India

गाजियाबाद में नवरात्रि पर मीट शॉप बंद करने का आदेश 12 घंटे में वापस

ghaziabad-meat-shop-closed-on-navratri-order-reversed-with-in-12-hours
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

गाजियाबाद में नवरात्रि के मद्देनजर मेयर आशा शर्मा ने मांस की सभी दुकानों (Ghaziabad meat shop) को बंद करने का गुरुवार को आदेश दिया था. उनके आदेश के बाद प्रशासन ने सभी दुकानों को बंद करा दिया था लेकिन 12 घंटे बाद ही मेयर मे अपने आदेश वापस ले लिया और कहा कि मीडिया इस बात को बढ़ा चढ़ाकर दिखा रहा है. मीट की दुकान बंद करने पर कभी न कभी हां होने से प्रशासन में असमंजस है. उल्लेखनीय है कि गाजियाबाद नगर निगम की मेयर ने एक आदेश किया कि नवरात्रों के 9 दिन तक कोई भी मीट की दुकान नहीं खुलेंगे ,जिसको लेकर एक लेटर भी जारी किया गया. इसके बाद से ही पूरे जिले की सभी मीट की दुकानों को बंद करा दिया गया.

दुकानदारों का कहना है कि मीट की दुकान है, आज से पहले कभी नवरात्रों को दिन में बंद नहीं हुई है. अगर बंद करनी भी हैं तो शराब की दुकानों को भी बंद किया जाए जो खुली हुई हैं . कल से रमजान के दिन शुरू हो रहे हैं तो हम लोगों को दिल्ली से मीट लेकर आना होगा लेकिन प्रशासन हमको कुछ घंटे की मोहलत दे दे कि हम लोग अपनी दुकान खोल सके ताकि लोगों को दिक्कत ना हो.

ये भी पढ़ें -: अटकलों पर बोले केशव देव- शिवपाल यादव को BJP ने ऐसे ही नहीं दिया है बंगला

हमारी दुकानों में लाखों रुपये का माल रखा हुआ है जो खराब हो जाएगा, इससे काफी नुकसान हम लोगों को होगा . एक तो वैसे ही काम धंधा नहीं है और ऊपर से अब 9 दिन तक दुकानें बंद रहेंगी तो घर कैसे चलेगा. दुकानों पर सामान लेने आए ग्राहकों ने भी बताया क्या आज से पहले कभी दुकानें बंद नहीं हुई लेकिन इस बार दुकानें बंद करा दी गई है.

कल से रमजान भी शुरू है तो हम लोगों को कहां से सामान लेकर आएंगे कुछ घंटे के लिए तो दुकान खोलनी चाहिए. नगर निगम की मेयर ने साफ तौर पर कहा कि ऊपर से आदेश हैं कि सभी दुकानों को बंद कराया जाए. उन्होंने एक संशोधन लेटर भी जारी किया जिसमें उन्होंने कहा कि शासन का आदेश है जिस वजह से हम नहीं सारी दुकानें बंद करा रखी हैं . उन्होंने कहा कि मंदिर के आसपास के इलाकों में सारी दुकानें बंद करा दी गई हैं. शराब और मीट का कोई भी तालमेल नहीं है इसलिए शराब की दुकानों से कोई आपत्ति नहीं है.

ये भी पढ़ें -: रेप के आरोपी महंत की नंगे पांव कराई गई परेड, पुश्तैनी घर पर चला बुलडोजर

जब मेयर से इस बारे में सवाल किया गया कि पूरे जिले में सभी दुकानें बंद करा दी गई हैं, जो मंदिरों के रास्ते में नहीं है. तो उस सवाल पर भड़कते हुए उल्टा ही मीडिया पर गलत तरीके से बयान पेश करने का आरोप लगाने लगी. और सवाल का जवाब ना देते हुए वहां से चली गई उन्होंने साफ तौर पर कहा कि मीडिया ऐसी बातों को तूल देता है.

ये भी पढ़ें -: अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर हुई तोड़फोड़ पर हाई कोर्ट ने मांगा जवाब, दिल्ली पुलिस को दिये ये निर्देश

ये भी पढ़ें -: तेलंगाना में अब मास्क पहनना जरूरी नहीं, सरकार ने हटाई कोविड पाबंदियां

ये भी पढ़ें -: पहले BJP में MLA थे तो खड़ी की अवैध तीन मंजिला इमारत, अब सपा पहुंचे तो चलेगा बुलडोजर

सोर्स – ndtv.in


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-