Politics

पत्रकार को मारने दौड़े गृह राज्य मंत्री टेनी तो कुमार विश्वास ने तंज कसते हुवे कही ये बात…

kumar-vishwas-took-a-dig-on-ajay-kumar
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के बाद केंद्रीय गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी एक बार फिर से लोगों के निशाने पर आ गए हैं। दरअसल, उनसे जुड़ा एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है, जिसमें वह पत्रकार द्वारा आशीष मिश्रा के संबंध में सवाल पूछे जाने पर नाराज होते और अभद्रता करते नजर आए। पत्रकार से दुर्व्यवहार करने के साथ-साथ वह उन्हें मारने तक के लिए दौड़ पड़े। इस मामले पर पत्रकार रुबिका लियाकत ने डिबेट शो किया, जिसमें उन्होंने जदयू प्रवक्ता से सवाल किया। उनके इस शो पर अब मशहूर पत्रकार कुमार विश्वास ने चुटकी ली है।

कुमार विश्वास द्वारा साझा किये गए वीडियो में पत्रकार रुबिका लियाकत ने जदयू प्रवक्ता अजय आलोक से सवाल किया, “ऐसे मंत्री को क्या पद पर रहना चाहिए, जो महज सवाल पूछने पर लोगों को धमकाए?” उनकी बात का जवाब देते हुए अजय आलोक ने कहा, “एक केंद्रीय मंत्री रहते हुए उन्होंने जो बर्ताव किया, उसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें -: इस शहर के स्कूली बच्चों को बस्ते के बोझ से मिली मुक्ति, एक कॉपी लेकर जाते है स्कूल

अजय आलोक ने रुबिका लियाकत का जवाब देते हुए कहा, “इसे कोई बर्दाश्त करेगा। लेकिन किसी भी जन-प्रतिनिधी द्वारा अशोभनीय व्यवहार बिल्कुल नहीं होना चाहिए।” उनकी बात पर रुबिका लियाकत ने सवाल किया, “कुर्सी से हट जाना चाहिए ना? यह तो स्वीकार्य नहीं है। उन्हें पद से हटा देना चाहिए?” उनकी बात पर जदयू प्रवक्ता ने कहा, ‘बिल्कुल, लेकिन भाजपा आलाकमान निर्णय लेगा, मैं कोई पीएम नहीं हूं।

अजय मिश्रा टेनी पर हुए इस शो पर डॉक्टर कुमार विश्वास ने चुटकी ली और लिखा, “तुम्हीं ने दर्द दिया है, तुम्हीं दवा देना।” कुमार विश्वास के अलावा लोग भी मामले पर खिंचाई करने से पीछे नहीं हटे। राज केसरवानी नाम के यूजर ने शो पर कमेंट करते हुए लिखा, “अगर पत्रकार और टीवी चैनल चौथे स्तंभ की गरीमा को मजबूती से बनाए रखते तो नेता जी की हिम्मत नहीं होती। अब जैसा बोया है, वैसा ही काटना पड़ेगा।

यह भी पढ़ें -: VHP नेता साध्वी सरस्वती लोगों से बोली- गाय की रक्षा के लिए अपने पास रखें तलवार

एक यूजर ने शो को लेकर पत्रकार रुबिका लियाकत पर भी तंज कसा और लिखा, “पूरा देश इस्तीफे की मांग कर रहा है, यह बात रुबिका जी को तब याद आई, जब उनके पत्रकार से बदसुलूकी हुई। वरना अभी तो देश सिर्फ ‘काशी काशी’ कर रहा था।” कर्मजीत सिंह नाम के यूजर ने निशाना साधते हुए लिखा, “खुद के रिपोर्टर को मार पड़ी तो लोकतंत्र याद आ गया। जिस दिन किसान पर जीब चढ़ाई गई थी, तब टेनी का बचाव कर रहे थे।

यह भी पढ़ें -: अयोध्या के पुजारी बोले- सत्ता से मुक्त होने वाली है बीजेपी इसलिए गई है वाराणसी, Video वायरल

यह भी पढ़ें -: बेटे पर सवाल किया तो पत्रकार पर भड़के अजय मिश्र, पत्रकरों को दी गालियां- दिमाग़ ख़राब है क्या बे

सोर्स – jansatta.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-