Politics

टिकैत बोले- उपराज्यपाल से नहीं मिलने दिया गया, तो दिल्ली कूच करेंगे

bku-leader-rakesh-tikait-says-he-will-campaign-against-bjp
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Farmers Protest LIVE Updates: नरेंद्र मोदी सरकार के लाए कृषि कानूनों को लेकर किसान पिछले सात महीनों से आंदोलन में जुटे हैं। प्रदर्शनों के 7 महीने पूरे होने पर किसान आज यानी 26 जून को अलग-अलग राज्यों में राजभवनों का घेराव करेंगे और राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने की कोशिशों में जुटे हैं। इस बीच दिल्ली में संवेदनशील हालात देखते हुए उपराज्यपाल के घर की सुरक्षा चाक-चौबंद कर दी गई है। उनके मिलने के लिए किसी को भी आगे नहीं जाने दिया जा रहा है।

इस पर भाकियू नेता राकेश टिकैत भड़के बताए गए हैं। उन्होंने कहा, “अगर हमारे लोगों को उपराज्यपाल से मिलने नहीं दिया गया तो हम दिल्ली कूच करेंगे। हम कैसे जाएंगे इस पर हम अभी बैठक कर रहे हैं। हम उपराज्यपाल के पास जाएंगे। इससे पहले खबर आई थी कि भाकियू नेता राकेश टिकैत को गिरफ्तार कर लिया गया है।

ये भी पढ़ें -: पायल रोहतगी को अहमदाबाद पुलिस ने किया गिरफ्तार, लगे है ये गंभीर आरोप…

सोशल मीडिया पर इस खबर के आने के बाद से ही हलचल मच गई। लेकिन भाकियू के नेशनल मीडिया इंचार्ज धर्मेंद्र मलिक ने राकेश टिकैत की गिरफ्तारी की बात को अफवाह करार दिया है। Jansatta.com से बातचीत में उन्होंने कहा कि टिकैत गाजीपुर बॉर्डर पर ही मौजूद हैं। उन्होंने किसान एकता मोर्चा के ट्वीट का खंडन किया। खुद राकेश टिकैत ने भी बाद में इस मुद्दे पर ट्वीट किया और गाजीपुर बॉर्डर पर होने की बात कही।

उधर हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा है कि किसान पिछले करीब 8 महीने से बॉर्डर पर बैठे हैं। वे अब निराश हो चुके हैं। इसलिए आंदोलन को जिंदा रखने के लिए उनके नेता हर दिन नए कार्यक्रम बना रहे हैं। आज उन्होंने राजभवन में ज्ञापन सौंपने की बात कही है। ये सब होता रहता है।

ये भी पढ़ें -: वैक्सीनेशन पर मेघालय HC की बड़ी टिप्पणी- अनिवार्य नहीं कर सकते, जबरदस्ती वैक्सीनेशन अधिकारों का हनन

किसान नेता दिल्ली में भी बड़ी संख्या में जुटकर आंदोलन को बल देंगे। हालांकि, इस बीच खुफिया एजेंसियों से मिले इनपुट के मुताबिक, किसान आंदोलन के 7 महीने पूरे होने के साथ ही इस पर पाकिस्तान की ISI की नजर पड़ चुकी है और वह इन प्रदर्शनों पर खतरा पैदा कर सकती है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस बारे में दिल्ली पुलिस और CISF की टीमों को आगाह कर दिया गया है।

उधर भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के प्रवक्ता और किसान नेता राकेश टिकैत के मुताबिक, “देश में अघोषित आपातकाल लगा है, इसलिए राजभवन का घेराव कर राज्यपाल को सभी किसान ज्ञापन सौंपेंगे।” इसी बीच, किसान ट्रैक्टरों के साथ आज प्रदर्शन करेंगे।

ये भी पढ़ें -: तिहाड़ जेल से पहले सुशील कुमार का स्माइल के साथ फोटोसेशन, सेल्फी लेने पर सवालों के घेरे में पुलिस

ये भी पढ़ें -: राष्ट्रपति बोले- हमें 5 लाख मिलता है तो पौने 3 लाख टैक्स जाता है, हमसे ज्यादा बचत तो टीचर की होती है

सोर्स – jansatta.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-