असम में 30 अधिकारियों ने एक बीजेपी विधायक के खिलाफ सीएम को सौंपा ज्ञापन, लगाया ये आरोप…

असम में 30 अधिकारियों ने एक बीजेपी विधायक के खिलाफ सीएम को सौंपा ज्ञापन, लगाया ये आरोप…
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

असम (Assam) के कछार जिले के 30 अधिकारियों ने एक ज्ञापन पर हस्ताक्षर कर CM हिमंत बिस्वा सरमा (CM Hemant Biswa Sarma) को सौंपा है, जिसमें शिकायत की गई है कि एक बीजेपी विधायक का व्यवहार उनके प्रति बिल्कुल भी ठीक नहीं है. अधिकारियों का आरोप है कि एमएलए ड्यूटी पर तैनात अधिकारियों के साथ दुर्व्यवहार करने के साथ उनका अपमान करते हैं और साथ ही उन्हें धमकाते भी हैं.

अधिकारियों के अनुसार, लखीपुर निर्वाचन क्षेत्र के भाजपा विधायक ने पूरे असम सिविल सेवा कैडर की अखंडता पर सवाल उठाया. सिविल सेवकों ने अपने पत्र में एक उदाहरण का हवाला दिया जहां विधायक ने कहा कि बाढ़ राहत ड्यूटी पर एक प्रखंड विकास अधिकारी को “पीटा जाना चाहिए”.

ये भी पढ़ें -: IPL Final 2022: फाइनल में राजस्थान और गुजरात के मैच में किसका पलड़ा भारी? क्या कहते हैं आंकड़े

राय ने कथित तौर पर सर्किल अधिकारियों पर व्यक्तिगत रूप से हमला किया था और उन्हें “चावल चोर” कहा. बीजेपी विधायक पर ये भी आरोप है कि उन्होंने कहा कि उनके शरीर में कीड़े पड़ेंगे. इसके साथ ही शिकायत पत्र में कहा गया है कि भाजपा विधायक ने अंचल अधिकारी दीपांकर नाथ को “थप्पड़” मारने की बात कही.

civil-servants-write-to-cm-himanta-biswa-sarma-accuse-bjp-mla-of-misbehaving-with-on-duty-officers-in-assam

ये भी पढ़ें -: Ajmer Sharif Dargah को हिन्दू मंदिर बताने वाले राजवर्धन सिंह का नया दावा…

“सिविल सेवकों पर शारीरिक शोषण और अपमानजनक टिप्पणियों की कई घटनाओं ने हमारे राज्य को अतीत में कई बार हिलाकर रख दिया है, हाल ही में असंसदीय भाषा के गंभीर उपयोग और विधायक लखीपुर द्वारा ड्यूटी पर अधिकारियों की हिंसक धमकी ने सिविल सेवा कार्यालयों की बिरादरी को बुरी तरह से ध्वस्त कर दिया है.

ये भी पढ़ें -: एनसीबी बोली – आर्यन खान को फंसाने की रची गई साजिश… किस ओर इशारा ?

ये भी पढ़ें -: मंदिर-मस्जिद विवाद के बीच भावुक हुवे मदनी- बात अखंड भारत की करते हैं, पर सब चीजें बांटने की कोशिश करते हैं

ये भी पढ़ें -: दोगुने हुए 500 रुपये के नकली नोट, जानिए बाकी नोटों का क्या है हाल…

सोर्स – ndtv.in


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-