India

बिहार में शराबबंदी की हकीकत: तस्करों के अड्डे से मिली SHO की बाइक, क्या संरक्षण में अवैध कारोबार चल रहा था?

liquor-recovered-two-arrest-vaishali-bihar-sho-bike-found-smugglers-base
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

तमाम दावों और कार्रवाइयों के बावजूद शराबबंदी (Liquor Ban in Bihar) वाले बिहार में इसकी तस्करी के मामले थमते नहीं दिख रहे। शराब के इस अवैध कारोबार के फलने-फूलने में इससे जुड़े धंधेबाजों के पुलिस (Bihar Police) के संरक्षण और सांठ गांठ के आरोप लगते रहे हैं। हालांकि, वैशाली जिले में कुछ ऐसा हुआ जिसने बिहार में पुलिस और शराब कारोबारियों की सांठगांठ की कलई ही खोल कर रख दिया।

बिहार में शराब के नेक्सस को ध्वस्त करने के लिए मुख्यालय में बनी टीम को शराब के एक बड़े रैकेट की खबर मिली। पटना के मद्य निषेध इकाई को खबर मिली की वैशाली जिले के बेलसर में शराब कारोबारियों का एक बड़ा रैकेट काम कर रहा है। पटना की टीम ने बेलसर में शराब तस्करों के अड्डे पर छापेमारी की मौके से शराब की खेप बरामद हुई, साथ ही मौके से 2 तस्करों को भी गिरफ्तार किया गया। लेकिन राजधानी पटना से छापेमारी करने पहुंची टीम को तस्करों के अड्डे से कुछ ऐसा भी मिला जिसके बाद खुद पुलिस मामले की लीपापोती में जुट गई।

ये भी पढ़ें -: BJP सांसद बोले- PM मोदी अब 75 के करीब, वो बताएं 2024 में कौन होगा BJP का चेहरा

दरअसल, छापेमारी के दौरान स्पेशल टीम ने तस्करों के अड्डे से एक मोटरसाइकिल बरामद की, जिस पर पुलिस लिखा था। जांच हुई तो, मोटरसाइकिल स्थानीय बेलसर थाने के ही थानेदार अशोक राम की निकली। शराब तस्करों के अड्डे पर थानेदार की बाइक मिलने के बाद जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को खबर दी गई। जिसके बाद हाजीपुर सदर SDPO राघव दयाल पूरे मामले की जांच के लिए मौके पर पहुंचे। शराब तस्करी के इस रैकेट और इससे स्थानीय थानेदार के जुड़े होने को लेकर लग रहे आरोपों पर पुलिस महकमे में सन्नाटा पसरा है।

हालांकि, जिले के एसपी ने शुरुआती जांच के बारे में कुछ भी बताने से इनकार कर दिया। मामले की जांच को पहुंचे सदर SDPO ने तो पुलिस की गाड़ी मिलने की बात तक से खुद को अनजान बता दिया। उन्होंने कहा कि पटना मद्य निषेध की टीम के सहयोग से छापेमारी की गई है। एक होटल है, यहां विदेशी शराब भी मिली। 2 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। पुलिस लिखी गाड़ी के सम्बन्ध में अभी तक तो कोई जानकारी नहीं है।

ये भी पढ़ें -: मोदी-शाह का कार्टून शेयर कर बोले प्रशांत भूषण- कश्मीरियों के जीते जा रहे दिल

वहीं देर शाम तक चली जांच के बाद स्थानीय बेलसर थाने के एक ड्राइवर को गिरफ्तार किया गया। बताया गया की थाने का तस्करों से सांठ-गांठ था और ड्राइवर ही थानेदार की मोटरसाइकिल शराब तस्करी के अड्डे पर ले गया था। ये मामला सीधे सीधे शराब तस्करों के साथ पुलिस की संलिप्तता का है, इसलिए अधिकारियों ने फिलहाल थानेदार को लेकर किसी सबूत या कार्रवाई को लेकर चुप्पी साध ली है।

ये भी पढ़ें -: पेट्रोल-डीजल के दामों के विकास को लेकर SP नेता ने अमिताभ बच्चन को घेरा, कही ये बात…

ये भी पढ़ें -: क्या BSP औऱ AIMIM मैं होने वाला है गठबंधन ? मायावती ने कही ये बड़ी बात…

सोर्स – navbharattimes.indiatimes.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-