Politics

साइना नेहवाल ने योगी को दी बधाई तो जयंत चौधरी बोले- वो ‘सरकारी शटलर’ है

jayant-chaudhary-slams-saina-nehwal-on-congratulate-cm-yogi-adityanath
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा की जीत के लिए मशहूर बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल (Saina Nehwal) का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) को बधाई देना राष्ट्रीय लोक दल (RLD) के अध्यक्ष जयंत चौधरी (Jayant Chaudhary) को नागवार गुजरा और उन्होंने साइना को ”सरकारी शटलर” करार दिया. साइना ने शनिवार रात एक ट्वीट कर मुख्यमंत्री को जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में भाजपा की जोरदार जीत के लिए बधाई दी. उसके करीब डेढ़ घंटे बाद रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी ने एक ट्वीट कर इस पर तल्ख टिप्पणी की.

जयंत चौधरी ने बैडमिंटन में इस्तेमाल होने वाली शब्दावली का प्रयोग करते हुए ट्वीट में कहा “सरकारी शटलर जनादेश को कुचलने की भाजपा की क्षमता का बखान कर रही हैं. मैं समझता हूं कि मतदाताओं को अपने निर्णय को प्रभावित करने की कोशिश करने वाले सेलिब्रिटी लोगों पर करारा ड्रॉप शॉट खेलने की जरूरत है.

ये भी पढ़ें -: राज्य इकाइयों को BJP का निर्देश- राशन बैग पर हो कमल का चिह्न, दुकान के बाहर PM का बैनर

गौरतलब है कि भाजपा ने उत्तर प्रदेश के 53 जिलों में जिला पंचायत अध्यक्ष पद को लेकर शनिवार को हुए चुनाव में भारी जीत का दावा किया. इससे पहले निर्विरोध चुने गए 22 जिला पंचायत अध्यक्षों में से 21 भाजपा के थे. पार्टी का दावा है कि 75 में से 67 जिलों में उसके तथा उसकी सहयोगी पार्टियों के उम्मीदवारों ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर कब्जा किया है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को एक ट्वीट में जिला पंचायत अध्यक्ष पदों के चुनाव में भाजपा की जीत पर खुशी जाहिर करते हुए कहा “उत्तर प्रदेश में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में भाजपा की ऐतिहासिक विजय आदरणीय प्रधानमंत्री की लोक कल्याणकारी नीतियों का प्रतिफल है. यह उत्तर प्रदेश में स्थापित सुशासन के प्रति जन विश्वास का प्रकटीकरण है. सभी प्रदेशवासियों का धन्यवाद एवं विजय की हार्दिक बधाई.

ये भी पढ़ें -: UP चुनाव में BJP के जीतने पर योगी ही बनेंगे मुख्यमंत्री? CM योगी ने दिया यह जवाब…

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने भी एक ट्वीट में कहा कि उनकी पार्टी तथा सहयोगी दलों ने प्रदेश की 75 जिला पंचायत अध्यक्ष की सीटों में से 67 पर जीत हासिल की है. इस अप्रत्याशित परिणाम के लिए वह प्रदेश के लोगों और पार्टी के कर्मठ कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देते हैं. दूसरी ओर, समाजवादी पार्टी ने भाजपा पर चुनाव का मखौल उड़ाने का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा ने अपनी पराजय को जीत में तब्दील करने के लिए मतदाताओं का अपहरण कराया, पुलिस के जरिए जोर जबरदस्ती की और उन्हें मतदान करने से रोका.

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि यह आश्चर्य की बात है कि पंचायत चुनाव में जिला पंचायत सदस्य पद की ज्यादातर सीटें समाजवादी पार्टी ने जीती थीं, मगर जिला पंचायत अध्यक्ष के पदों पर भाजपा ने बेईमानी से जीत हासिल कर ली. बहुजन समाज पार्टी ने इन चुनावों में हिस्सा नहीं लिया था। पार्टी अध्यक्ष मायावती ने कहा था कि अगर ईमानदारी से चुनाव होता तो उनका दल इसमें जरूर हिस्सा लेता.

ये भी पढ़ें -: सुप्रीम कोर्ट से बोला DMA- रामदेव ने कोरोनिल बेचने के लिए फैलाया झूठ, राहत न दी जाए

सोर्स – ndtv.in


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-