Politics

ज्योतिरादित्य सिंधिया की जन आशीर्वाद यात्रा में कुछ ऐसा हुवा कि दर्ज हुआ मामला, जानें विस्तार से…

jyotiraditya-scindia-jan-ashirwad-yatra-indore-cases-registered
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Jyotiraditya Scindia Jan Ashirwad Yatra: जनाधार बढ़ाने के उद्देश्य से बीजेपी के नए मंत्री अपने अपने राज्यों में जन आशीर्वाद यात्राएं (Jan Ashirwad Yatra) निकाल रहे हैं लेकिन अब यह यात्राएं विवादों के घेरे में नजर आ रही हैं। मध्य प्रदेश के इंदौर (Indore) जिले में ज्योतिरादित्य सिंधिया (Union Minister Jyotiraditya Scindia) के स्वागत में जन आशीर्वाद यात्रा का आयोजन किया गया था। इस यात्रा में समर्थकों के साथ एक घोड़ा भी नजर आ रहा था, जोकि भगवा रंग से रंगा गया था, इसे लेकर अब नया विवाद पैदा हो गया। घोड़े को रंगे जाने पर आपत्ति दर्ज कराते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया (Union Minister Jyotiraditya Scindia) के जन आशीर्वाद यात्रा संचालकों के खिलाफ इंदौर के संयोगितागंज थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार ज्योतिरादित्य सिंधिया की रैली में एक घोड़ा भगवा रंग में सबका ध्यान अपनी तरफ खींच रहा था। घोड़े की पीठ पर भारतीय जनता पार्टी का चुनाव चिह्न कमल को बनाया गया था। साथ ही उसकी पीठ को हरे रंग से रंगा गया था। रैली में घोड़े को इस तरह इस्तेमाल करना पशु प्रेमियों को नागवार गुजरा। उन्होंने इसको लेकर आपत्ति जताई और इसे पशु के साथ की गई क्रूरता करार दिया।

ये भी पढ़ें -: अमेरिकी संसद के बाहर विस्फोटकों से लदा ट्रक मिलने से सनसनी, जानिए पूरा मामला…

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार भाजपा के पूर्व पार्षद रामदास गर्ग ने इस घोड़े को बुलवाया था, आपत्ति दर्ज कराने वाले पशु प्रेमियों का कहना है कि भारतीय जनता पार्टी अपने सियासी फायदे के लिए पशुओं का इस्तेमाल भी कर डाला। पीपुल्स फॉर एनीमल नाम की संस्था ने इस पर अपना विरोध दर्ज कराते हुए इसे पशुओं के प्रति क्रूरता का निवारण अधिनियम 1960 का उल्लंघन बताया और रैली संचालकों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई।

बीजेपी नेता संग बदसलूकी: ज्योतिरादित्य सिंधिया की जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान एक बीजेपी नेता के साथ बदसलूकी का मामला भी सामने आया था। इस यात्रा का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खासा शेयर किया जा रहा हैं जहां बीजेपी के गोविंद मालू के साथ पुलिस द्वारा न सिर्फ दुर्व्यवहार किया गया बल्कि उन्हें धक्के देकर बाहर निकाला गया।

ये भी पढ़ें -: केंद्रीय मंत्री ने रवींद्रनाथ टैगोर पर ऐसा क्या कह दिया कि पश्चिमी बंगाल में विवाद हो गया.

मुंबई में जनआशीर्वाद रैली में शामिल कार्यकर्ताओं के खिलाफ FIR: इसके अलावा बीजेपी की जन आशीर्वाद यात्रा पर विवाद महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में भी देखने को मिला। यहां मुंबई पुलिस द्वारा रैली के दौरान कोविड निय़मों की अनदेखी करने के आरोप में 19 FIR दर्ज की गई हैं।

ये भी पढ़ें -: अखिलेश का CM योगी पर निशाना- बुलडोजर की प्रथा चलाने वाले रखें याद, बने होंगे उनके भी मकान

ये भी पढ़ें -: तालिबान के खिलाफ अफगानिस्तान में मजबूत होने लगा विरोधी गुट, सालेह का साथ देंगे वारलॉर्ड रशीद दोस्तम

सोर्स – jansatta.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-