Politics

मोहन भागवत बोले 15 साल में देश बनेगा अखंड भारत तो लोग बोले- कभी महंगाई और बेरोजगारी की भी बात कर लिया करिए

mohan-bhagwat-said-that-the-country-will-become-a-hindu-nation-in-15-years
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के मुखिया मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) के बयान पर सोशल मीडिया यूजर्स तंज कसने लगे। दरअसल, मोहन भागवत द्वारा कहा गया कि सनातन धर्म ही हिंदू राष्ट्र है। इसके साथ ही उन्होंने दावा किया कि 15 साल में भारत फिर से अखंड भारत बनेगा, यह सब हम अपनी आंखों से देखेंगे। भागवत के बयान पर लोगों की प्रतिक्रियाएं आगे पढ़िए।

जानिए क्या बोले सोशल मीडिया यूजर्स : किशोर महाजन नाम के एक यूजर ने कमेंट किया कि माना सनातन धर्म हिंदू राष्ट्र है लेकिन उसमें दलित आदिवासी और बहुजन समाज की क्या भूमिका होगी? यही सोच वाले हिंदू राष्ट्र की संकल्पना का हम विरोध करते हैं। कवि गुर्जर नाम के एक यूजर ने पूछा, ‘ अखंड भारत का मतलब भी पता है या फिर बोलना ही आता है?’ परवेज का भी नाम के एक यूजर ने कहा – सबसे पहले पाकिस्तान को अखंड भारत में जोड़िए क्योंकि हर चुनाव में वही का रोना रोया जाता है।

ये भी पढ़ें -: तेलंगाना में BJP के मुस्लिम नेता ने मस्जिद में दान किया कूलर, लोगों ने उठाकर फेंका बाहर

अशोक शेखावत नाम के एक यूजर ने लिखा कि महंगाई, बेरोजगारी और अन्य समस्याओं पर कुछ नहीं कर सकते। केवल हिंदू राष्ट्र की बनाना है। स्वामी नाम के एक यूजर लिखते हैं – सभी महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर भी बोल लिया करिए। केवल हिंदू मुसलमान बोलना नहीं रह गया है क्या? दीपक कुमार ने कमेंट किया कि मेरे हिसाब से तो अखंड भारत में मुसलमान बहुसंख्यक हो जाएंगे?

मोहन भागवत ने कही है यह बात : उत्तराखंड के दौरे पर गए संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने कहा, ‘ 15 साल में भारत एक बार फिर अखंड राष्ट्र बनेगा। हम अहिंसा की बात कहेंगे पर यह बात कहते हुए हम हाथों में डंडा लिए रहेंगे।’ इसके साथ ही उनके द्वारा यह भी कहा गया कि शत्रुता या द्वेष का भाव नहीं होगा लेकिन दुनिया शक्ति को ही मानती है तो क्या हम कर सकते हैं। आरएसएस प्रमुख के बयान पर शिवसेना नेता संजय राउत ने जवाब दिया है।

ये भी पढ़ें -: रामनवमी जुलूस के दौरान भड़काऊ भाषण देने के आरोप में BJP MLA के खिलाफ मामला दर्ज

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने बोला हमला : मोहन भागवत के बयान पर हमला बोलते हुए सुप्रिया श्रीनेत (Supriya Shrinet) ने कहा कि सबसे पहले मैं यह पूछना चाहती हूं, मोहन भागवत कौन हैं? क्या वो प्रधानमंत्री, गृह मंत्री या फिर जज हैं। इन सब बातों को कहने वाले वह कौन होते हैं। इसके साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि संविधान की शपथ लेने वाली सरकार को इसका जवाब देना चाहिए।

ये भी पढ़ें -: UP MLC Election: आजमगढ़ में हार के बाद पार्टी पर ही भड़के बीजेपी प्रत्‍याशी

ये भी पढ़ें -: बंगाल में प्रदर्शन के दौरान सुवेंदु अधिकारी घायल, पैरों पर गिरा बैरिकेड

सोर्स – jansatta.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-