर यकीन नहीं हो रहा।

ये भी पढ़ें -: केंद्रीय मंत्री का विवा’दित बयान- वक्त पर नहीं जागे तो, तिरंगे में चांद दिखाई देगा

@venkatars1 यूजर ने लिखा कि हे भगवान। 8 साल में पहली बार मैं अपने पीएम का इस तरह का भाषण देख रहा हूं, जिसकी बहुत उम्मीद है। आशा है कि वह शीर्ष अध्यक्ष की गरिमा को बनाए रखने के लिए अब ऐसा ही बोलेंगे। एक यूजर ने लिखा कि नेहरू और पिछली सभी सरकारों पर आरोप लगाने से अचानक यू-टर्न?

@chezesah यूजर ने लिखा कि ये हमारे प्रधानमंत्री जी को क्या हुआ? वह कल शाम तक पूरी तरह से ठीक थे और सारा दोष नेहरू पर डाल दिया। अब क्या बदल गया है? मैं ये पढ़कर चिंतित हो गया हूं। @1302aa यूजर ने लिखा कि नरेंद्र दामोदरदास मोदी भारत को आगे ले जाने में योगदान देने वाली पार्टियों की श्रेणी में बीजेपी में फिट होने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। @MelvinLouis यूजर ने लिखा कि बेशक, दुर्भाग्य से 2014 के बाद से कुछ भी नहीं हो रहा है और अभी भी पूर्वजों द्वारा की गई कड़ी मेहनत के कारण जीवित हैं।

बता दें कि भारत G20 की अध्यक्षता के दौरान देशभर में 32 विभिन्न क्षेत्रों से संबंधित लगभग 200 बैठकें आयोजित करेगा। लोगो जारी करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि G20 लोगो में कमल का प्रतीक आशा का प्रतिनिधित्व करता है। भारत ने वन सन, वन वर्ल्ड, वन ग्रिड के मंत्र के साथ विश्व में अक्षय ऊर्जा क्रांति का आह्वान किया है। गौरतलब है कि G20 में भारत का मंत्र वन अर्थ, वन फैमली, वन फ्यूचर है।

ये भी पढ़ें -: अजीत अंजुम व आरफा खानम को मिलेगा कुलदीप नैयर पत्रकारिता सम्मान

ये भी पढ़ें -: अब ब्लॉक नहीं होगा कांग्रेस का भारत जोड़ो यात्रा का ट्विटर एकाउंट, कर्नाटक HC ने कही ये बात…


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-