India

UP: प्लंबर-वेल्डर की मदद से सीधे पाइपलाइन से चुराते थे डीजल-पेट्रोल, 8 गिरफ्तार

gang-stealing-government-petrol-diesel-in-uttar-pradesh-nexus-of-petrol-pump-owner-plumber-welder
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

सहारनपुर पुलिस ने सरकारी तेल की पाइपलाइन से हजारों लीटर पेट्रोल-डीजल चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गैंग का पर्दाफाश किया है. मामले में सरगना समेत आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. इनके पास से पुलिस ने 1200 लीटर पेट्रोल और 500 लीटर से ज्यादा डीजल बरामद किया है. उधर, उत्तरप्रदेश के होम सेक्रेटरी अवनीश अवस्थी और मेरठ जोन के एडीजी राजीव सबरवाल ने सहारनपुर पुलिस को 1-1 लाख रुपए का इनाम देने की घोषणा की है.

यूपी से उत्तराखंड तक फैला था जाल सहारनपुर के एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि क्राइम ब्रांच और सहारनपुर की सरसावा पुलिस की संयुक्त टीम की कार्रवाई में ये सफलता मिली है. पकड़े गए अंतरराज्यीय गिरोह का जाल यूपी से लेकर उत्तराखंड तक फैला था. एसएसपी ने बताया कि पूछताछ में जानकारी मिली है कि सरकारी पाइपलाइन से चोरी किए गए पेट्रोल और डीजल को एक गोदाम में रखा जाता था. फिर उसे अलग-अलग इलाकों में बेचा जाता था.

यह भी पढ़ें -: बेटी बचाओ अभियान का 79% फंड विज्ञापन पर खर्च- सिर्फ प्रचार से पढ़ेंगी और बढ़ेंगी बेटियां?

गैंग के सदस्यों के पास से पेट्रोल-डीजल चोरी में इस्तेमाल होने वाली स्विफ्ट, महिंद्रा एसयूवी 500 और एक ट्रैक्टर के साथ तमंचा और कारतूस बरामद किया गया है. पकड़े गए आरोपियों में गैंग के सरगना शुभम के अलावा संदीप, गुरमीत, अजय, भूपेंद्र, शुभम, अजीत और उदित कुमार शामिल है.

एसएसपी ने बताया कि गैंग में शामिल उदित कुमार पेट्रोल पंप का मालिक है. उसके पेट्रोल पंप का लाइसेंस अगस्त 2021 में समाप्त हो गया. इसके बाद मुजफ्फरपुर में तैनात सप्लाइ विभाग के एक बाबू से साठ-गांठ कर पेट्रोल पंप चला रहा था. एसएसपी ने बताया कि तेल चोरी के मामले में यूपी पुलिस के अलावा उत्तराखंड पुलिस भी जांच कर रही थी.

यह भी पढ़ें -: वसीम रिजवी के बाद अली अकबर ने अपनाया हिंदू धर्म, कही ये बात…

प्लंबर और वेल्डर की मदद से तेल चुराता था गैंग पूछताछ में पता चला कि पकड़े गए आरोपियों में प्लंबर और वेल्डर भी शामिल हैं. वेल्डर सरकारी पाइपलाइन में वेल्डिंग के जरिए छेद करता था जिसके बाद प्लंबर उसमें से तेल निकालता था. जब जरूरत भर तेल निकल जाता था तब उसे प्वाइंट को दोबारा ब्लॉक कर दिया जाता था. सरकारी पाइपलाइन कुरुक्षेत्र से शुरू होकर उत्तरप्रदेश के नजीबाबाद, सहारनपुर होते हुए उत्तराखंड जाती है.

यह भी पढ़ें -: मनोहर लाल खट्टर के खुले में नमाज वाले बयान पर उमर अब्दुल्ला का पलटवार, कही ये बात…

यह भी पढ़ें -: BJP सांसद वरुण गांधी लाए MSP को कानूनी गारंटी देने वाला निजी विधेयक,पढ़ें विस्तार से

सोर्स – aajtak.in


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-