Politics

संबित पात्रा से बोले टिकैत- आपकी भी कुछ नहीं चलती, BJP में आप सिर्फ झोला टांगने वाले लोग

farmer-leader-rakesh-tikait-attacked-bjp-spokesperson-sambit-patra
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

शनिवार को दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन के 7 महीने पूरे हो गए। किसान केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने और न्यूनतम समर्थन मूल्य पर क़ानूनी गारंटी की मांग कर रहे हैं। किसान आंदोलन से जुड़े मुद्दे पर ही एक टीवी डिबेट के दौरान किसान नेता राकेश टिकैत ने भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा की बात का जवाब देते हुए कहा कि आपकी भी बीजेपी में कुछ नहीं चलती, आप सिर्फ झोला टांगने वाले लोग हो।

दरअसल आजतक न्यूज चैनल पर एंकर चित्रा त्रिपाठी के शो में भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा और किसान नेता राकेश टिकैत मौजूद थे। इस दौरान किसान नेता राकेश टिकैत ने भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा की बात पर बिफरते हुए कहा कि संबित पात्रा जी आपकी भी कुछ नहीं चलती, आप बीजेपी में झोला टांगने वाले लोग हो। आपकी कुछ भी नहीं चलती है। आपको कुछ कागज दे रखे हैं कि टीवी पर बैठो और अपनी बातें बताओ.. जनता को बहकाओ।

ये भी पढ़ें -: राष्ट्रपति बोले- हमें 5 लाख मिलता है तो पौने 3 लाख टैक्स जाता है, हमसे ज्यादा बचत तो टीचर की होती है

आगे किसान नेता राकेश टिकैत ने संबित पात्रा से कहा कि आपके बड़े नेताओं में भी बोलने की हिम्मत नहीं है। जिन्होंने आपकी पार्टी बनाई थी, वे तो अपने घरों में कैद हैं। आप अपनी पार्टी को बचाओ..आपकी पार्टी गई। अगर आपको अपनी पार्टी बचानी है तो आपके जो नेता घरों में बंद हैं पहले उनको छुड़ाओ। इस सरकार को तो कंपनी चला रही है।

राकेश टिकैत की इन बातों पर संबित पात्रा ने सिर्फ “ठीक है-ठीक है” कहकर अपनी प्रतिक्रिया दी। इस दौरान संबित पात्रा ने शो की एंकर चित्रा त्रिपाठी से शिकायत करते हुए कहा कि आप इस डिबेट को कंट्रोल कर रही हैं या यह अपने आप ही चल रहा है। हालांकि बाद में संबित पात्रा ने अपनी बात रखते किसान आंदोलन पर कई तरह के सवाल उठाए।

ये भी पढ़ें -: रविशंकर के ट्विटर अकाउंट को ब्लॉक किए जाने पर कांग्रेस सांसद का तंज- UN में उठे मुद्दा और ED…

बता दें कि आज किसान आंदोलन के 7 महीने पूरे होने पर देशभर के किसान अपने अपने राज्यों के राजभवन पर प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी बीच संयुक्त किसान मोर्चा ने भी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखकर तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग की है। संयुक्त किसान मोर्चा ने पत्र में तीनों कानूनों को असंवैधानिक बताते हुए कहा है कि केंद्र सरकार को कृषि मंडी के ऊपर कानून बनाने का कोई अधिकार नहीं है। इसलिए राष्ट्रपति केंद्र सरकार को तीनों कानूनों को रद्द करने का निर्देश दे।

ये भी पढ़ें -: न्यूज एंकर को नहीं मिली थी सैलरी, न्यूज पढ़ते वक्त ही मांगने लगा पैसे, वायरल हुआ Video

सोर्स – jansatta.com


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-