India

कैलेंडर से हटी चौधरी चरण सिंह की तस्वीर तो भड़के टिकैत, बोले- अभी मन नहीं भरा?

Chaudhary Charan Singh Picture In Calendar
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Chaudhary Charan Singh Picture In Calendar : यूपी चुनाव में किसान नेता राकेश टिकैत सरकार को हर मोर्चे में घेरने की कोशिश कर रहे हैं। किसान आंदोलन के बाद से टिकैत राजनीतिक विषयों पर अपनी राय खुलकर रख रहे हैं। राकेश टिकैत का कहना है कि वे किसी पार्टी के विरोध में नहीं है और ना किसी नेता के विरोध में। उनका विरोध सरकारों से हैं जो उनकी मांगों पर विचार नहीं कर रही हैं। अब राकेश टिकैत ने चौधरी चरण सिंह के मुद्दे को लेकर सरकार पर तीखा हमला बोला है।

राकेश टिकैत के ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया कि 700 किसानों की मौत से मन नहीं भरा जो अब किसानों के आदर्श और हमारे पूर्वजों का अपमान कर रहे हो । कलेंडर से हटा देना न सिर्फ चौधरी चरण सिंह जी का अपमान है, बल्कि देश के हर किसान के आत्मसम्मान पर आत्मघात है ! इस ट्वीट के साथ ही राकेश टिकैत ने एक फोटो शेयर किया है। जिसमें लिखा है कि जिस नेता की याद में किसान दिवस मनाया जाता है, उस नेता का नाम कृषि विश्वविद्यालय से हटा दिया, ये देश के हर किसान का अपमान है।

यह भी पढ़ें -: Budget 2022: बजट पर सोशल मीडिया मैं मीम की भरमार- ये कोई तरीका है ‘भीख’ मांगने का…

बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के नाम पर बने चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हर साल एक कैलेंडर छापता है। जिसमें राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, राज्यपाल और मुख्यमंत्री के अलावा चौधरी चरण सिंह की तस्वीर प्रकाशित होती थी। लेकिन इस बार और पिछले साल के कैलेंडर में चौधरी चरण सिंह का फोटो नहीं लगाया गया।

कैलेंडर से चौधरी चरण सिंह के फोटो को हटाने का मामला सोशल मीडिया के जरिए वायरल होने लगा। कई किसान संगठनों ने कुलपति से मिलकर पूर्व पीएम चौधरी चरण सिंह की फोटो लगाने की मांग की और कहा अगर ऐसा नहीं हुआ तो वे आंदोलन करेंगे। राकेश टिकैत ने भी इसी मुद्दे को उठाते हुए सरकार पर हमला बोला और इसे किसानों का अपमान बताया है।

यह भी पढ़ें – लखनऊ मैं कन्हैया कुमार पर फेंका केमिकल, आरोपी की हुवी पिटाई…

राकेश टिकैत के ट्वीट पर कई लोगों ने अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं। घनश्याम पारीक नाम के यूजर ने लिखा कि अभी हटाया गया है या पहले भी नहीं था। चेक करो फिर कहो। सिर्फ चुनाव है इसलिए ही कह रहे हो। बहुत से विश्व विद्यालय हैं लेकिन सालाना कैलेंडर में उनकी फोटो नहीं होती है तो ये बयान चुनाव के लिए जाट समाज को भड़काने वाला है लेकिन जाट समाज बहुत होशियार और देश भक्त है।

सुगंधा नाम की यूजर ने लिखा कि इन लोगों ने खादी भंडार के कैलेंडर से गांधीजी को हटाकर मोदी की फोटो लगा दी थी। जब इस देश के सबसे बड़े हीरो के साथ ऐसा कर सकते हैं यह शाखा वाले, तो बाकी लोगों की क्या औकात है।

यह भी पढ़ें -: अब 9 से 12वीं कक्षा के छात्र इस स्कूल में दाखिला लेकर सेना में भर्ती होने की तैयारी कर सकेंगे…

यह भी पढ़ें -: बजट 2022: जानिए क्या सस्ता हुवा और क्या महंगा? यहाँ देखें पूरी लिस्ट…

सोर्स – jansatta.com. Chaudhary Charan Singh Picture In Calendar


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-