India

‘द कश्मीर फाइल्स’ को मुफ्त दिखाने पर भड़के विवेक अग्निहोत्री, बोले- धंधे से खिलवाड़ नहीं

on-free-screeing-of-kashmir-files-in-haryana-vivek-agnihotri-requests-haryana-cm
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

विवेक अग्निहोत्री की फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ को लेकर रोजाना कोई न कोई नई खबर सामने आ रही है। इस फिल्म की कहनी को लेकर कई सवाल खड़े किए जा रहे हैं। हालांकि ये फिल्म दर्शकों द्वारा काफी ज्यादा पसंद की जा रही है। इस फिल्म में साल 1990 में कश्मीरी पंडितों के साथ हुए अन्याय के बारे में दिखाया गया है। ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर 150 करोड़ का आंकड़ा पार करने वाली है।

फिल्म को कई उत्तर प्रदेश, गुजरात समेत कई राज्यों में टैक्स फ्री कर दिया गया है। इसी बीच हरियाणा सीएम ने अपने राज्य में ये फिल्म मुफ्त में दिखाने का ऐलान कर दिया। जिसे लेकर फिल्म निर्माता विवेक अग्निहोत्री ने नाराजगी जताई। उन्होंने हरियाणा सीएम से फिल्म को मुफ्त में न दिखाने का अनुरोध किया।

ये भी पढ़ें -: कश्मीर फाइल्स पर मांझी के अलग सुर, बोले- ये आतंकियों की साजिश, फिल्म के निर्माताओं की जांच हो

विवेक अग्निहोत्री ने एक पोस्टर शेयर करते हुए ट्वीट किया था। जिसमें लिखा था,”चेतावनी: #TheKashmirFiles को खुले और मुफ्त में इस तरह दिखाना एक अपराध है। प्रिय @mlkhattar जी, मैं आपसे इसे रोकने का अनुरोध करता हूं।राजनीतिक नेताओं को रचनात्मक व्यवसाय और सच्चे राष्ट्रवाद का सम्मान करना चाहिए और समाज सेवा का अर्थ है कानूनी और शांतिपूर्ण तरीके से टिकट खरीदना।

उनके इस ट्वीट पर लोगों ने तरह-तरह की प्रतिक्रिया दी है। राजीव निगम ने लिखा,”भाई का कहना है कश्मीरी पंडित और फिल्म अपनी जगह है और धंधा अपनी जगह.. धंधे से खिलवाड़ नहीं होना चाहिए।” प्रभाकर कुमार मिश्रा ने लिखा,”क्यों? आपने तो कहा था कि पैसा कमाना आपका उद्देश्य नहीं है! अधिक से अधिक लोगों तक सच्चाई पहुंच रही है, इस पर तो आपको खुश होना चाहिए!”सुजाता ने लिखा, ”फिल्म तो आपने BJP के लिए ही बनाई है न, फिर कर दीजिए “तेरा तुझको अर्पण…” मोह माया त्याग दीजिए।

ये भी पढ़ें -: कश्मीर फाइल्स पर राजनीति करने के बजाय POK को वापस लाने पर बात करे BJP: संजय राउत

विवेक पाल सिंह ने लिखा, ”जिनके लिए तुमने फिल्म बनाई अब वही तुम्हारी फिल्म का प्रचार कर रहे हैं वो भी फ्री में क्या दिक्कत है? राष्ट्रहित में पैसे क्यों? फ्री में दिखाओ पूरे देश में फ्री में होना चाहिए। राष्ट्रहित की फिल्म है पैसे किस बात के।

शाकिल ने लिखा, ”जहां तक मुझे समझ आ रहा है कि फिल्म देखी नहीं बल्कि दिखाई जा रही है।मैं इस फिल्म निर्माताओं के सभी सदस्यों से अनुरोध करता हूं कि इस फिल्म से अर्जित धन कश्मीरी पंडितों को उनके पुनर्वास के लिए दिया जाए। मुझे उम्मीद है, जिन-जिन की आंखों से आंसू आए हैं, वो समझ पाएंगे।

ये भी पढ़ें -: भगवंत मान की तारीफ़ मैं बोले नवजोत सिंह सिद्धू- नए युग की शुरुआत

ये भी पढ़ें -: ‘द कश्मीर फाइल्स’ देखने के बाद बोले भूपेश बघेल- फिल्म आधा सच, कश्मीरी पंडितों की समस्या…

सोर्स – jansatta.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-