Politics

PM मोदी के कार्यक्रम में लगीं स्कूल बसें, ग्वालियर के कई स्कूलों में छुट्टी, कलेक्टर ने दी ये सफाई…

20220916 124402 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

मध्य प्रदेश के श्योपुर जिले में शनिवार को होने वाली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा में भीड़ जुटाने परिवहन विभाग बसों का अधिग्रहण करने में लगा है. सिर्फ ग्वालियर जिले से ही करीब 300-400 बसों का अधिग्रहण किया गया है. इनमें 120 से ज्यादा स्कूल बसें जबकि बाकी बसें रूट पर चलने वाली होंगी. इसके चलते 16 और 17 सितंबर को स्कूलों की छुट्टी कर दी गई है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने जन्मदिन के अवसर पर श्योपुर के कूनो-पालमपुर आ रहे हैं. यहां वह अफ्रीकन चीतों की शिफ्टिंग कार्यक्रम में शामिल होंगे और फिर महिला स्व सहायता समूह के सम्मेलन को भी संबोधित करेंगे. इस कार्यक्रम में पूरे ग्वालियर संभागभर से भीड़ जुटाई जा रही है. ग्वालियर जिला प्रशासन को भी 6-7 हजार लोगों को सभास्थल ले जाने का टारगेट दिया गया है.

ये भी पढ़ें -: टाइल्स लगाने का नहीं दिया पैसा, मिस्त्री ने घर के बाहर खड़ी मर्सिडीज में लगा दी आग

उसके लिए 300 से 400 स्कूलों बसों का अधिग्रहण किया गया है. यह सूचना स्कूलवालों ने बच्चों के पैरेंट्स को वॉट्सएप ग्रुप पर दी है. हालांकि, ग्वालियर जिला कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने Aajtak से बातचीत में इस बात से साफ इनकार किया. कलेक्टर ने कहा कि स्कूल बसों का अधिग्रहण करने से बिल्कुल मना किया गया है.

हमको जब 1000 के लगभग बसों की जरूरत पड़ती है, तब जाकर कहीं स्कूल की बसों को लिया जाता है. अभी बिल्कुल नहीं लिया जा रहा है. इस संबंध में आरटीओ को मना किया गया है. वहीं, Aajtak की पड़ताल में शहर के जाने माने स्कूल DPS यानी डेल्ही पब्लिक स्कूल, ग्वालियर ग्लोरी स्कूल, लिटिल एंजल स्कूल स्कूल के प्रबंधन ने स्पष्ट रूप से मैसेज भेजा है कि हमारी बसों का प्रशासन ने अधिग्रहण कर लिया है, क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का जन्मदिन है. इसलिए 16-17 को बसें बच्चों को लेने नहीं आएंगीं.

ये भी पढ़ें -: BJP का झंडा थामे लोगों ने कलकत्ता पुलिस के जवानों पर बरसाए डंडे, Video वायरल

बता दें कि 17 सितंबर (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन) को नामीबिया से 8 चीते भारत लाए जा रहे हैं. चीते स्पेशल चार्टर फ्लाइट से ग्वालियर लाए जाएंगे. पहले इन्हें जयपुर लाया जाना था. लेकिन लॉजिस्टिक की दिक्कत के चलते एक दिन पहले प्लान में बदलाव कर दिया गया है. ग्वालियर से इन चीतों को हेलिकॉप्टर के जरिए मध्य प्रदेश के कूनो-पालपुर राष्ट्रीय उद्यान (KNP) लाया जाएगा.

ये भी पढ़ें -: बिजली टावर पर चढ़ा चोर, कंट्रोल रूम में फोन कर बोला- साथी भाग गए, प्लीज मुझे बचा लो

ये भी पढ़ें -: महाराष्ट्र में UP से आए साधुओं की बेरहमी से पिटाई, गाड़ी से उतारकर बरसाने लगे लाठी-डंडे

ये भी पढ़ें -: KRK बोले- करण जौहर, आमिर, शाहरुख का मेरी गिरफ़्तारी से कोई लेना-देना नहीं, वो तो…


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-