Politics

BJP से निकाले जाने पर बोले नवीन जिंदल- मैं अपने शब्द वापस लेता हूं, धार्मिक भावनाओं…

Naveen Jindal On Suspension
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Naveen Jindal On Suspension: भारतीय जनता पार्टी (BJP) से निष्कासित किए गए पार्टी की दिल्ली इकाई के प्रवक्ता नवीन कुमार जिंदल (Naveen Jindal) ने रविवार को कहा कि उनका इरादा किसी की भी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का नहीं था. नवीन जिंदल ने कहा कि मुझे और मेरे परिवार को लगातार धमिकयां मिल रही हैं, इसे लेकर मैंने ईस्ट डिस्ट्रिक्ट की डीसीपी और दिल्ली पुलिस से शिकायत की है. मेरे से संबंधित लेटर को सार्वजनिक किया गया, जिस पर मेरा पता भी लिखा है, उसे हटाया जाए.

पार्टी से निष्कासित करने के सवाल पर कहा कि पार्टी का कार्यकर्ता हूं, जो भी निर्णय होगा स्वीकार है. विवादित ट्वीट को लेकर बोलते हुए नवीन जिंदल भावुक हो गये, उनकी आंखें नम हो गयीं. उन्होंने कहा कि 1 जून को हिन्दू देवी देवताओं को लेकर विवादित ट्वीट किया गया था, अपशब्द लिखे गए थे, उसके रिएक्शन में मैने ट्वीट किया था, लेकिन उसमें वही लिखा जो तथ्य है.

ये भी पढ़ें -: अरबों से मुक़ाबला करने के लिए रवीश कुमार ने की अक्षय कुमार से अपील, लिखा पत्र

जिंदल ने आगे कहा कि फिर भी अगर मेरे ट्वीट से किसी की भावनाओं को ठेस पहुंची है तो मैं अपने शब्द वापस लेता हूं. दिल्ली प्रदेश BJP के अध्यक्ष आदेश गुप्ता (Adesh Gupta) की ओर से जिंदल को जारी एक पत्र में कहा गया, ‘आपकी प्राथमिक सदस्यता तत्काल समाप्त की जाती है और आपको पार्टी से निष्कासित किया जाता है.

कुमार ने एक जून को पैगंबर मोहम्मद (Prophet Muhammad) के बारे में उल्लेख करते हुए एक ट्वीट किया था. इसके बाद से उनकी आलोचना हो रही थी. पार्टी ने कहा कि सोशल मीडिया पर उनकी टिप्पणियों ने सांप्रदायिक सद्भाव को बिगाड़ने का काम किया. जिंदल ने कहा कि उन्हें इस बात की जानकारी नहीं है कि उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है. उन्होंने बताया कि उन्हें अभी तक प्रदेश अध्यक्ष गुप्ता का पत्र भी नहीं मिला है.

ये भी पढ़ें -: नूपुर शर्मा के बयान पर क़तर ने भारतीय राजदूत को तलब किया, कहा- माफी मांगे भारत

जिंदल ने कहा कि हिंदू देवी-देवताओं का अपमान करने व उनपर हमले करने वालों से सवाल पूछते हुए उन्होंने एक सवाल उवाल उठाया था और उनका किसी समुदाय से जुड़े लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का कोई इरादा नहीं था. गुप्ता ने जिंदल को लिखे पत्र में कहा कि उनके विचार पार्टी की वास्तविक विचारधारा के विपरीत है. उन्होंने कहा, ‘आपने पार्टी की विचारधारा और नीतियों के खिलाफ जाकर काम किया है.

ये भी पढ़ें -: मोहन भागवत के बयान पर बोले परमहंस आचार्य- उम्र ज्यादा हो गई है जबान फिसल रही है

ये भी पढ़ें -: Salman Khan को लेटर के जरिए मिली धमकी, मुंबई पुलिस आई हरकत में…

ये भी पढ़ें -: Kangana Ranaut: ‘धाकड़’ के फ्लॉप शो पर पहली बार बोली कंगना रनोट, पढ़ें विस्तार से…

सोर्स – abplive.com. Naveen Jindal On Suspension


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-