Politics

पंजाब मैं टंकी पर चढ़ प्रदर्शन कर रहे शिक्षक से केजरीवाल बोले- नीचे आ जाओ, नहीं तो धरने पर बैठ जाऊंगा

arvind-kejriwal-mohali-visit-meet-contractual-teachers-protesting-promise-for-jobs-permanent
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

Arvind Kejriwal Mohali Visit,  Punjab Election 2022: पंजाब विधानसभा चुनाव के चंद महीने बचे हैं. ऐसे में आम आदमी पार्टी (AAP) अपनी सियासी जमीन मजबूत करने में जुटी हुई है. इसी के मद्देनजर आज यानी शनिवार को आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पंजाब के मोहाली पहुंचे. यहां उन्होंने पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड के बाहर धरना-प्रदर्शन कर रहे शिक्षकों से मुलाकात की. बता दें कि अस्थायी शिक्षक, नौकरी स्थायी करने की मांग को लेकर पिछले 165 दिन से प्रदर्शन कर रहे हैं.

इस दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने टंकी पर चढ़े शिक्षकों को नीचे उतरने के लिए कहा. वहीं, एक शिक्षक से मजाकिया अंदाज में उन्होंने कहा कि नीचे आ जाओ, नहीं तो मैं धरना पर बैठ जाऊंगा. सीएम केजरीवाल ने अपने भाषण के दौरान कहा, “हमारी दिल्ली में शिक्षा व्यवस्था बहुत अच्छी है. वहां के शिक्षकों को विदेशों में ट्रेनिंग दी जाती है. मैं उम्मीद करता हूं कि आज पंजाब सरकार आप लोगों को टीवी के माध्यम से देख रही होगी और वो आज आप लोगों की समस्या का समाधान कर देगी. अगर राज्य सरकार समाधान नहीं निकालती है, तो हमलोग मिलकर चुनाव में उनको हराएंगे.

यह भी पढ़ें -: रिटायर्ड असिस्टेंट कमिश्नर का बड़ा आरोप- परमबीर सिंह ने नष्ट किया था आतंकी कसाब का फोन…

केजरीवाल ने प्रदर्शनकारी शिक्षकों से कहा कि आम आदमी पार्टी को पंजाब में सरकार बनाने का मौका मिलना चाहिए. उन्होंने दावा किया कि दिल्ली में उनकी सरकार ने शिक्षा व्यवस्था में सुधार किया है और शिक्षकों के मुद्दों का समाधान किया है. केजरीवाल ने शिक्षकों की मांग नहीं मानने के लिए पूर्ववर्ती कांग्रेस और अकाली सरकार की आलोचना की. उन्होंने कहा, “मैं आज यहां आया हूं और आपसे वादा करता हूं हमारी सरकार आने पर मैं आप लोगों की नौकरी स्थायी कर दूंगा. मैंने दिल्ली में शिक्षकों के मुद्दों को सुलझाया है. इसलिए हम पंजाब में भी मुद्दों का समाधान निकालेंगे.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, “मैं यहां इन अध्यापकों का समर्थन करने के लिए आया हूं. अध्यापक 6,000 रुपये की तनख्वाह पर काम कर रहे हैं. 6,000 रुपये की सैलरी लेकर किसका गुजारा चल सकता है. पंजाब सरकार इनकी मांगों पर विचार करे.” उन्होंने कहा, “6 हजार में कच्चे टीचर्स काम कर रहे हैं. 18 साल से टीचर्स कच्चे होकर ही काम कर रहे हैं. कल सुबह मनीष सिसोदिया 250 स्कूल जारी कर देंगे. 250 परगट सिंह जारी कर दें और फिर डिबेट करते हैं.

यह भी पढ़ें -: खिलाड़ियों ने BJP MP को स्टेडियम में बनाया बंधक, जानें पूरा मामला…

वहीं, स्कूल शिक्षा को लेकर पंजाब के शिक्षा मंत्री परगट सिंह और दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिय एक दूसरे पर निशाना साध रहे हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की ओर से पंजाब के शिक्षकों के साथ वादे करने के बाद परगट सिंह लगातार दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर हमला बोल रहे हैं. परगट ने दिल्ली के उप मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया को दोनों राज्यों के सरकारी स्कूलों की तुलना करने की चुनौती को स्वीकार कर लिया है.

यह भी पढ़ें -: टिकैत का ओवैसी पर निशाना- ये बेलगाम सांड, इसे खुला मत छोड़िए, BJP की मदद करता है…

यह भी पढ़ें -: कृषि कानून वापस लेकिन गुस्सा जारी, शादी कार्ड पर लिखा- BJP-RSS के लोग दूर रहें

सोर्स – abplive.com.  Arvind Kejriwal Mohali Visit


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-