India

जहांगीरपुरी हिंसा: इलाके के लोग बोले- कुछ ने मस्जिद पर चढ़ने का किया प्रयास, बाहरियों ने बिगाड़ा माहौल

jahangirpuri-violence-case-update-hanuman-jayanti-delhi-police
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

देश की राजधानी दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में शनिवार को हनुमान जयंती के मौके पर निकली शोभायात्रा के दौरान पथराव के बाद जमकर उपद्रव हुआ। इस दौरान आगजनी व तोड़फोड़ की घटना भी हुई। बता दें कि हालात पर काबू पाने के लिए भारी पुलिस बल तैनात करना पड़ा। हालांकि माहौल अभी भी तनावपूर्ण बना हुआ है।

जहांगीरपुरी इलाके में रहने वाले साजिद सैफी ने इस घटना को लेकर कहा, “हिंदू और मुसलमान हमेशा से यहां एक साथ रहे हैं। मैंने इस मंदिर में प्रसाद खाया है और हिंदू हमारे साथ हमारे त्योहार मनाते हैं। ऐसा पहले कभी नहीं हुआ है, यहां बाहरी लोगों ने शांति भंग की है।” बता दें कि साजिद सैफी इसी इलाके में एक इलेक्ट्रॉनिक्स दुकान चलाते हैं। जहांगीरपुरी काे ब्लॉक बी और सी में सांप्रदायिक झड़पें हुईं हैं। इस ब्लॉक में मछली बेचने वाले, मोबाइल मरम्मत करने वालों की दुकानें और कपड़े के खुदरा विक्रेताओं सहित एक मजदूर वर्ग की आबादी रहती है।

ये भी पढ़ें -: अडानी की संपत्ति 2 साल में 8.9 अरब डॉलर से 121.7 अरब डॉलर पर पहुंची, करीब 14 गुना की उछाल

हिंसा के कुछ देर बाद 35 साल के अधिवक्ता शिव ने बताया, “रैली में से कुछ ने मस्जिद पर चढ़ने की कोशिश की, मुझे यह देखकर बुरा लग रहा है। कल ही की बात है कि मैंने अपने मुस्लिम दोस्तों के साथ शरबत और पानी बांटने में मदद की और आज बाहरी लोगों ने हमारे रिश्तों में दरार डालने की कोशिश की। हम ऐसा नहीं होने देंगे।

इस हिंसा को लेकर 17 वर्षीय पप्पू कुमार का कहना है, “अपने दोस्तों, अनीज और नफीस के साथ होली मनाता आया हूं लेकिन इस तरह की हिंसा देखकर अजीब लगता है।” वहीं उसके दोस्त नफीस ने कहा, “हम भी काली माता के मंदिर का सम्मान करते हैं। मैं पंडित के साथ बात करता हूं, उन्हें जब देखता हूं तो मैं राम राम कहता हूं।

ये भी पढ़ें -: पति-पत्नी में हुआ झगड़ा, मां ने कर दी मासूम बेटी की गला दबाकर हत्या

वहीं शोभायात्रा को लेकर स्पेशल सीपी (उत्तरी क्षेत्र की कानून व्यवस्था) दीपेंद्र पाठक ने शनिवार देर रात कहा, “स्थिति नियंत्रण में है। हम हर घर में जा रहे हैं और सभी निवासियों से शांति और सद्भाव बनाए रखने का अनुरोध कर रहे हैं। हम अफवाह फैलाने वाले या उपद्रवी तत्वों से निपटने में सख्ती बरत रहे हैं। हम शांति स्थापित करने के लिए सभी समुदाय के सदस्यों के साथ लगातार बातचीत कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इस हिंसा में कुछ पुलिसकर्मी घायल हुए हैं और एक को गोली लगी है। वहीं पुलिस के मुताबिक ‘शोभा यात्रा’ के लिए पुलिस की अनुमति थी। मामले को लेकर दिल्ली पुलिस ने कहा है कि जहांगीरपुरी हिंसा में अब तक 9 आरोपी गिरफ़्तार हुए। 8 पुलिसकर्मियों और 1 नागरिक सहित 9 लोग घायल हो गए और अस्पताल में उनका इलाज किया गया। एक सब-इंस्पेक्टर को गोली भी लगी है, उनकी हालत स्थिर है।

ये भी पढ़ें -: अपना लाउडस्पीकर बंद करें संजय राउत, नहीं तो…’ MNS ने लगाए धमकी भरे पोस्टर

ये भी पढ़ें -: केंद्रीय मंत्री के कार्यक्रम में बड़ा हादसा टला, बाल-बाल बचे अर्जुन मेघवाल

सोर्स – jansatta.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-