Politics

करनाल में किसानों पर लाठीचार्ज पर JJP नेता दिग्विजय चौटाला का बड़ा बयान, कही ये बात…

jjp-leader-digvijay-chautala-on-lathi-charge-on-farmers-in-karnal
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

जननायक जनता पार्टी (JJP) युवा नेता दिग्विजय चौटाला (Digvijay Chautala) का करनाल में किसानों पर लाठीचार्ज (Lathi Charge on Farmers in Karnal) और SDM के वायरल वीडियो (SDM Video Viral) पर बड़ा बयान सामने आया है. दिग्विजय चौटाला ने कहा कि सीएम के कार्यक्रम के विरोध पर प्रशासन एक्शन लेता है. किसी भी अधिकारी को ऐसी भाषा का ना हक है और न ही कुछ शोभा देता है. ऐसे अधिकारी पर सरकार जरूर कार्यवाई करेगी.

दिग्विजय ने कहा कि किसान आंदोलन में सभी विपक्षी पार्टियों के असामाजिक तत्व घुसे, ऐसे लोगों द्वारा सत्ताधारी नेताओं का विरोध और उन पर पत्थरबाजी ठीक नहीं है. भिवानी पहुंंचे JJP के वरिष्ठ नेता दिग्विजय चौटाला ने कहा कि किसान आंदोलन में सभी विपक्षी पार्टियों के असामाजिक तत्व शामिल हो गए हैं, जो सतापक्ष का जिस प्रकार से विरोध कर पत्थरबाजी करते हैं, वो किया हिसाब से सही नहीं. साथ ही एसडीएम की कार्यशैली पर उन्होने सवाल उठाए और कहा कि सरकार उनके खिलाफ कार्रवाई करेगी.

ये भी पढ़ें -: लाठीचार्ज पर बोले टिकैत- देश में ‘सरकारी तालिबानों’ का कब्जा, कमांडर भी दे रहे सिर फोड़ने के आदेश

बता दें कि दिग्विजय चौटाला रविवार को भिवानी में चौधरी देवीलाल सदन में आयोजित जिला स्तरीय युवा सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे थे. दिग्विजय चौटाला ने प्रेसवार्ता की और किसान आंदोलन, किसानों पर लाठीचार्ज तथा करनाल से एसडीएम की वायरल वीडियो पर अपने विचार रखे. दिग्विजय चौटाला ने करनाल में किसानों पर हुये लाठीचार्ज पर कहा कि सीएम के कार्यक्रम का विरोध होगा तो प्रशासन कार्यवाही करेगा, लेकिन एक अधिकारी द्वारा किसानों के सिर फोड़ने की बात कहना ना तो जायज है और ना शोभा देती.

दिग्विजय ने कहा कि ऐसे अधिकारी पर सरकार जरूर कार्रवाई करेगी. साथ ही उन्होने कहा कि किसान आंदोलन में सभी विपक्षी पार्टियों के असामाजिक तत्व शामिल हो गए हैं, जो सत्ताधारी नेताओं का विरोध कर पत्थरबाजी करते हैं, वो किसी लिहाज से सही नहीं है. इसके साथ ही दिग्विजय चौटाला ने कहा कि किसान 9 महीने से आंदोलन कर रहे है. ऐसे में किसानों की मौत, पीड़ा व निसान का उन्हें बहुत दुख है. पर ये समस्या है, समाधान कोई किसान नेता नहीं कर सका.

ये भी पढ़ें -: अब नए राज्य में शिफ्ट होने पर आपको अपने पर्सनल व्हीकल का रजिस्ट्रेशन ट्रांसफर नहीं कराना होगा, जानें नया नियम…

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार कृषि क़ानूनों में जो भी कमी या ख़ामी हो, उसे दूर करने के लिए तैयार है, लेकिन बैठकर चर्चा करने को कोई तैयार नहीं है. वहीं, हरियाणा सरकार के नए भूमि अधिग्रहण बिल को सही बताया और साथ ही कहा कि किसानों के साथ उनकी पार्टी किसी भी तरह से ग़लत नहीं होने देगी. दिग्विजय ने कहा कि यूं तो 9 महीने से किसानों व सरकार में टकराव लगातार जारी है. पर हर हाल में करनाल में हुये किसानों पर लाठीचार्ज व उससे पहले एसडीएम के विवादित बोलों ने टकराव के साथ सियासत में भी उबाल ला दिया है.

ये भी पढ़ें -: नरेश टिकैत ने बताया- करनाल में हुई किसानों पर लाठीचार्ज के पीछे सरकार की क्‍या है मंशा

ये भी पढ़ें -: कोल्ड ड्रिंक, कूलर और बढ़िया भोजन देकर रेप आरोपी का VIP ट्रीटमेंट कर रही UP पुलिस

सोर्स – hindi.news18.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-