Politics

जीतन राम मांझी ने नाराज ब्राह्मण-पंडितों को दिया भोज का न्योता, लेकिन रख दी ये शर्त…

jitan-ram-manjhi-invites-brahmin-community-for-bhoj-with-one-condition
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Jitan Ram Manjhi On Brahmin Community : ब्राह्मण समुदाय को लेकर दिए गए आपत्तिजनक बयान के बाद विवादों में घिरे बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी (Former CM Jitan Ram Manjhi) ने अब एक नया दांव चला है। जीतन राम मांझी ने ऐलान किया है कि वो अपने आवास पर ब्राह्मणों को भोज देंगे। इसके लिए उन्होंने खुले आम ब्राह्मणों को न्योता दिया है। साथ ही उनके न्योते पर आने वाले ब्राह्मणों के लिए शर्त भी रख दी है।

हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने गुरुवार को एक ट्वीट करते हुए ब्राह्मणों को न्योता भेजा है। मांझी ने लिखा- ‘वैसे ब्राम्हण-पंडित जिन्होंने कभी मांस-मदिरा का सेवन नहीं किया हो, चोरी-डकैती नहीं की हो वह 27 दिसम्बर 21 को पटना स्थित मेरे सरकारी आवास पर दोपहर 12.30 बजे आएं और दलित-आदिवासी परिवारों के साथ ब्राम्हण-पंडित भोज में शामिल होकर समाजिक एकता का परिचय दें।

यह भी पढ़ें -: पूर्व प्रधानमंत्री के सम्मान में हवन पर साथ दिखे राकेश टिकैत-जयंत चौधरी, अटकलें हुईं तेज

जीतन राम मांझी के बयान के बाद हिन्दू पुत्र और श्रीराम सेना संगठन के कार्यकर्ता पटना में गुरुवार को उनके आवास पर पहुंच गए। जब उन्हें पुलिस ने रोक दिया तो संगठन के कार्यकर्ताओं ने सड़क पर ही बैठकर सत्यनारायण भगवान की पूजा की, शंख बजाया और प्रसाद भी बांटा। कार्यकर्ताओं ने कहना था कि वो जीतन राम मांझी के विचारों की शुद्धि के लिए आए हैं।

उन्होंने कहा कि मांझी ने जिस तरीके से ब्राह्मणों को गाली दी है वो शर्मनाक है। इन कार्यकर्ताओं ने यहां तक कहा कि आज वो जीतन राम मांझी के साथ खाना खाएंगे और बताएंगे कि ब्राह्मण छुआछूत नहीं करते।

यह भी पढ़ें -: UP: नारियल के बाद अब उंगली से ही खोद दी सड़क, गांव वालों ने रुकवाया काम

इधर ब्राह्मण विरोधी बयान के चलते कहीं पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी का पुतला फूंका जा रहा है तो कहीं परिवाद दायर किया जा रहा है। इसी क्रम में गुरुवार को बिहार के तीन जिलों की कोर्ट में परिवाद दायर कराया गया है। रोहतास जिले की सासाराम कोर्ट, भागलपुर कोर्ट और बगहा कोर्ट परिवार दायर किया गया। मांझी के खिलाफ इससे पहले मुजफ्फरपुर, छपरा, बेतिया और पूर्णिया में भी परिवाद दायर हो चुका है।

यह भी पढ़ें -: कोर्ट ने सलमान खुर्शीद के खिलाफ FIR दर्ज करने का दिया आदेश, जानें पूरा ममला…

यह भी पढ़ें -: पूर्व BSF जवान ने अजय मिश्रा टेनी और केशव प्रसाद पर FIR दर्ज करने की मांग, SC मैं याचिका

सोर्स – navbharattimes.indiatimes.com.  Jitan Ram Manjhi On Brahmin Community


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-