India

पत्रकार सुशांत सिन्हा ने अग्निपथ योजना का विरोध करने वालों से पूछा सवाल तो लोग करने लगे ट्रोल

journalist-sushant-sinha-tweeted-about-the-agneepath-scheme-people-trolled
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

केंद्र सरकार द्वारा अग्निपथ योजना के तहत तीनों सेनाओं में भर्ती की घोषणा के बाद से ही पूरे देश में युवा इसके विरोध में जबर्दस्त प्रदर्शन कर रहे हैं। बिहार में उपद्रवी लोगों ने कई ट्रेनों में आग लगा दी है, वहीं उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान और मध्यप्रदेश के इंदौर ग्वालियर में भी रेल मार्ग को बाधित किया गया। अग्नीपथ योजना पर सोशल मीडिया यूजर्स भी कई तरह के रिएक्शन देते नजर आ रहे हैं। इस विषय पर ही पत्रकार सुशांत सिन्हा (Sushant Sinha) ने ट्वीट किया तो लोगों ने उन्हें ट्रोल किया।

सुशांत सिन्हा का ट्वीट : पत्रकार द्वारा लिखा गया कि अग्निवीर स्कीम को लेकर नाराजगी समझ आ सकती है लेकिन ये समझ से परे है कि आगजनी करने वाले खुद को फौज में जाने के योग्य कैसे मानते हैं? चर्चा कीजिए, विरोध कीजिए लेकिन आगजनी कीजिएगा तो आपका ही रिकॉर्ड खराब होगा और मौका मिला तो भी फौज में नहीं जा पाएंगे। फौज बराबर अनुशासन, मत भूलें।

ये भी पढ़ें -: नेताओं पर भड़के युवा-हम गोली खाने को करें 4 साल की नौकरी, ये AC में बैठे करेंगे 40 साल राज

यूजर्स की प्रतिक्रियाएं : सूरज सिंह नाम के एक यूजर ने पूछा कि आपकी बातों से सहमत हैं लेकिन 71 साल के व्यक्ति देश चला सकते हैं लेकिन 22 साल का नौजवान रिटायर कर दिया जायेगा। इस पर सवाल क्यों नहीं करते? अभिनय कुमार नाम के एक यूजर ने लिखा – कभी एसी कमरों से बाहर निकलकर देखिएगा तो समझ में आएगा बेरोजगारी क्या चीज होती है।

तारिक अनवर नाम के ट्विटर हैंडल से लिखा गया कि तुम बहुत अनुशासित हो। तुम अग्निपथ योजना के तहत फौज में जाने की शुरूआत स्वयं से करो। सुधाकर महाराज नाम के एक यूज़र ने सवाल किया – अग्नीपथ योजना का विरोध क्यों नहीं करते जैसे कृषि बिल का समर्थन कर रहे थे? मोहम्मद शमी नाम के एक यूजर ने लिखा कि आज लहजा बदला नजर आ रहा है, 4 दिन पहले जो ट्वीट किया था आज ऐसा क्यों नहीं? क्या इन्हें राशन कार्ड से लेकर तमाम सरकारी सुविधाओं से वंचित नहीं रखा जाना चाहिए?

ये भी पढ़ें -: देश के मुसलमानों से बोले विशाल ददलानी- आपका दर्द हमारा भी, देश की राजनीति पर शर्मिंदा हूं

जानिए क्यों हो रहा विरोध प्रदर्शन : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 3 सेनाओं के प्रमुखों के साथ हाल में ही घोषणा की कि अब सेना में 4 सालों के लिए नौकरी दी जाएगी। इस योजना को अग्निपथ स्कीम का नाम दिया गया है। इसके तहत हुआ 4 साल के लिए सेना में शामिल हो सकते हैं।

विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्रों का कहना है कि हम सेना में जाने के लिए बहुत कड़ी मेहनत करते हैं। इसे 4 साल के लिए सीमित कैसे किया जा सकता है? हम 4 साल के बाद काम करने कहां जाएंगे। सरकार को इस स्कीम को वापस ले लेना चाहिए।

ये भी पढ़ें -: अग्निपथ योजना के भारी विरोध के बीच आई सरकार की सफाई, पढ़ें विस्तार से…

ये भी पढ़ें -: अब PM मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी शुरू हुवा अग्निपथ योजना का विरोध

ये भी पढ़ें -: बिहार डिप्‍टी CM रेणु देवी औऱ प्रदेश BJP अध्‍यक्ष संजय जायसवाल के घर पर पथराव, Video देखें..

सोर्स – jansatta.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-