India

पत्रकार राजदेव रंजन म’र्डर केस मैं CBI ने जिस गवाह को मृत घोषित किया वो कोर्ट पहुंच बोली- हुजूर, मैं जिंदा हूं

journalist-rajdev-ranjan-murder-case
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

बिहार के चर्चित पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड मामले की महिला गवाह ने कोर्ट पहुंचकर सबको हैरत में डाल दिया। मुजफ्फरपुर की सीबीआई अदालत में शुक्रवार को राजदेव रंजन हत्याकांड मामले की सुनवाई चल रही थी और बादामी देवी इस मामले में गवाह थी। इसी दौरान वो गवाही देने के लिए कोर्ट पहुंच गईं, जिससे लोग हैरान हो गए। कोर्ट पहुंचते ही बादामी देवी ने कहा कि हुजूर, मैं जिन्दा हूं।

बादामी देवी के वकील ने बताया, “बादामी देवी सीबीआई की ओर से ही गवाह बनाई गईं थीं, लेकिन सीबीआई ने ही कोर्ट में वेरिफिकेशन रिपोर्ट में कहा कि बादामी देवी की मृत्यु हो चुकी है। जब बादामी देवी को इसकी जानकारी सिवान के समाचार पत्रों के माध्यम से मिली, तो उन्होंने फैसला किया कि वो कोर्ट में खुद प्रस्तुत होंगी और अपने जिन्दा होने का सबूत देंगी।

ये भी पढ़ें -: कमल हासन की ‘विक्रम’ के आगे फ़ीकी पड़ी अक्षय की ‘सम्राट पृथ्वीराज’, पहले दिन की कमाई में है इतना अंतर

वहीं अब सत्र न्यायलय के न्यायाधीश ने सीबीआई को नोटिस दिया कि 20 जून से पहले सीबीआई इस मामले पर अपना जवाब दाखिल करे। बताया जाता है कि बादामी देवी के मकान पर वीरेंद्र पांडे नाम के व्यक्ति ने कब्जा किया हुआ है, लेकिन वो अभी भी उसी मकान में रह रही हैं। जबकि उनकी गवाही का मुद्दा भी यही था कि कैसे उनकी जमीन और मकान के बदले राजदेव रंजन हत्याकांड में शामिल शूटर के साथ सौदेबाजी की गई।

24 मई को सीबीआई ने कोर्ट में बताया था कि बादामी देवी की मृत्यु हो चुकी है। वहीं बादामी देवी ने सरकार से न्याय की मांग की है और बताया कि उन्होंने अपने दामाद के साथ मिलकर इस मामले को दर्ज कराया है। उन्होंने बताया कि वो 80 साल से अधिक हैं और वीरेंद्र पांडे के साथ मिलकर सीबीआई ने उनको मृत घोषित कर दिया है।

ये भी पढ़ें -: ज्ञानवापी में जलाभिषेक करने जा रहे थे अविमुक्तेश्वरानंद, प्रशासन ने नहीं दी इजाजत

बता दें कि बिहार के सिवान में 13 मई 2016 को पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या हो गई थी और बाद में मामले को सीबीआई को सौंप दिया गया था। सीबीआई ने पूर्व सांसद और दिवंगत आरजेडी नेता मोहम्मद शाहबुद्दीन को भी इस मामले में दोषी बनाया था। हालांकि पिछले वर्ष कोरोना के दौरान पूर्व सांसद मोहम्मद शाहबुद्दीन का निधन हो गया था। शाहबुद्दीन तिहाड़ जेल में बंद थे।

ये भी पढ़ें -: रविशंकर प्रसाद का दावा- नरेंद्र मोदी ने तीन घंटे तक रुकवाया था रूस-यूक्रेन यु’द्ध औऱ…

ये भी पढ़ें -: खुद से शादी करने वाली है ये लड़की, BJP नेता बोले- मंदिर में नहीं लेने देंगे फेरे

ये भी पढ़ें -: शोएब जमई बोले- मोहन भागवत या तो ‘मेकओवर’ कर रहे हैं या इनका हाल भी तोगड़िया जैसा हो गया है

सोर्स – jansatta.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-