महुआ मोइत्रा का तंज- खुदाई की लिस्ट में अगला नंबर भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर का तो नहीं

महुआ मोइत्रा का तंज- खुदाई की लिस्ट में अगला नंबर भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर का तो नहीं
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Mahua Moitra On Gyanvapi: ज्ञानवापी मस्जिद में चल रहे सर्वे को लेकर छिड़ी बहस में बुधवार को पश्चिम बंगाल की TMC सांसद महुआ मोइत्रा की भी एंट्री हो गई. तृणमूल कांग्रेस (TMC) नेता महुआ मोइत्रा ने ट्वीट कर कहा कि आशा है भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र का नंबर खुदाई की सूची में अगला नहीं है…। टीएमसी सांसद ने इस ट्वीट के साथ रिसर्च सेंटर की तस्वीरें भी पोस्ट कीं, जो काफी ऊंचाई से खींची गई है और शिवलिंग के समान नजर आ रही है. हालांकि, महुआ मोइत्रा ने अपने ट्वीट में ज्ञानवापी का नाम लिए बिना ही विरोधियों पर निशाना साधा है.

बता दें कि पिछले कई दिनों से वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद के मुद्दे पर देशभर में बहस छिड़ी हुई है. हाल ही में कोर्ट के आदेश पर भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग ने ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा किया है, जिसकी रिपोर्ट जल्द ही कोर्ट में पेश की जानी है.

ये भी पढ़ें -: ज्ञानवापी में सर्वे के लिए नियुक्त टीम में कमिश्नर पद से हटाने पर अजय मिश्र बोले- मेरे साथ धोखा हुवा

हालांकि, रिपोर्ट सामने आने से पहले ही हिंदू पक्ष ये दावा कर रहा है कि सर्वे के दौरान मस्जिद के वजू खाने में शिवलिंग मिला है. हिंदू पक्ष ने इस शिवलिंग की सुरक्षा के लिए कोर्ट में अर्जी भी दी थी, जिसे स्वीकार किया जा चुका है. वहीं मुस्लिम पक्ष का दावा है कि सर्वे के दौरान मिली शिवलिंगनुमा चीज दरअसल बंद पड़ा हुआ फव्वारा है. ये मामला अभ सुप्रीम कोर्ट तक जा पहुंचा है. मुस्लिम पक्ष लगातार सर्वे पर रोक लगाने की मांग कर है.

दरअसल तीसरे दिन का सर्वे पूरा होने के बाद हिंदू पक्ष के वकील ने दावा किया खा कि नंदी की मूर्ति के ठीक सामने शिवलिंग मिला है, जिसका व्यास 12 फीट 8 इंच है. इसकी गहराई भी काफी है. बाबा के मिलने की बात करते-करते याचिकाकर्ता लक्ष्मी देवी के पति सोहनलाल भावुक हो उठे थे.

ये भी पढ़ें -: सलमान को कंगना ने बताया क्लोज फ्रेंड, बोली- मेरे दबंग हीरो के रहते में अब…

कोर्ट ने सर्वे का फैसला सुनाते आदेश दिया था कि कमीशन की कार्यवाही सीलबंद कोर्ट में पेश की जाएगी और इसकी जानकारी कोई साझा नहीं करेगा, लेकिन पहले दिन के बाद से ही कमीशन की कार्यवाही से जुड़ी जानकारी लीक हो रही थी. आखिरी दिन तो हिंदू पक्ष की ओर से मीडिया में खुले तौर पर शिवलिंग की बात कही गई.

हिंदू पक्ष से कुछ लोग इशारों-इशारों में शिवलिंग की बात करते रहे. जैसे सोहनलाल आर्य ने मीडिया से कहा कि आज बाबा मिल गए. खैर जानकारी लीक होने के सवाल वाराणसी के डीएम कौशल राज शर्मा ने साफतौर पर कहा था कि यह किसी की निजी राय हो सकती है, जो भी सबूत मिले हैं, वह कोर्ट में पेश किए जाएंगे और कोर्ट ही उस पर फैसला करेगा.

ये भी पढ़ें -: अब दिल्ली की जामा मस्जिद पर दावा, बोले- सर्वे कराने के लिए कोर्ट जाएंगे

ये भी पढ़ें -: कुत्ता लेकर केदारनाथ पहुंचा श्रद्धालु, मंदिर कमेटी लेने जा रही है बड़ा फ़ैसला

सोर्स – aajtak.in


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-