India

अब तेज हुई गाड़ी की रफ्तार तो आटोमैटिक हो जाएगा चालान, जानिए लेजर स्पीड रडार कैमरे के बारे मैं…

laser-speed-radar-cameras-installed-in-lucknow
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

बढ़ते हादसों को कम करने के लिए राजधानी की ट्रैफिक पुलिस ने फर्राटा भर रहे वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए कमर कस ली है। राजधानी के चार मार्गों पर अब 40 से अधिक रफ्तार से अगर किसी वाहन ने फर्राटा भरा तो उसका लेजर स्पीड रडार कैमरे से आटोमैटिक चालान हो जाएगा। चालान होने के कुछ देर बाद ही वाहन स्वामी के मोबाइल पर ओवर स्पीड के कारण किए गए चालान का मैसेज भी आएगा। पायलट प्रोजेक्ट के तहत फिलहाल शहर के चार रूटों पर यह व्यवस्था की गई है। जल्द ही अन्य रूटों पर भी यह अत्याधुनिक कैमरे लगाए जाएंगे।

एक किमी दूरी से ट्रेस कर लेगा वाहनों की स्पीड, लगाए गए 10 कैमरे : उक्त चार मार्गों पर फर्राटा भरने वाले वाहनों पर पैनी नजर रखने के लिए 10 लेजर स्पीड रडार कैमरे लगाए गए हैं। यह कैमरा करीब एक किमी दूर सामने से आ रहे वाहनों की लेजर के माध्यम से स्पीड ट्रेस करने के साथ ही उसका नंबर भी देख लेंगे। स्पीड ट्रेस होते ही कंट्रोल रूम में बैठे पुलिस कर्मी गाड़ी नंबर के आधार पर चालान कर देंगे।

ये भी पढ़ें -: आ गई कोरोना की तीसरी लहर, इस देश मैं एक दिन में 26 हजार नए केस दर्ज

गति सीमा से अधिक रफ्तार में वाहन चलाने वालों के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है। इसके लिए प्रमुख रूटों पर लेजर स्पीड रडार कैमरे लगाए गए हैं। उनकी मदद से कंट्रोल रूम में बैठे पुलिस कर्मी वाहनों का चालान करेंगे। -रईस अख्तर, डीसीपी ट्रैफिक

यातायात नियम तोडऩे वालों पर बढ़ी सख्ती : आइटीएमएस (इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम) से संचालित चौराहों पर लगे कैमरों से यातायात नियमों का पालन न करने वाले वाहन चालकों पर सख्ती शुरू हो गई है। शुक्रवार को 276 वाहनों के चालान हुए। गुरुवार से शहर के 132 चौराहों पर कैमरों से नजर रखी जा रही है। कंट्रोल रूम में बैठे पुलिसकर्मी नो पार्किंग में खड़े वाहनों को और सुगम यातायात संचालन कराने के लिए कैमरे से चौराहों को देखकर एनाउंस कर लोगों को आगाह भी करते हैं।

ये भी पढ़ें -: अखिलेश बोले- आस्‍था के चंदे और देश की रक्षा के सौदों में भी कमाई, कुछ लोग अपना ईमान इस हद…

गुरुवार को हेलमेट न लगाने पर 80, बाइक पर तीन सवारी बैठाने पर 11, बिना सीट बेल्ट के चार पहिया वाहन चलाने पर 21, बिना प्रदूषण सर्टिफिकेट के नौ, अन्य नियमों के उल्लंघन में 10, रॉग साइड चलने पर 17 और नो पार्किंग में वाहन खड़ा करने पर 59 लोगों का चालान किया गया था। पुलिस ने यातायात नियमों के उल्लंघन में 3,58,800 शमन शुल्क वाहन चालकों से वसूला।

ये भी पढ़ें -: साइना नेहवाल ने योगी को दी बधाई तो जयंत चौधरी बोले- वो ‘सरकारी शटलर’ है

ये भी पढ़ें -: निर्वाणी अखाड़ा के संत के बड़े आरोप- ट्रस्ट के लोग लूट-खसोट में लगे हैं, हम कोर्ट जाएंगे

सोर्स – jagran.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-