India

ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे के बाद बोले विश्व वैदिक सनातन संघ के प्रमुख- कल्पना से बहुत कुछ ज्यादा है..

mathura-shrikrishna-janmbhoomi-idgah-mosque-survey-demand-court-after-gyanvapi-mosque
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Gyanvapi Masjid Survey: श्रृंगार गौरी मामले में गहमागहमी के बीच ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे की कार्यवाही हुई. 14 मई को मस्जिद के तहखाने के चार कमरों और पश्चिमी दीवार के सर्वे हुआ. सर्वे के बाद बाहर निकले विश्व वैदिक सनातन संघ के प्रमुख जितेंद्र सिंह बिसेन ने कहा कि वहां कल्पना से बहुत कुछ ज्यादा है. ज्ञानवापी सर्वे के दौरान क्या मिला, इस सवाल पर जितेंद्र सिंह बिसेन ने कहा कि मेरी नहीं, हम सबकी कल्पना से भी अधिक बहुत कुछ है. उन्होंने कहा कि कल के सर्वे के लिए भी बहुत कुछ है. बिसेन ने कहा कि कुछ ताले खोले गए, कुछ ताले तोड़ने पड़े. सर्वे की रिपोर्ट भी सबके सामने आएगी.

उन्होंने कहा कि न्यायालय के निर्देश के मुताबिक सर्वे हो रहे है. दोनों ही पक्षों ने अपनी-अपनी बातें रखीं. विश्व वैदिक सनातन संघ के प्रमुख जितेंद्र सिंह बिसेन ने कहा कि हम सभी बातें मीडिया में नहीं बता सकते. दोनों पक्षों की सहमति से सर्वे हुआ. वकीलों ने भी कहा कि सर्वे में कोई व्यवधान नहीं आया. सर्वे के बाद मस्जिद परिसर से बाहर निकले वकीलों ने कहा कि करीब चार घंटे तक ये कार्यवाही चली. वादी-प्रतिवादी और पुलिस-प्रशासन, सभी पक्ष सहयोग कर रहे हैं. शांतिपूर्ण तरीके से सर्वे चल रहा है.

ये भी पढ़ें -: राहुल भट के पिता बोले- युवा कश्मीरी पंडितों को नौकरी, पुनर्वास के नाम पर मार डालने की योजना बनाई है

वकीलों ने कहा कि सर्वे की रिपोर्ट अत्यंत गोपनीय है. न्यायालय का आदेश है कि जो कोई भी कार्यवाही को लेकर बाहर कुछ लीक करेगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. वकीलों ने ये भी कहा कि जहां-जहां का सर्वे करना था, वहां-वहां किया गया. वकीलों ने ये भी कहा कि सर्वे की कार्यवाही कल यानी 15 मई को भी जारी रहेगी. सर्वे की कार्यवाही कब तक चलेगी, इस सवाल पर वकीलों ने कहा कि इसे लेकर हम अभी कुछ नहीं कह पाएंगे. इस संबंध में एडवोकेट कमिश्नर ही बता पाएंगे.

ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे के दौरान मौजूद रहे वकीलों ने ये भी कहा कि कल भी सर्वे होगा. इसके बाद का जो अपडेट होगा, उसकी जानकारी कल सर्वे के बाद ही मिल पाएगी. दीवारों पर कोई चिह्न, प्रतीक चिह्न मिला? तहखाने में क्या मिला? इस सवाल का जवाब देने से वादी पक्ष के जितेंद्र सिंह बिसेन के साथ ही वकील तक, हर कोई बचता रहा. जितेंद्र सिंह बिसेन से लेकर वकीलों तक, सभी ने ये कहा कि कोर्ट का मामला है. इसमें क्या मिला, इस संबंध में कोई जानकारी नहीं देनी है. कोर्ट ने सर्वे की रिपोर्ट को अत्यंत गोपनीय रखने का निर्देश दिया है. लेकिन जितेंद्र सिंह बिसेन के इस दावे के बाद कि कल्पना से ज्यादा है, ये माना जा रहा है कि हिंदू पक्ष ने कोर्ट में जो दावा किया था, उसके पक्ष में सर्वे के दौरान कुछ मिला होगा.

ये भी पढ़ें -: हिंदी बोलने वाले पानी पूरी बेचते हैं… वाले बयान पर अब मंत्री ने दी सफाई

ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे करीब चार घंटे तक चला. सुबह 8 बजे से शुरू हुआ सर्वे करीब 12 बजे तक चला. मस्जिद के तहखाने में चार कमरे हैं जिनमें से एक पर हिंदू पक्ष का कब्जा है और तीन कमरे मुस्लिम पक्ष के पास हैं. इन तहखानों में बैटरी के माध्यम से उजाला कर एडवोकेट कमिश्नर ने सर्वे की कार्यवाही को अंजाम दिया.

कोर्ट की ओर से नियुक्त एडवोकेट कमिश्नर कल यानी 15 मई को भी ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे करेंगे. जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने भी वीडियो बयान कर इसकी पुष्टि कर दी है. उन्होंने कहा है कि 15 मई को भी सुबह 8 बजे से सर्वे किया जाएगा. कहा जा रहा है कि मस्जिद के तहखानों का सर्वे हो गया है. ऐसे में अब 15 मई को मस्जिद के ऊपर स्थित कमरों और अन्य जगह का सर्वे होगा. पश्चिमी दीवार और मस्जिद की अन्य दीवारों का सर्वे भी एडवोकेट कमिश्नर अजय कुमार मिश्रा कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें -: भारत ने गेहूं के निर्यात पर लगाया बैन, जानिए क्या है वजह…

ये भी पढ़ें -: ज़मीन के नीचे कुछ है, इसका मतलब ही है कि दिमाग़ के भीतर कुछ नहीं है : रवीश कुमार

सोर्स – aajtak.in


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-