Entertainment

अब कंगना रनौत के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका, जानें पूरा मामला…

plea-filed-against-kangana-ranaut-in-supreme-court-seeking-future-censoring-of-all-her-social-media-posts
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Kangana Ranaut FIR : कंगना ने हाल ही किसानों के विरोध प्रदर्शन को लेकर एक पोस्ट लिखा था, जिसके बाद उन्हें धमकियां मिल रही थीं। इसके बाद जहां कंगना ने एफआईआर (Kangana Ranaut FIR) दर्ज करवाई तो अब ऐक्ट्रेस के खिलाफ एक याचिका दायर कर दी गई है। एएनआई के मुताबिक, कंगना रनौत के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की गई है।

इस याचिका में अपील की गई है कि भविष्य में कंगना रनौत के सभी सोशल मीडिया पोस्ट को सेंसर किया जाए। ताकि देश में कानूनी व्यवस्था बनी रहे। याचिका में कहा गया है कि रनौत के बयानों का मकसद दंगा भड़काना और धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाना है. चंद्रपाल ने याचिका में कहा है कि कंगना के पोस्ट सिखों को “पूरी तरह से राष्ट्र विरोधी तरीके से” चित्रित करते हैं.

यह भी पढ़ें -: आर्थिक हालात ख़राब होने से IIT में नहीं हो पाया दलित छात्रा का दाखिला तो जज ने दिए 15 हजार रुपये

उन्होंने कहा है कि कंगना रनौत की टिप्पणी देश की एकता के खिलाफ है और अभिनेत्री कानून द्वारा गंभीर सजा की हकदार हैं. वकील ने कहा है कि अभिनेत्री की हरकतों को ना तो नकारा जा सकता और न ही माफ किया जा सकता है. याचिका में भारत भर में कंगना रनौत के खिलाफ दर्ज सभी लंबित FIR को मुंबई के खार पुलिस स्टेशन में ट्रांसफर करने की मांग भी की गई है.

यह भी पढ़ें -: अब मोदी सरकार सेंट्रल इलेक्ट्रॉनिक्स को भी बेचेगी, Air India के बाद दूसरी बड़ी बिक्री को दी मंजूरी

याचिका में इन मामलों में सभी चार्जशीट छह महीने में दाखिल करने और दो साल में ट्रायल पूरा करने के लिए सुप्रीम कोर्ट से दिशा निर्देश देने की भी मांग की गई है.

वहीं कंगना ने सोशल मीडिया पर हाल ही एक पोस्ट शेयर कर बताया था कि भटिंडा के एक व्यक्ति ने उन्हें खुलेआम जान से मारने की धमकी दी है। पोस्ट में कंगना ने कहा था, ‘मैं इस तरह की धमकियों से नहीं डरती।

यह भी पढ़ें -: अनिल कुंबले का खुलासा- केएल राहुल पंजाब किंग्स टीम में रुकना ही नहीं चाहते थे

यह भी पढ़ें -: PAK आर्मी से बोला सुप्रीम कोर्ट- फौज का काम मुल्क की हिफाजत, बिजनेस करना नहीं

सोर्स – navbharattimes.indiatimes.com.  Kangana Ranaut FIR


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-