India

PAK आर्मी चीफ के बेटे साथ बैठकर कॉफी पीते दिखे जय शाह, RJD नेता बोले- कोई और होता तो…

20220830 131550 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

तिरंगा को अपने हाथ में लेने से मना कर गृहमंत्री अमित शाह के बेटे पर जमकर सवाल खड़े हो रहे हैं। साथ ही पाकिस्तान के आर्मी चीफ़ बाजवा के बेटे के साथ कॉफ़ी पीते हुए तस्वीर वायरल हो रही है। जिसके बाद भाजपा और अमित शाह से लोग सवाल पूछ रहे हैं कि सबकों राष्ट्रवाद का प्रमाणपत्र देने वाले अब कहाँ हैं? बता दें कि भारत के पूर्व क्रिकेटर और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू के पाकिस्तान दौरे के वक़्त यही भाजपा और टीवी मीडिया सिद्धू से देशभक्ति और राष्ट्रवाद का सर्टिफिकेट मांग रहे थे। सिद्धू उस वक़्त किसी निजी कार्यक्रम में पकिस्तान के आर्मी चीफ़ के बगल में बैठ गए थे, जहां वे सभी एक मेहमान के तौर पर एकत्रित हुए थे। उसके बाद सोशल मीडिया से लेकर गोदी मीडिया में सिद्धू से प्रूफ़ मांग रहे थे।

कल भारत पकिस्तान क्रिकेट मैच में भारत की शानदार जीत का जश्न सभी हिन्दुस्तानियों ने जमकर मनाया है। वहीं अमित शाह के बेटे और बीसीसीआई सचिव जय शाह ने भारत की रोमांचक जीत के बाद स्टेडियम में तिरंगा लेने से मना कर दिया। और वहीं पकिस्तान के आर्मी चीफ़ बेटे के साथ कॉफ़ी पीने की तस्वीर सामने आयी है। गृहमंत्री के बेटे और बीसीसीआई सचिव जय शाह द्वारा तिरंगे के अपमान और बाजवा के बेटे के साथ फोटो वायरल पर विपक्षी नेता और लोगों द्वारा तीखे सवाल पूछे जा रहे हैं।

ये भी पढ़ें -: प्रकाश राज को ट्रोल्स ने बुलाया स्वरा भास्कर का मेल वर्जन, एक ट्वीट से एक्टर ने कर दी बोलती बंद

बिहार राजद नेता शैलेश कुमार ने एक ट्वीट कर लिखा- “जय शाह ने तिरंगा पकड़ने से इनकार किया और पाकिस्तान के आर्मी चीफ़ बाजवा के बेटे के साथ बैठ कर कॉफ़ी पी रहे है फिर भी कोई इनकी देशभक्ति का प्रमाण नहीं मांग रहा, यही काम किसी और ने किया होता तो गोदी मीडिया अब तक उसको देशद्रोही घोषित कर देता। हद्द है दोहरेपन की!”

गोदी मीडिया पर निशाना साधते हुए राजद नेता ने अमित शाह के बेटे की तस्वीर शेयर की है। जिसमें वो पाक़िस्तानी आर्मी चीफ़ बाजवा के बेटे के साथ कॉफ़ी पीते हुए मैच देख रहे हैं। लेकिन अपने हाथ में भारत के तिरंगे लेने से इंकार कर दिया। आज जय शाह द्वारा तिरंगे के अपमान को टीवी मीडिया में कहीं नहीं दिखाया गया, ना ही किसी ने अमित शाह के बेटे से देशभक्त होने का सबूत मांगा।

ये भी पढ़ें -: 9 सेकंड में ढह गया नोएडा का ‘ट्विन टावर’, 9 साल तक चली कानूनी लड़ाई

देश में अभी हाल ही में 15 अगस्त को आज़ादी के 75 साल पूरे होने पर अमृत महोत्सव मनाया गया। जहां हर घर, हर हाथ में तिरंगा लहराया गया। केंद्र की बीजेपी सरकार ने जिसे पूरे जोर शोर से प्रचार किया। कल एशिया कप में जब भारतीय टीम ने पाकिस्तान के विरुद्ध जीत हासिल की तब देशभर के लोग और स्टेडियम में मौजूद सभी भारतीय दर्शक हाथों में तिरंगा लिए खुशियां मनाने लगे।

लेकिन इसी बीच एक वीडियो सामने आया, वहीं मौजूद गृहमंत्री शाह के बेटे जय शाह ने भारत के राष्ट्र ध्वज को हाथ में लेने से इनकार कर दिया था। इसकी वजह कुछ भी रही हो मगर वीडियो वायरल होती है उन पर सवाल उठने लगे। साथ ही गोदी मीडिया से भी लोग जमकर सवाल पूछ रहे हैं। आखिर रात दिन बात बात पर देश के लोगों से राष्ट्रवाद का प्रमाणपत्र मांगने वाली सांप्रदायिक मीडिया वाले आज शाह के बेटे द्वारा किए गए तिरंगे के अपमान पर चुप क्यों है?

ये भी पढ़ें -: घर में पढ़ी गई सामूहिक नमाज, 26 लोगों पर दर्ज हुआ केस, जानें पूरा मामला…

ये भी पढ़ें -: 12वीं की छात्रा को जिंदा जलाने पर सुलगा झारखंड, फोन पर बात करने से किया था इनकार

ये भी पढ़ें -: शाहिद अफरीदी का दावा, बोले- गौतम गंभीर को पसंद नहीं करते थे टीम इंडिया के खिलाड़ी


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-