India

मस्जिद को गेरुआ रंग में रंगे जाने से भावुक हुआ  युवक, रोते हुए कही ये बात… वीडियो वायरल

kashi-vishwanath-dham-masjid-painted-saffron-naushad-ali-got-emotional-video-viral
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संंसदीय क्षेत्र वाराणसी में 13 दिसंबर को काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण किया। वहीं पीएम मोदी के काशी आगमन से पहले भव्य तैयारियां की गई थीं। इस दौरान पीएम मोदी जिस रास्ते लोकार्पण करने जाने वाले थे उस दौरान पड़ने वाली सभी इमारतों को एक रंग में रंगा गया, इसमें एक मस्जिद भी शामिल थी। इस बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक शख्स मस्जिद को गेरुआ रंग में देख भावुक हो गया।

बर्दाश्त के काबिल नहीं: बता दें कि सामने आये वीडियो में नौशाद आलम नामक शख्स मस्जिद का रंग बदलने को लेकर कह रहा है, “मैं कोलकाता से आया हूं, विजिटर हूं। मुझे समझ नहीं आ रहा है कि मंदिर को पूरा विशाल बनाया गया है और मस्जिद को ढक दिया गया, यह क्या है, मैं इस दर्द को महसूस कर रहा हूं। यह बर्दाश्त के काबिल नहीं है। हिंदुस्तान है यह, लोकतंत्र में सबका हक बराबर है। एक चीज को ढककर दूसरे को विशाल कर दीजिए। यह ठीक नहीं है।

यह भी पढ़ें -: विराट कोहली ने सौरव गांगुली के दावे पर उठाया सवाल, बोले-मुझे कभी कप्तान बने रहने…

40 साल की जिंदगी में ऐसा दुख कभी नहीं उठाया: बता दें कि शख्स अपनी बात कहते-कहते रोने लगा। उसने रोते हुए कहा, “विकास की बात छोड़िए, यहां लोगों के अधिकारों को दबा दिया गया है।” शख्स ने कहा, “मैं यहां पहली बार आया हूं, यहां पहली बार नमाज अदा किया है। इसे देखकर जो दुख हुआ है, मैंने अपनी 40 साल की जिंदगी में ऐसा दुख कभी नहीं उठाया।” बता दें कि यह वीडियो काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण के दौरान का बताया जा रहा है। इस वीडियो को भाजपा दिल्ली प्रवक्ता अजय सेहरावत ने शेयर किया है।

यह भी पढ़ें -: मुजफ्फरनगर में RLD के पोस्टर पर बवाल, राकेश टिकैत ने तस्वीर लगाने पर कही ये बात…

मस्जिद कमेटी से अनुमित नहीं ली: गौरतलब है कि काशी में अंजुमन इंतजामिया मस्जिद कमेटी के मोहम्मद एजाज इस्लाही ने मस्जिद के रंग को बदलने को लेकर जानकारी दी थी कि मस्जिद पहले सफेद रंग की थी, जिस पर केसरिया रंग पोत दिया गया। हालांकि ऐसा करने से पहले मस्जिद कमेटी से अनुमित नहीं ली गई। उन्होंने आरोप लगाया कि साजिश के तहत मस्जिद का रंग रातों रात बदल दिया गया।

फिलहाल इस घटना को लेकर बवाल बढ़ता देख प्रशासन ने मस्जिद को फिर से सफेद रंग रंगवा दिया था। वाराणसी विकास प्राधिकरण (वीडीए) के सचिव और काशी विश्वनाथ मंदिर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील वर्मा ने भवनों को रंगे जाने को लेकर कहा था कि एकरूपता दर्शाने के लिए विश्वनाथ मंदिर की ओर जाने वाला रास्ते के भवनों को एक रंग में रंगा जा रहा है।

यह भी पढ़ें -: पत्रकार को मारने दौड़े गृह राज्य मंत्री टेनी तो कुमार विश्वास ने तंज कसते हुवे कही ये बात…

यह भी पढ़ें -: क्या हरभजन स‍िंंह शुरू करने वाले हैं राजनीतिक पारी? अटकले तेज़…

सोर्स – jansatta.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-