Politics

OP राजभर को मिली Y कैटेगरी की सुरक्षा, क्या राष्ट्रपति चुनाव में BJP को सपोर्ट करने का इनाम?

20220722 101327 min
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर को योगी सरकार ने Y श्रेणी की सुरक्षा दी है. राष्ट्रपति चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को वोट देने तोहफा के तौर पर देखा जा रहा है. राजभर इन दिनों समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर लगातार तंज कसने के लिए भी सुर्खियों में हैं.

योगी सरकार ने ओमप्रकाश राजभर को सुरक्षा कारणों से Y श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की है. गुरुवार शाम को शासन के निर्देश पर सुरक्षा गाजीपुर पुलिस ने मुहैया करा दी. शासन के इस निर्णय से राजनीतिक गलियारों में तरह-तरह चर्चा है. सपा मुखिया अखिलेश के खिलाफ मुखर ओपी राजभर को राष्ट्रपति चुनाव में मतदान के बाद उसका फल मिला है. राष्ट्रपति चुनाव में उत्तर प्रदेश में विपक्ष ने क्रॉस वोटिंग की. ओम प्रकाश राजभर ने ऐलान कर दिया था कि वह केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के कहने पर द्रौपदी मुर्मु को वोट देंगे.

ये भी पढ़ें -: अब विवादों में घिरी कंगना रनौत की फ़िल्म  ‘इमरजेंसी’, लग रहे है ये आरोप…

इसके अलावा शिवपाल सिंह यादव ने भी द्रौपदी मुर्मु को ही वोट दिया था. विपक्ष के चार विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की थी, जबकि 3 विधायकों के वोट इनवैलिड घोषित हुए थे. 2022 का यूपी विधानसभा चुनाव ओम प्रकाश राजभर, समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर लड़े थे. उनकी पार्टी सुभासपा 17 सीटों पर उतरी थी, जिसमें से 6 सीटें जीती है. ओम प्रकाश राजभर भी जहूराबाद सीट से चुनाव जीते हैं. 2022 में योगी सरकार की वापसी के बाद से ही ओम प्रकाश राजभर, सपा मुखिया अखिलेश यादव पर हमलावर हैं.

ओम प्रकाश राजभर ने कल कहा कि अखिलेश यादव अपने नवरत्नों से घिरे रहते हैं, अखिलेश यादव का एसी से बाहर नहीं निकलना आजमगढ़ उपचुनाव में हार का सबसे बड़ा कारण था. ओमप्रकाश राजभर ने सवालिया लहजे में कहा कि अब आजम खान की ओर कही गई धूप में बाहर नहीं निकलने की बात पर सपा का कोई नेता कुछ कहेगा?

ये भी पढ़ें -: ड्राइविंग लाइसेंस सस्पेंड करने पर पुलिस कमिश्नर को लगी फटकार, हाईकोर्ट ने कही ये बात…

सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि जिस तरीके से यूपी विधानसभा चुनाव में टिकट बांटे गए, उसी का नतीजा रहा कि सूबे में सरकार नहीं बन सकी. उन्होंने ये भी आरोप लगाया कि अखिलेश यादव किसी की नहीं सुनते. संजय निषाद की ओर से आए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के साथ आने के प्रस्ताव पर ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि हमें लोग पहले से ही बुलाते रहे हैं.

ओमप्रकाश राजभर ने साथ ही ये भी साफ किया कि अभी हम समाजवादी पार्टी के साथ ही गठबंधन में हैं. सीएम योगी की ओर से अपने मंत्रियों को दिए गए निर्देश पर ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि वहां क्या चल रहा है, ये सब जानते हैं. उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ ने अपने मंत्रियों को आदेश दे दिया है. अब सभी मंत्री ठीक हो जाएंगे.

ये भी पढ़ें -: I&B मंत्रालय ने की कार्रवाई- 747 वेबसाइट और 94 Youtube चैनल बंद, जानें पूरा मामला…

ये भी पढ़ें -: अडानी समूह को 14000 करोड़ रुपये की जरूरत, SBI से मांगा लोन


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-