India

मस्जिद ने बच्‍चों की पढ़ाई के लिए दी जमीन, बंद किए लाउडस्‍पीकर, हर ओर हो रही सराहना

आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

कोलकाता.पश्चिम बंगाल (West Bengal) के जलपाईगुड़ी (Jalpaigudi) में सामाजिक सौहार्द की मिसाल पेश करते हुए एक मस्जिद इन दिनों चर्चा का विषय बनी हुई है. वैसे तो मस्जिदों में नमाज के लिए लाउडस्‍पीकर (Loudspeaker) का इस्‍तेमाल किया जाता है. लेकिन जलपाईगुड़ी की एक मस्जिद (Mosque) में बच्‍चों की पढ़ाई के लिए लाउडस्‍पीकर को बंद कर दिया गया है.

ऐसा इसलिए किया गया है ताकि बच्‍चों की पढ़ाई बिना परेशानी के चलती रहे. इस काम के लिए मस्जिद की सराहना हो रही है. इस मस्जिद के इमाम नजीमुल ने इस संबंध में जानकारी दी है. उन्‍होंने बताया कि यह मुस्लिम समाज का प्रयास है.

यह भी पढ़ें -: डिप्टी CM का संबोधन शुरू होते ही खाली हो गई कुर्सियां, रोकते रह गए BJP कार्यकर्ता

मस्जिद में स्‍कूल के बच्‍चों की पढ़ाई के लिए जगह दी गई है. इसके साथ ही इस बात का भी ध्‍यान रखा गया कि उनकी पढ़ाई में कोई दिक्‍कत ना हो. इसके लिए लाउडस्‍पीकर को भी बंद कर दिया गया है.

उनका कहना है कि जब मस्जिद में नमाज पढ़ी जाती है तो यहां सभी लाउडस्‍पीकर बंद कर दिए जाते हैं. मुस्लिम समाज के इस प्रयास को सभी जगह सराहना मिल रही है. मस्जिद के अंदर चलने वाले स्‍कूल के टीचर इंद्रनील साह का कहना है कि स्‍कूल के लिए मस्जिद की ओर से सहयोग मिल रहा है.

यह भी पढ़ें -: पिता चिल्लाता रहा बेटी को लग जाएगी साहब, लेकिन UP पुलिस बरसाती रही डंडे

शिक्षक का कहना है, ‘यहां मोबाइल नेटवर्क की समस्‍या है. बच्‍चों के पास भी स्‍मार्टफोन नहीं है. राज्‍य सरकार ने 9 से 12 कक्षा तक के बच्‍चों के लिए पढ़ाई शुरू कर दी है. बच्‍चों की पढ़ाई बिना परेशानी के चलते रहे, इसके लिए हमने स्‍कूल परिसर के बाहर ऑफलाइन क्‍लासेज शुरू करने का फैसला लिया है.

यह भी पढ़ें -: दहेज में 20 लाख औऱ फॉर्च्यूनर गाड़ी मांगने वाले दूल्हे ने माँगी माफ़ी, कही ये बात…

यह भी पढ़ें -: रवि शास्त्री बोले- पूरी कोशिश की गई कि मैं टीम इंडिया का कोच ना बन सकूं, पढ़ें विस्तार से…

सोर्स – hindi.news18.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-