India

DCW चीफ स्वाति का राष्‍ट्रपति को पत्र- पद्मश्री वापस लें, कंगना को पुरस्‍कार नहीं इलाज की जरूरत

dcw-chief-swati-maliwal-demands-kangana-ranaut-padma-shri-must-be-taken-back
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Swati Maliwal On Kangana Ranaut : कंगना रनौत की ‘आजादी’ वाली टिप्‍पणी का दिल्‍ली महिला आयोग ने संज्ञान लिया है। DCW की चेयरपर्सन स्‍वाति मालिवाल ने कंगना को मिला ‘पद्मश्री’ वापस लेने की मांग की है। उन्‍होंने राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद को भेजी चिट्ठी में कहा है कि कंगना रनौत की मानसिक स्थिति ठीक नहीं लग रही है। ऐसे में उनको मिला नागरिक सम्‍मान वापस लिया जाए और उनपर राष्‍ट्रद्रोह की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया जाए।

मालिवाल ने अपनी चिट्ठी में लिखा है कि ‘यह कोई इकलौता मामला नहीं है। वह आदतन अपने देश के लोगों के खिलाफ जहर उगलती रहती हैं और खुद से असहमति रखने वालों के खिलाफ बेहद घटिया भाषा का इस्‍तेमाल करती रही हैं।

यह भी पढ़ें -: कंगना रनौत पर कुमार विश्वास का तंज- जिनकी खुद की प्रासंगिकता सत्ता की गुलामी से बरकरार है…

DCW चीफ के अनुसार, कंगना का व्‍यवहार पद्मश्री के लायक नहीं है।

यह भी पढ़ें -: फ़िर बोली कंगना- कोई बता दे 1947 में कौन सा स्वतंत्रता संग्राम हुआ तो वापस कर दूंगी पद्मश्री

आजादी को भीख बताकर ट्रोल हो रहीं कंगना रनौत ने कहा है कि वह पद्मश्री सम्मान लौटा देंगी, अगर कोई उन्हें यह बताए कि 1947 में क्या हुआ था। कंगना ने लिखा है, ‘1857 में आजादी की पहली सामूहिक लड़ाई सुभाष चंद्र बोस, सावरकर जैसे लोगों के बलिदान के साथ शुरू हुई। लेकिन 1947 में कौन-सा युद्ध हुआ था, मुझे पता नहीं है। अगर कोई मुझे बता सकता है तो मैं अपना पद्मश्री वापस कर दूंगी और माफी भी मांगूंगी।

यह भी पढ़ें -: सुप्रिया श्रीनेत बोली- BJP की पसंदीदा अभिनेत्री आज़ादी को भीख कह रही हैं और राष्ट्रवादी उसे…

यह भी पढ़ें -: कंगना के बयान पर शिवसेना का हमला, बोली- बीजेपी का नकली राष्ट्रवाद बिखर गया

सोर्स – navbharattimes.indiatimes.com.  Swati Maliwal On Kangana Ranaut


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-