India

ड्रग्स केस मैं आरोपी नुपुर सतीजा को जमानत, कोर्ट ने NCB की कार्रवाई को NDPS की धारा का उल्लंघन बताया

illegal-seizure-and-breach-of-arrest-procedure-by-ncb-in-cruise-drug-case
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

क्रूज ड्रग केस में NDPS की स्पेशल कोर्ट ने एक अन्य आरोपी नुपुर सतीजा को जमानत दे दी. इस दौरान कोर्ट ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) द्वारा नुपुर के पास कथित तौर पर ड्रग्स की बरामदगी को गैरकानूनी बताया. दरअसल, कोर्ट ने कहा, एक महिला गवाह ने आरोपी की तलाशी ली थी, उस वक्त वहां कोई अन्य महिला अधिकारी मौजूद नहीं थी. इसके अलावा अधिकृत व्यक्ति ने कोई पंचनामा नहीं किया. ऐसे में यह एनडीपीएस कानून के एक प्रावधान का उल्लंघन है.

स्पेशल कोर्ट ने इसे एनडीपीएस की धारा 42 का उल्लंघन करार दिया. एनडीपीएस की धारा 42 में बिना वारंट प्रवेश, तलाशी, जब्ती और गिरफ्तारी को लेकर बताया गया है. स्पेशल जज वीवी पाटिल ने आर्यन खान ड्रग्स केस में सह आरोपी नुपुर सतीजा के खिलाफ तलाशी और जब्ती को एनडीपीएस कानून का उल्लंघन मानते हुए जमानत दे दी. कोर्ट ने सतीजा और 8 अन्य आरोपियों को जमानत दे दी. जज ने अपने आदेश में कहा, जहां तक सतीजा का सवाल है, वह अवैध जब्ती और एनडीपीएस की धारा 42 के प्रावधानों के उल्लंघन के आधार पर जमानत की हकदार है.

यह भी पढ़ें -: केंद्र सरकार ने ED और CBI चीफ का कार्यकाल बढ़ाकर 5 साल तक किया

एनसीबी ने सतीजा और गोमित को गिरफ्तार किया था. एनसीबी का आरोप था कि दोनों को प्रतिबंधित सामग्री के साथ पकड़ा गया. एनसीबी ने कथित तौर पर सतीजा के रूम से 1.59 ग्राम की एक्स्टसी की 4 गोलियां और गोमित से कथित पर एमडीएमए की 4 गोलियां, 3 ग्राम कोकीन और 93000 रुपए नकद जब्त किए थे. सतीजा की ओर से पेश वकील अयाज खान ने कोर्ट में कहा था कि जांच अधिकारी के निर्देश पर महिला पंच गवाह ने कमरे की तलाशी ली थी. महिला तलाशी और जब्ती के लिए अधिकृत नहीं है.

उन्होंने कोर्ट में यह भी कहा कि सतीजा को एक पुरुष अधिकारी ने गिरफ्तार किया था और पंचनामा में कहा गया है कि प्रक्रिया सूर्यास्त के बाद और सूर्योदय से पहले शुरू हुई. यह अधिनियम के प्रावधानों के खिलाफ है. 2 अक्टूबर को एनसीबी ने क्रूज पर मारा था छापा

यह भी पढ़ें -: DCW चीफ स्वाति का राष्‍ट्रपति को पत्र- पद्मश्री वापस लें, कंगना को पुरस्‍कार नहीं इलाज की जरूरत

एनसीबी ने 2 अक्टूबर को मुंबई में क्रूज पर छापा मारा था. इस दौरान एनसीबी ने आर्यन खान समेत 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया था. बाद में जांच के आधार पर एनसीबी ने 12 और आरोपियों को गिरफ्तार किया था. इस मामले में कुल 20 आरोपी गिरफ्तार हुए थे. इनमें से आर्यन खान समेत ज्यादातर आरोपियों को जमानत मिल चुकी है.

यह भी पढ़ें -: अमित शाह बोले- राम ने भरत को रावण से सुशासन सीखने भेजा था, लोग बोले- ये हिंदुत्व और हिंदू को…

यह भी पढ़ें -: गाजियाबाद में गौ तस्करों से मुठभेड़ मामले में SHO और इंस्पेक्टर का तबादला, जानें पूरा मामला

सोर्स – aajtak.in


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-