Politics

BJP सांसद जनार्दन मिश्रा ने सरपंच के भ्रष्टाचार को बताया जायज, बोले- 15 लाख रुपये तक…

bjp-mp-janardan-mishra-says-no-complaint-against-sarpanch-for-corruption-up-to-15-lakhs
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Janardan Mishra On Sarpanch Corruption : मध्य प्रदेश में रीवा से बीजेपी सांसद जनार्दन मिश्रा (BJP MP Janardan Mishra) एक बार फिर विवादों में आ गए हैं। विवादित बयानों के लिए मशहूर जनार्दन मिश्रा ने अब सरपंचों को भ्रष्टाचार की छूट देने की वकालत कर दी है। जनार्दन मिश्रा ने कहा है कि सरपंच 15 लाख रुपये तक का भ्रष्टाचार करे तो उसकी शिकायत नहीं करनी चाहिए। उनके बयान का वीडियो (Janardan Mishra Viral Video) वायरल हो रहा है। सांसद मिश्रा कई बार अपने बयानों से बीजेपी को भी मुश्किल में डाल चुके हैं। वो जब भी मुंह खोलते हैं, विवाद शुरू हो जाता है।

जनार्दन मिश्रा ने करीब एक महीने पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर विवादित बयान दिया था। रीवा सांसद ने कहा था कि पीएम आवास पीएम मोदी की दाढ़ी (pm awas yojna in modi beard) से निकलते हैं। मोदी की दाढ़ी में घर ही घर है। एक बार हिलाते तो 50 लाख, दूसरी बार मटकाते हैं तो एक करोड़। जितनी बार हिलाएंगे, घर-घर मिलेंगे। इसलिए आप लोग मोदी की दाढ़ी देखो, जब देखना बंद कर दोगे आवास मिलने भी बंद हो जाएंगे। जब तक मोदी की दाढ़ी रहेगी, आवास मिलता रहेगा। मोदी की दाढ़ी अमर है और तुम्हारे आवास भी अमर हो जाएंगे। इसलिए मोदी की दाढ़ी देखते रहो और आवास पाते रहो।

यह भी पढ़ें -: महात्मा गांधी को लेकर अपशब्द बोलने वाले संत कालीचरण के खिलाफ FIR दर्ज, जानें पूरा मामला

इससे पहले जून, 2020 में उन्होंने महिलाओं को शराब और नशे का आदी बताया था। एक प्रेस कांफ्रेंस में सांसद ने कहा था कि जब महिलाएं और युवतियां नशा करती हैं तो फिर शराब बिक्री करने में क्या हर्ज है। देश में महिलाएं लगातार शराब पी रही हैं। 16 साल की बच्चियां कोरेक्स और नशीली गोलियों का सेवन कर रही हैं। सांसद ने शराब दुकानों में महिलाओं की ड्यूटी को लेकर यह विवादित बयान दिया था।

बयानवीर सांसद ने नवंबर 2019 में पुलिसकर्मियों का गला दबाकर मारने का बयान दिया था। बीजेपी के किसान आक्रोश आंदोलन के दौरान उन्होंने कहा था कि अगर कांग्रेस या पुलिस का कोई व्यक्ति किसानों से वसूली करने आएगा तो उसका हाथ तोड़ देंगे। उसका गला दबाकर मौत के घाट उतार दिया जाएगा। सितंबर 2019 में मिश्रा ने रीवा के तत्कालीन निगम आयुक्त और आईएएस अधिकारी सभाजीत यादव को जिंदा गाड़ने की धमकी दी थी। उन्होंने आम लोगों को भी ऐसा करने के लिए उकसाया था।

यह भी पढ़ें -: चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव में AAP का दबदबा, बीजेपी को लगा झटका

एक बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा था कि जब निगम आयुक्त आपसे पैसे मांगने आए तो मुझे बुलाना। मैं आऊंगा और एक गड्ढा खोदकर उसे जिंदा गाड़ दूंगा। मैं नहीं आ सका तो आप लोगों को ये करना होगा। इसलिए सभी लोग कुदाल और कुल्हाड़ी नुकीली करके रखवा लो।

सांसद जनर्दन मिश्रा हालांकि कई बार अच्छे कामों के लिए भी चर्चा में रहते हैं। कोरोना की पहली दोनों लहरों के दौरान वे लोगों की मदद करते हुए नजर आए थे। उन्होंने घर-घर जाकर गरीबों को राशन और मास्क बांटे थे। उन्होंने घर में मास्क बनाने का काम भी शुरू किया था। वे खुद जरूरतमंद लोगों को मास्क बांटने जाते थे। उनकी इस पहल को सोशल मीडिया पर काफी सराहा गया था। इसके लिए पीएम मोदी ने भी उनकी तारीफ की थी।

यह भी पढ़ें -: साइकिल से चलता है मजदूर लेकिन एआरटीओ ने कार टैक्स का भेज दिया डेढ़ लाख का नोटिस

यह भी पढ़ें -: BMW पर धूल गिरी तो अंडरवियर में बीच सड़क पर लड़ते दिखे DSP, फिर पड़ोसी पर ही दर्ज करा दिया केस

सोर्स – navbharattimes.indiatimes.com.  Janardan Mishra On Sarpanch Corruption


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-