India

महिला SHO ने 10 लाख लेकर तस्कर छोड़ा, रिश्वत लेने और बस में बिठाकर भगाने तक के फुटेज मिले 4 पुलिसकर्मी सस्पेंड

four-policemen-including-sho-suspended-found-footage-of-taking-money-and-sitting-in-the-bus
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

सिरोही जिले के बरलूट थाना पुलिस की ओर से दो दिन पहले की गई डोडा-पोस्त की कार्रवाई सवालों के घेरे में आ गई। पुलिस ने नाकाबंदी के दौरान डोडा-पोस्त से भरी गाड़ी और तस्कर पकड़ा था। आरोप है कि थानाधिकारी सीमा जाखड़ व उसके साथ मौजूद तीन कॉन्स्टेबल ने डोडा-पोस्त से भरी गाड़ी को जब्त कर तस्कर से सौदा तय कर लिया। 10 लाख रुपए लेकर तस्कर को बस में बिठाकर भगा दिया।

पुलिस की सौदेबाजी का पूरा घटनाक्रम होटल में लगे सीसीटीवी कैमरे में रिकॉर्ड हो गया। फुटेज सामने आने पर रिश्वत लेकर तस्कर को भगाने के आरोप में एसपी धर्मेंद्र सिंह ने महिला थानाधिकारी सीमा जाखड़ सहित चारों पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। एसपी ने बताया कि बरलूट पुलिस ने दो दिन पहले डोडा पोस्त की कार्रवाई की गई। मुखबिर से सूचना मिली कि थाना इलाके से डोडा पोस्त से भरा वाहन गुजरने वाला है।

यह भी पढ़ें -: फ्रीडम फाइटर समिति की अध्यक्ष बोली- आजादी न होती तो कंगना उठाती अंग्रेजों के घोड़ों की लीद

इस पर थानाधिकारी सीमा जाखड़ कॉन्स्टेबल ओमप्रकाश, सुरेश व हनुमान के साथ पहुंची। नाकाबंदी के दौरान पुलिस टीम ने डोडा-पोस्त से भरी गाड़ी को पकड़ लिया। बताया गया कि जब्त गाड़ी में 1041 किलो डोडा पोस्त मिला, जबकि तस्कर अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया।

पूरे घटनाक्रम की जानकारी एसपी धर्मेंद्र सिंह को लगी। वह तुरंत बरलूट थाना पहुंचे। तस्कर से सौदेबाजी का पता चलने पर जावाल नदी के पास स्थित होटल पहुंचे। वहां के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला। फुटेज में सौदेबाजी का वीडियो कैद है। थानाधिकारी व मौजूद पुलिसकर्मी तस्कर से रुपए लेते दिख रहे हैं। साथ ही, तस्कर को बस में सवार कराने का भी सीसीटीवी फुटेज मिला। रिश्वत के 10 लाख रुपए लेकर तस्कर को भगाने के आरोप में एसपी ने कार्रवाई की।

यह भी पढ़ें -: कंगना ने गांधी जी को बताया सत्ता का भूखा और चालाक, जयपुर में शिकायत दर्ज

देर रात करीब 1:30 बजे सिरोही स्थित अपने ऑफिस पहुंचकर दोषी थानाधिकारी सीमा जाखड़ और कॉन्स्टेबल ओमप्रकाश, सुरेश व हनुमान को सस्पेंड करने के आदेश जारी किए। इस मामले में सीओ सिरोही मदन सिंह को जांच करने के आदेश दिए।

सीमा जाखड़ पाली जिले के सांडेराव व सोजत रोड में लम्बे समय तक SHO रह चुकी हैं। लेकिन उनके खिलाफ तरह का कोई मामला पाली जिले में रहते हुए उजागर नहीं हुआ। जबकि सांडेराव थाना हाइवे पर था ओर तस्करों के प्रमुख रूट में शामिल हैं। CCTV फुटेज में तस्कर से डील करने का सारा मामला कैद होने उनकी यह करतूत उजागर हो सकी।

यह भी पढ़ें -: नीतीश कुमार ने माना, पटना में धड़ल्ले से बिक रही शराब और लोग पी भी रहे…

यह भी पढ़ें -: पहले अल्ताफ अब जितेन्द्र की मौत, सवालों के घेरे में यूपी पुलिस

सोर्स – bhaskar.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-