Politics

कांवड़ यात्रा पर केंद्र को नोटिस जारी करते हुवे SC बोला- PM तो बोले थे जरा भी लापरवाही नहीं कर सकते

kanwar-yatra-2021-supreme-court-issues-notices-cites-pm-modis-statement
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

कोविड-19 के बीच उत्‍तर प्रदेश सरकार के कांवड़ यात्रा की अनुमति देने से सुप्रीम कोर्ट चिंतित है। बुधवार को अदालत ने इस मामले का स्‍वत: संज्ञान लिया। जस्टिस आरएफ नरीमन की अध्यक्षता वाली बेंच ने केंद्र सरकार और यूपी सरकार को नोटिस जारी किया है। शुक्रवार को मामले की सुनवाई होगी। अदालत ने तीसरी लहर को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की टिप्‍पणी का भी जिक्र किया। अदालत ने कहा कि पीएम ने कहा था कि ‘हम जरा भी समझौता नहीं कर सकते।

सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार सुबह अखबार में छपी एक रिपोर्ट पर स्वत: संज्ञान लिया, जिसमें कहा गया था कि 25 जुलाई से 6 अगस्त तक कांवड़ यात्रा प्रस्तावित है। अदालत ने अपने आदेश में कहा है, ‘खबर में प्रधानमंत्री के बयान का भी जिक्र है जब वह कुछ मुख्‍यमंत्रियों से मिले और लोगों ने पूछा कि कोविड की तीसरी लहर कब आएगी तो उन्‍होंने कहा कि उसे रोकना हमारे ऊपर है और हम जरा भी लापरवाही नहीं कर सकते।’ कोर्ट ने गृह सचिव से इस खबर पर जवाब देने को कहा है। आदेश में कहा गया कि यूपी और उत्‍तराखंड के प्रमुख सचिव तथा केंद्र के गृह सचिव शुक्रवार सुबह एफिडेविट दाखिल करेंगे।

ये भी पढ़ें -: 4 बच्चों के पिता रविकिशन पेश करेंगे संसद में जनसंख्या नियंत्रण विधेयक, बताएंगे 2 से ज्यादा बच्चे क्यों नही होने चाहिए

उत्‍तराखंड सरकार ने मंगलवार को कहा कि उसने कांवड़ यात्रा रद्द कर दी है। मुख्‍यमंत्री पुष्‍कर सिंह धामी ने अधिकारियों के साथ बैठक के बाद यह फैसला क‍िया। बाद में मीडिया से बातचीत में उन्‍होंने कहा, “हमने यात्रा रद्द करने का फैसला क‍िया है। राज्‍य में नया वैरिएंट सामने आया है, ऐसे में हम नहीं चाहते कि हरिद्वार महामारी का केंद्र बने। लोगों की जिंदगी हमारी प्राथमिकता है। हम उसके साथ खिलवाड़ नहीं कर सकते… हम कोई चांस नहीं लेंगे।” हालांकि यूपी में कोविड से जरूरी सावधानियों के साथ यात्रा की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं।

मैं बहुत जोर देकर कहूंगा हिल स्टेशन में, मार्केट में, बिना मास्क पहने, बिना प्रोटोकॉल का अमल किए बिना भारी भीड़ का उमड़ना… मैं समझता हूं यह चिंता का विषय है, यह ठीक नहीं है। कई बार हम यह तर्क सुनते हैं और कुछ लोग सीना तानकर बोलते हैं- अरे भाई, तीसरी लहर आने से पहले हम एंजॉय करना चाहते हैं। यह बात लोगों को समझाना जरूरी है कि तीसरी लहर अपने आप नहीं आएगी। – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

ये भी पढ़ें -: सिद्धू ने दिए AAP से जुड़ने के संकेत, लोग बोले- ये बंदा पार्टी बदलते कहीं पाकिस्तान न चला जाए

मंगलवार को एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ‘कई बार लोग सवाल पूछते हैं कि तीसरी लहर के बारे में क्या तैयारी है? तीसरी लहर पर आप क्या करेंगे? आज सवाल यह होना चाहिए हमारे मन में कि तीसरी लहर को आने से कैसा रोका जाए।’ उन्‍होंने चेताया कि कोरोना ऐसी चीज है, वह अपने आप नहीं आती है। कोई जाकर ले आए, तो आती है। इसलिए हम अगर सावधानी से रहेंगे, तो तीसरी लहर को रोक पाएंगे।

ये भी पढ़ें -: टिकैत का मोदी सरकार पर हमला, बोले- संसद अहंकारी और अड़ियल हो तो जनक्रांति निश्चित होती है

ये भी पढ़ें -: UP के पंचायत चुनाव में हिस्ट्रीशीटर नेता के खिलाफ गाना गाने पर गायक पीयूष ‘प्रेमी’ पर हमला

सोर्स – navbharattimes.indiatimes.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-