Politics

अपर्णा यादव को फिर करना पड़ा निराशा का सामना, विधान परिषद के लिए भी नहीं मिला टिकट

aparna-yadav-mlc-ticket-bjp
आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के पहले सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव से आशीर्वाद लेकर भाजपा में शामिल हुईं यादव परिवार की छोटी बहू व सामाजिक कार्यकर्ता अपर्णा यादव का इंतजार बढ़ता जा रहा है। भाजपा ने बुधवार को विधान परिषद चुनाव के लिए नौ उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है। इस बार भी उन्हें टिकट नहीं दिया गया है।

भाजपा ने जिन नौ उम्मीदवारों को टिकट दिया है। उनमें से सात मंत्री हैं। हालांकि, यूपी विधानसभा चुनाव के समय कयास लगाए जा रहे थे कि भाजपा अपर्णा को विधानसभा का टिकट दे सकती है पर उन्हें मौका नहीं मिला।

ये भी पढ़ें -: 5वें दिन तक आते-आते Samrat Prithviraj के शोज होने लगे कैंसिल, एक दिन की कमाई रह गई इतनी…

प्रदेश में दो सीटों पर होने वाले लोकसभा उपचुनाव में भी उन्हें प्रत्याशी नहीं बनाया गया। अब विधान परिषद चुनाव में भी उन्हें टिकट नहीं दिया गया। अपर्णा प्रदेश में लगातार भाजपा का प्रचार कर रही हैं लेकिन अभी तक उन्हें किसी भी चुनाव का टिकट नहीं दिया गया है। भाजपा में शामिल होने के समय उन्होंने कहा था कि वह राष्ट्र की सेवा के लिए पार्टी में शामिल हो रही हैं।

aparna-yadav-mlc-ticket-bjp

ये भी पढ़ें -: यति नरसिंहानंद के जामा मस्जिद जाने के ऐलान पर प्रशासन ने नोटिस जारी करते हुवे कहा- गए तो होगी कार्यवाही

अपर्णा यादव ने शिवपाल सिंह यादव को भाजपा में शामिल होने के लिए सलाह दी थी। उन्होंने कहा था कि अगर आना है तो भाजपा अलाकमान से बात करनी चाहिए। अपर्णा ने यह भी कहा था कि फिलहाल इस बारे में उनकी शिवपाल यादव से कोई बातचीत नहीं हुई है।

भाजपा ने विधान परिषद चुनाव के लिए उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, चौधरी भूपेंद्र सिंह, दयाशंकर मिश्र दयालु, जे पी एस राठौर, नरेंद्र कश्यप, जसवंत सैनी, दानिश आजाद अंसारी, बनवारीलाल दोहरे और मुकेश शर्मा को उम्मीदवार बनाया गया है।

ये भी पढ़ें -: राजस्थान राज्यसभा चुनाव को लेकर सुभाष चंद्रा ने किया बड़ा दावा, राजनीतिक गलियारों में हलचल तेज़

ये भी पढ़ें -: महँगाई के बीच RBI ने जले पर छिड़का नमक, जानें कितनी बढ़ जाएगी आपकी EMI…


आर्टिकल को शेयर ज़रूर करें :-